shani sade sati 2020

आज का पंचांग, 22 मई 2020: शनि जयंती और वट सावित्री व्रत आज, जानिये पूजा का शुभ मुहूर्त और राहुकाल

22 May 2020 Panchang: आज नक्षत्र कृत्तिका, योग शोभन है। सूर्य और चंद्र वृषभ राशि में रहेंगे। अमावस्या तिथि की शुरुआत 21 मई से हो चुकी है और इसकी समाप्ति 22 मई यानी आज रात 11 बजकर 08 मिनट पर होगी। आज तमिल हिंदुओं द्वारा मनाया जाने वाला त्योहार मासिक कार्तिगाई भी है। जानिए 22 मई 2020 का पंचांग विस्तार से…

Shani Jayanti 2020: 59 साल बाद शनि जयंती पर अद्भुत संयोग, 5 राशि वालों को मिलेगा फायदा

Shani Birthday 2020: ज्येष्ठ अमावस्या के दिन शनि जयंती (Shani Jayanti) मनाई जाती है। साथ ही इस दिन महिलाएं वट सावित्री व्रत (Vat Savitri Vrat) भी रखती हैं। मान्यताएं हैं इस व्रत को रखने से अखंड सौभाग्य की प्राप्ति होती है। मेष, वृषभ, मिथुन, कन्या और मकर वालों के लिए शनि जयंती का दिन बेहद ही खास रहने वाला है।

Shani Jayanti 2020: शनि के प्रकोप से मुक्ति पाने के लिए शनि जयंती पर ऐसे करें पूजा अर्चना

Shani Jayanti Puja Vidhi And Upay: ऐसी मान्यता है कि इस दिन शनिदेव की पूजा करने से शनि साढ़ेसाती, ढैय्या और महादशा से मुक्ति मिल जाती है। इस दिन शनि चालीसा और शनि स्त्रोत का पाठ करना भी काफी फलदायी माना गया है।

Shani Vakri/Retrograde 2020: कुछ ही दिनों में शनि होने जा रहे हैं वक्री, शनि साढ़े साती से पीड़ित जातक हो जाएं सतर्क

Shani Vakri 2020 Effects: अब 11 मई को शनि अपनी वक्री (Shani Vakri) चाल चलेंगे यानी कि उल्टी चाल। शनि की ये चाल ज्योतिष अनुसार अच्छी नहीं मानी जाती जो खासकर उन लोगों को परेशान करती है जिन पर शनि की साढ़े साती (Shani Sade Sati) या फिर ढैय्या (Shani Dhaiya) चल रही हो। लेकिन ऐसा भी नहीं है कि शनि की उल्टी चाल परेशान ही करें।

May Horoscope 2020: शनि की उल्टी चाल से मई माह में इन 5 राशि वालों के बढ़ेंगे कष्ट, हो जाएं सावधान

शनि का राशि परिवर्तन (Shani Rashi Parivartan) हर ढाई साल में होता है। अब 11 मई को शनि (Shani Vakri) इसी राशि में अपनी उल्टी चाल चलेंगे। शनि की ये चाल उन जातकों को ज्यादा परेशान करेगी जो पहले से ही शनि ढैय्या या फिर शनि साढ़े साती (Shani Sade Sati) की चपेट में हैं।

Vakri Shani 2020: 3 राशि वालों को शनि की उल्टी चाल करेगी परेशान, जानिए कब इन्हें शनि साढ़े साती से मिलेगी मुक्ति

Shani Vakri (Saturn Retrograde) 2020 Date: शनि जब भी अपनी उल्टी चाल चलते हैं तो इनका सबसे ज्यादा असर उन राशि के जातकों पर पड़ता है जिन पर शनि की साढ़े साती या फिर ढैय्या चल रही होती है। इस समय मकर, कुंभ और धनु वालों पर शनि साढ़े साती (Shani Sade Sati) चल रही है और मिथुन और तुला वालों पर शनि की ढैय्या (Shani Dhaiya)।

Shani Vakri 2020: क्यों क्रूर ग्रह माने जाते हैं शनि? जानिए कब हो रहे हैं ये वक्री और किनकी बढ़ेंगी परेशानी

Saturn Retrograde (Shani Vakri) 2020 Effects: 11 मई को शनि वक्री हो रहे हैं जिसे शनि की उल्टी चाल माना जाता है। इस स्थिति में शनि उन लोगों को ज्यादा परेशान करते हैं जिन पर शनि की साढ़े साती (Shani Sade Sati) या फिर ढैय्या (Shani Dhaiya) चल रही हो।

Shani Vakri/Saturn Retrograde 2020: वक्री शनि किन 5 राशि के लोगों को करेंगे परेशान? जानिए

Shani Vakri 2020 Date: 11 मई से शनि उल्टी चाल चलने लगेंगे। जो 29 सितंबर तक इसी अवस्था में रहेंगे। ऐसे में शनि उन राशि के जातकों को ज्यादा परेशान करेंगे जो पहले से ही इसके प्रभाव में हैं यानी जिन जातकों पर शनि की साढ़े साती (Shani Sade Sati) या फिर ढैय्या (Shani Dhaiya) चल रही है।

Shani Sade Sati 2020: इन राशियों पर है शनि साढ़े साती का प्रभाव, अब शनि की उल्टी चाल करेगी परेशान, जानिए उपाय

Shani Sade Sati, Shani Vakri 2020: न्याय के देवता शनि भक्तों के संपूर्ण कर्मों का लेखा-जोखा अपने साथ रखते हैं, इसलिए किसी भी व्यक्ति के भविष्य के बारे में संकेत करने के लिए जन्मपत्रिका में शनि का कितना प्रभाव है, ये जानना बहुत जरूरी है।

अगले ढाई सालों तक इन 5 राशियों को शनि करेंगे परेशान, जानिए ज्योतिषीय उपाय

11 मई को शनि मकर राशि में उल्टी चाल (Shani Vakri) चलने लगेंगे। जिससे इनके प्रभाव में आई राशियों के कष्ट और भी ज्यादा बढ़ जायेंगे। अगर शनि आपकी कुंडली में मजबूत स्थिति में है तो शनि की ये चाल आपको लाभ भी पहुंचा सकती है।

Shani Gochar 2020: किन पर रहेगी शनि साढ़े साती और किन पर ढैय्या, जानिए शनि को शांत करने के उपाय और किनके लिए शुभ हैं शनिदेव

Shaturn Transit 2020: अगर शनि अष्टम व द्वादश भाव में है तो अपार कष्ट प्राप्त होता है। साढ़ेसाती लगभग साढ़ेसात साल और अढ़ैया ढाई साल चलती है। हर किसी के जीवन साढ़ेसाती हर 30 साल में अवश्य आती है।

Shani Gochar 2020: शनि ने मकर राशि में किया प्रवेश, दिलकश प्लेनेट माने जाते हैं शनिदेव

Shani Transit 2020: शनि यानी सौर मंडल का सबसे हसीन ग्रह। जिसकी अदा और सूरत से पहली नजर में ही इश्क हो जाए। किसी महबूब की तरह। उसके इर्द गिर्द खूबसूरत छल्ले मानो उसे बोसे देते रहते हैं।

Saturn Transit (Shani Ka Rashi Parivartan) 2020: शनि ने बदली राशि, इन 5 राशियों के लोग हो जाएं सतर्क

Shani Sade Sati And Dhaiya 2020: शनि का गोचर आज दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर मकर राशि (Shani Rashi Parivartan) में होने जा रहा है। इसके बाद शनि 2022 की अप्रैल तक इसी राशि में विराजमान रहेंगे। जानिए आपकी राशि पर शनि कैसा प्रभाव डालने वाले हैं…

Shani Rashi Parivartan 2020: शनि के राशि परिवर्तन से 5 राशियों के लोग हो जाएं सतर्क, जानिए शनिदेव की जन्म कथा

Shani Gochar 2020: 24 जनवरी को शनि अपनी राशि मकर में प्रवेश करने जा रहे हैं। जिसका प्रभाव सभी राशियों के जातकों पर पड़ेगा। शनि सौर जगत के नौ ग्रहों में से सातवें ग्रह हैं। ज्योतिष में शनि को अशुभ ग्रह माना जाता है। जानिए कैसे हुआ दंड कारक शनिदेव का जन्म (Shani Dev Birth Story)…

Shani Sade Sati 2020: आज मकर राशि में प्रवेश करेंगे शनिदेव, जानिए किस राशि पर क्या पड़ेगा असर

Shani Gochar 2020 (Shani Rashi Parivartan 2020 Time): शनि मौनी अमावस्या (Mauni Amavasya) के दिन 24 जनवरी को अपनी राशि बदलने जा रहे हैं। इनका राशि परिवर्तन हर ढाई साल में होता है। 24 जनवरी के बाद साल 2022 में शनि अपनी राशि बदलेंगे। जानिए शनि के मकर राशि (Makar Rashi) में गोचर करने का सभी राशियों पर क्या पड़ने वाला है प्रभाव…

Shani Rashi Parivatan (Saturn Transit) 2020: शनि राशि परिवर्तन का सभी राशियों पर क्या पड़ेगा प्रभाव, कुंभ वालों पर शनि साढ़े साती होगी शुरू

Shani 2020 Gochar: शनि के राशि परिवर्तन का सबसे ज्यादा प्रभाव 5 राशि वालों पर पड़ने जा रहा है। मकर और धनु वालों पर पहले से ही शनि की साढ़े साती चल रही है। अब कुंभ वालों पर भी इसका पहला चरण शुरू हो जायेगा।

शनि राशि परिवर्तन 2020: कुंभ वालों पर शनि की साढ़े साती हो रही है आरंभ, जानिए इससे बचने के उपाय

Shani Sade Sati Effects And Upay: 24 जनवरी से शनि मकर राशि में गोचर करने लगेंगे। मकर और धनु वालों पर पहले से ही शनि की साढ़े साती चल रही है। अब कुंभ राशि वालों (Shani Sade Sati On Kumbh Rashi) पर इसका पहला चरण शुरू हो जायेगा। जानिए शनि साढ़े साती का प्रभाव और उससे बचने के उपाय…

Shani Rashi Parivartan 2020: शनि बदलेंगे अपनी राशि, जानिए भगवान हनुमान की पूजा से क्यों प्रसन्न होते हैं शनिदेव

Shani Sade Sati And Dhaiya Upay: धार्मिक मान्यताओं अनुसार शनिदेव भगवान हनुमान की उपासना करने से प्रसन्न होते हैं। इस बात का जिक्र कई पौराणिक कथाओं में मिलता है। कहा जाता है कि जो भक्त सच्चे मन से श्री राम भक्त हनुमान की पूजा करते हैं उन्हें शनिदेव कभी परेशान नहीं करते। जानिए भगवान हनुमान की अराधना से क्यों और कैसे प्रसन्न होते हैं शनि महाराज…