supply of corona vaccine

अग्रिम मोर्चे के तीन करोड़ कर्मियों को मुफ्त टीका, दिल्ली में पूर्वाभ्यास के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का एलान

उन्होंने बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान की तैयारियों के सिलसिले में शनिवार को देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में हुए पूर्वाभ्यास के बीच यह एलान किया।

सब्जी की तरह बेच रहे हैं फतवे, बोले नकवी, कहा- वैक्सीन पर सवाल खड़े करने वाले सेहत के दुश्मन

मंत्री ने कहा इस तरह ये जो फतवे के फर्ज़ी फेडरेशन हैं, ये फेडरेशन हमेशा लोगों को गुमराह करने के लिए खड़े होते हैं। वैक्सीन जब शुरू होगी तो ये फर्ज़ी फेडरेशन वाले सबसे पहले इसे लगा लेंगे।

दिल्ली में नए साल से पहले आ जाएगी कोरोना वैक्सीन? DIAL के सीईओ ने दिया ये अपडेट

डायल सीईओ ने कहा कि कोरोना वैक्सीन डिस्ट्रीब्यूशन से जुड़े बुकिंग स्लॉट के लिए ट्रक मैनेजमेंट सिस्टम है। इसका उद्देश्य कोरोना वैक्सीन को ले जाने वाले ट्रकों का वेटिंग टाइम कम करना है।

Covid-19 Vaccine HIGHLIGHTS: भारतीय वैक्सीन में दुनिया की दिलचस्पी, COVAXIN की तैयारी देखने के लिए 80 देशों के राजनयिक करेंगे भारत बायोटेक का दौरा

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि ‘सामान्य लोगों को यह वैक्सीन कैसे दिया जाएगा? या उन तक कैसे पहुंचाया जाएगा? इसे लेकर सरकार के पास कोई रोडमैप नहीं है।

पहले 30 करोड़ भारतीयों को मिलेगी कोरोना वैक्सीन, पोलिंग बूथ जैसा होगा इंतजाम, जानें- कैसे होगा काम

स्वास्थ्य विभाग के सचिव राजेश भूषण ने प्रजेंटेशन के दौरान कहा कि दिल्ली, महाराष्ट्र, केरल और राजस्थान में तेजी से मामले बढ़ रहे हैं और यह चिंता की बात है।

Covid-19 की होगी छुट्टी! जल्द आने वाली है स्वदेशी कोरोना वैक्सीन, जानें- क्या बोले सरकार के वैज्ञानिक

दवा का आखिरी राउंड का ट्रायल इस महीने शुरू हुआ है। अब तक इस दवा के नतीजे अच्छे और प्रभावी दिखे हैं। इससे पहले भारत बायोटेक ने अगले साल की दूसरी तिमाही तक दवा आने की बात कही थी।

सिर्फ एक बार कोरोना का टीका लगने से खत्म नहीं होगी बीमारी, 20 सालों के लिए दवा की जरूरत: अदार पूनावाला

अदार पूनावाला ने कहा कि वैक्सीन असली हल नहीं है। यह आपकी इम्युनिटी को बूस्ट करती है और आपकी रक्षा करती है। इससे बीमारी का रिस्क कम हो जाता है, लेकिन आप इससे 100 फीसदी नहीं बच सकते।

विश्व परिक्रमा: टीका पहुंचने में हो सकती है देर!

विकासशील देशों में ‘कोल्ड चेन’ बनाने की दिशा में हुई प्रगति के बाद भी दुनिया के 7.8 अरब लोगों में से लगभग तीन अरब लोग ऐसे हैं जिन तक कोविड-19 पर काबू पाने के लिए टीकाकरण अभियान की खातिर तापमान-नियंत्रित भंडारण नहीं है।

संपादकीय: कोरोना का टीका

जितनी जल्दी टीका आएगा, उतना ही हम महामारी से अपने को बचा पाने में सक्षम हो पाएंगे। संकट की गंभीरता को देखते हुए भारत ने टीका बनाने की दिशा में तेजी से कदम बढ़ाए हैं, देश में कई जगह टीकों के परीक्षण चल रहे हैं और सुखद संकेत तो ये हैं कि ज्यादातर मामलों में परीक्षण सफल रहे हैं।

ये पढ़ा क्या?
X