SII

PMO ने शांत कराया SII और Bharat Biotech का “झगड़ा”, पर टीके को कैसे तुरंत मिली मंज़ूरी, यह सस्पेंस अब भी कायम

इससे पहले, एक्सपर्ट कमेटी की मीटिंग के मिनट्स से पता चला था कि भारत बायोटेक को पहले एडिश्नल रिसर्च डेटा जमा करने के लिए कहा गया था। ऐसा इसलिए, क्योंकि कंपनी ने अपना फेज-3 (वैक्सीन का) का ट्रायल पूरा नहीं किया था।

SII ने जारी की कोरोना टीके की कीमत, बताया कितने की मिलेगी एक खुराक

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने बताया कि भारत सरकार ने कोविड-19 टीके कोविड शील्ड की खरीद के लिए कंपनी से संपर्क किया है।

भारतः जनवरी में चालू हो सकता है COVID-19 Vaccination, अक्टूबर तक हो सकते हैं पहले जैसे हालात- बोले SII चीफ

बकौल पूनावाला, “इस महीने के अंत तक हम कोरोना वैक्सीन के लिए इमरजेंसी लाइसेंस पा सकते हैं, पर बड़े स्तर पर इस्तेमाल के लिए असल लाइसेंस चाहिए होगा, जो कि हो सकता है कि बाद में मिले।”

‘Asian of the Year’ सम्मान के लिए चुने गए अदार पूनावाला, SII के हैं मुख्य कार्यकारी अधिकारी

‘द स्ट्रेट्स टाइम्स’ के मुताबिक इन्हें ‘द वायरस बस्टर्स’ का विशेषण दिया गया है जो अपनी क्षमतानुसार कोरोना वायरस महामारी को खत्म करने के प्रयास में जुटे हैं।

कोरोना से जंग: भारत को देसी वैक्सीन से उम्मीद, पीएम को सलाह देने वाली कमिटी के मुखिया ने कहा

विनोद पॉल ने न्यूज ब्रीफिंग में कहा कि एस्ट्राजेनेका वैक्सीन का भारत में अंतिम चरण का ट्रायल चल रहा है और यह लगभग पूरा होने वाला है।

मॉडर्ना ने अपने टीके को कोरोना वायरस के खिलाफ 94.5 प्रतिशत प्रभावी बताया

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने सोमवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में दोबारा लॉकडाउन लगाने का कोई इरादा नहीं है, क्योंकि कोविड-19 की तीसरी प्रचंड लहर यहां से गुजर चुकी है।

आज का राशिफल
X