shani upay

नए साल में इन राशियों पर चल रही है शनि साढ़ेसाती, जानिये- इससे बचने की क्या है मान्यता

शनि की इस स्थिति के कारण धनु, मकर और कुम्भ राशि पर साढ़ेसाती चल रही है। ये साढ़े साती तीनों राशियों में जनवरी 2020 से चल रही है जो 2021 में भी रहेगी।

शनि की ढैय्या से हैं परेशान तो शनिवार को करें ये 4 उपाय, नकारात्मक प्रभावों से मुक्ति मिलने की है मान्यता

जिन लोगों की राशि में शनि की ढैय्या चलती है उन्हें उसके सकारात्मक और नकारात्मक प्रभावों को सहना पड़ता है। लोग नकारात्मक प्रभावों को शनिदेव का प्रकोप मानते हैं।

शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए शनिवार की शाम करें ये 3 उपाय, धन प्राप्ति की है मान्यता

माना जाता है कि धन प्राप्ति के लिए सबसे जल्दी शनिदेव ही पुकार सुनते हैं। ऐसी मान्यता भी है कि शनिवार की शाम कुछ उपाय करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं और धन प्राप्ति के योग बनते हैं।

Shani Sade Sati 2020: धनु, मकर और कुंभ वालों को शनि साढ़े साती कैसा देगी फल, जानिए

Shani Sade Sati Effects: वृश्चिक वालों पर साढ़ेसाती समाप्त हो चुकी है। तो वहीं धनु वालों पर इसका अंतिम चरण, मकर वालों पर इसका दूसरा चरण तो कुंभ वालों पर इसका पहला चरण चल रहा है।

इन 5 राशियों पर चल रही है शनि साढ़े साती और ढैय्या, उपाय के लिए सावन शनिवार रहेगा खास

शनिवार के दिन शनि पूजा करना बेहद ही फलदायी बताया गया है। खासकर सावन के महीने में आने वाले शनिवार शनि दोष से मुक्ति पाने के लिए और भी अधिक महत्वपूर्ण माने जाते हैं। 25 जुलाई शनिवार के दिन नाग पंचमी (Nag Panchami) भी पड़ रही है। जिस कारण यह दिन शनि पूजा के लिए उत्तम रहने वाला है।

सावन शनिवार में इन ज्योतिषीय उपायों से शनि साढ़े साती और ढैय्या से मुक्ति मिलने की है मान्यता

Shani Sade Sati: कहा जाता है कि सावन के महीने में महादेव की पूजा के साथ ही हर मंगलवार को हनुमान जी की पूजा करने से शनि की साढ़े साती का प्रभाव कम होता है

Shani Sade Sati: इन 3 राशियों पर है शनि साढ़े साती, शांति के लिए सावन शनिवार के दिन करें ये ज्योतिषीय उपाय

स्कंदपुराण के अनुसार श्रावण मास (Sawan 2020) के शनिवार को नृसिंह भगवान, शनिदेव, हनुमान जी के साथ महादेव शिव शंकर की पूजा करनी चाहिए। ऐसा करने से शनि साढ़े साती (Shani Sade Sati) और शनि ढैय्या (Shani Dhaiya) से पीड़ित जातकों को राहत मिलती है।

Shani Upay: सितंबर तक इन 5 राशियों के लोग रहें सावधान, शनि की रहेगी टेढ़ी नजर

Shani Sade Sati Or Dhaiya 2020: शनि साढ़े साती की बात करें तो ये धनु, मकर और कुंभ राशि के जातकों पर चल रही है। धनु वालों पर इसका अंतिम चरण, मकर वालों पर दूसरा चरण और कुंभ वालों पर इसका प्रथम चरण चल रहा है।

Shani Dev: 5 राशि के जातकों पर शनि की है टेढ़ी नजर, 29 सितंबर तक का समय रहेगा भारी

Shani Effects On Rashi: ज्योतिष अनुसार 21 जून को लगने वाले सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) में शनि की वक्री चाल का प्रभाव 5 राशि वालों पर विशेष रूप से पड़ेगा। ये 5 राशियां हैं मिथुन, तुला, धनु, मकर और कुंभ।

Shani Upay: शनि साढ़े साती से व्यापार, नौकरी, वैवाहिक जीवन में आती हैं परेशानी, जानिए क्या हैं उपाय

Shani Dev: शनिवार का दिन भगवान शनि का माना जाता है। इस दिन काला तिल, आटा और शक्कर मिलाकर काली चीटियों को खिलाएं। इससे शनिदेव प्रसन्न होते हैं।

Shani Jayanti 2020: 59 साल बाद शनि जयंती पर अद्भुत संयोग, 5 राशि वालों को मिलेगा फायदा

Shani Birthday 2020: ज्येष्ठ अमावस्या के दिन शनि जयंती (Shani Jayanti) मनाई जाती है। साथ ही इस दिन महिलाएं वट सावित्री व्रत (Vat Savitri Vrat) भी रखती हैं। मान्यताएं हैं इस व्रत को रखने से अखंड सौभाग्य की प्राप्ति होती है। मेष, वृषभ, मिथुन, कन्या और मकर वालों के लिए शनि जयंती का दिन बेहद ही खास रहने वाला है।

Shani Jayanti 2020: शनि के प्रकोप से मुक्ति पाने के लिए शनि जयंती पर ऐसे करें पूजा अर्चना

Shani Jayanti Puja Vidhi And Upay: ऐसी मान्यता है कि इस दिन शनिदेव की पूजा करने से शनि साढ़ेसाती, ढैय्या और महादशा से मुक्ति मिल जाती है। इस दिन शनि चालीसा और शनि स्त्रोत का पाठ करना भी काफी फलदायी माना गया है।

शनि की वक्री चाल के बुरे प्रभाव से बचने के लिए बताए गए हैं ये ज्योतिषीय उपाय

Shani Upay: शनि की ये उल्टी चाल उन राशि वालों के कष्ट बढ़ाएगी जिन पर शनि की साढ़े साती (Shani Sade Sati) या फिर ढैय्या चल रही है। तो ऐसे में शनि को शांत करना बेहद जरूरी है क्योंकि शनि का वक्री होना अच्छा संकेत नहीं है।

चुनावी चैलेंज
X