Sachin Tendulkar

पूर्व ओपनर ने डेब्यू से पहले ही वीरेंद्र सहवाग को बता दिया था अगला सचिन तेंदुलकर, कपिल शर्मा के शो में वीरू ने खुद खोला था राज

सहवाग ने भारत के लिए 104 टेस्ट में 23 शतकों की मदद से 8586 रन बनाए। इस दौरान उनका औसत 49.3 का रहा। 251 वनडे में उन्होंने 8273 और 19 टी20 में 394 रन बनाए। वनडे में उनके नाम 15 शतक हैं।

IPL 2020: कैच लेने के दौरान संजू सैमसन को सिर पर लगी चोट, सचिन तेंदुलकर को याद आई 28 साल पुरानी घटना; VIDEO

जब केकेआर की पारी अपने अंतिम चरण की ओर बढ़ रही थी, तब पैट कमिंस ने टॉम करन की गेंद को बाउंड्री से बाहर भेजने का प्रयास किया। कमिंस अपने शॉट को ठीक से टाइम करने में नाकाम रहे। सैमसन ने उनका कैच ले लिया।

निकोलस पूरन की फील्डिंग देख ‘फटी’ रह गईं सचिन की आंखें, सहवाग ने कहा- ग्रैविटी नामक चीज ही भुला दी; देखें video

मैच में राजस्थान ने आईपीएल इतिहास में सबसे बड़ा टारगेट हासिल करते हुए पंजाब को 4 विकेट से हरा दिया। पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 2 विकेट पर 223 रन बनाए। जवाब में राजस्थान ने 19.3 ओवर में 6 विकेट पर 226 रन बना लिए। आईपीएल में यह सबसे बड़ रन चेज है।

KXIP vs RCB: केएल राहुल ने जड़ी IPL 2020 की पहली सेंचुरी, रिकॉर्ड्स की लगाई जड़ी

राहुल ने पंजाब की पारी के आखिरी दो ओवर में 6 छक्के लगाए। 19वां ओवर फेंकने आए दुनिया के सबसे तेज गेंदबाजों में शामिल डेल स्टेन की उन्होंने जमकर क्लास लगाई। स्टेन के ओवर में राहुल और करुण नायर ने मिलकर 26 रन बना दिए।

‘सचिन को देखकर हो गया था ‘ब्लैंक’, कैफ के कारण 0 पर आउट कर पाया,’ भुवनेश्वर ने बताई थी करियर बदलने वाली मैच की स्टोरी

उत्तर प्रदेश की ओर से खेलते हुए भुवनेश्वर ने अपने स्पैल की 14वीं गेंद पर सचिन को आउट किया था। दाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज की कटर सचिन के बल्ले का अंदरूनी किनारा लेते हुई पैड से टकराई और हवा में उछल गई। डीप शॉर्ट लेग पर खड़े शिवाकांत ने उनका कैच लिया।

मुंबई इंडियंस को हारता देख सचिन तेंदुलकर ने खो दिया था आपा, मैदान पर बल्ला पटक उतारी थी खीज; देखें Video

सचिन तेंदुलकर ने उस मैच में 45 गेंद में 48 रन बनाए थे। अभिषेक नायर 26 गेंद में 27 रन बनाकर आउट हुए। इन दोनों के अलावा अंबाती रायुडू (14 गेंद 21 रन) और कीरोन पोलार्ड (10 गेंद 27 रन) ही दहाई का आंकड़ा छू पाए।

‘विराट कोहली पहले मेरी तरह बिगड़ैल थे, BCCI ने उन्हें ब्रांड बनाया’, बोले शोएब अख्तर

कोहली ने 2008 में पहला वनडे, 2010 में पहला टी20 और 2011 में पहला टेस्ट खेला था। उनके 86 टेस्ट में 7240, 248 वनडे में 11867 और 82 टी20 में 2794 रन हैं।

‘रात में 2 बजे बैटिंग कर रहे थे सचिन तेंदुलकर, अगले दिन सिडनी में ठोक दिया शतक,’ सौरव गांगुली ने सुनाया किस्सा

सौरव गांगुली ने बताया था कि सचिन ने वर्ल्ड कप में उन्हीं के बल्ले से रन ठोके थे। बीच-बीच में जब सचिन से रन नहीं बनते थे, तो वह ढूंढता था बैट। मैं भी हैवी बैट से खेलता था। वह आकर उठाए उसे लेकर खेलने चला जाता था।’

प्रज्ञान ओझा ने ऑस्ट्रेलिया के जबड़े से छीन ली थी जीत, सचिन तेंदुलकर के विदाई मैच में बने थे हीरो

प्रज्ञान ओझा ने भारत के लिए 24 टेस्ट में 113 विकेट लिए थे। इस दौरान 5 बार पारी में 4 और 7 बार पारी में 5 विकेट लिए। ओझा ने 18 वनडे मुकाबलों में 21 विकेट झटके। वहीं, 6 टी20 में 10 विकेट अपने नाम किए। बांए हाथ के इस स्पिन गेंदबाज ने इसी साल संन्यास लिया था।

मैच हारने पर रोने लगे थे सचिन तेंदुलकर, गुस्से में सौरव गांगुली से कहा था- टीम में रहना है तो सुबह में दौड़ना होगा

गांगुली ने सचिन के बारे में बताया, ‘‘पहली बार सचिन को तब देखा था। लंबे-लंबे बाल थे। मुंबई से वह था तो उसका नाम ज्यादा लिया जाता था, क्योंकि उस दौर में मुंबई के खिलाड़ियों को लेकर शोर ज्यादा मचता था। सचिन को नेट से निकालना पड़ता था। वह सिर्फ बल्लेबाजी करते रहता था।’’

DRS से परहेज पर महेंद्र सिंह धोनी से नाराज थे शशि थरूर, कहा- मोटिवेशनल कप्तान नहीं थे सचिन तेंदुलकर

थरूर ने बताया, ‘जब बीसीसीआई ने 2016 में भारत-इंग्लैंड सीरीज के दौरान इसका इस्तेमाल करने की इजाजत दी तब मुझे राहत मिली। डीआरएस बहुत बड़ा इनोवेशन है। मैं इंटरेशनल क्रिकेट बिना डीआरएस के नहीं देखना चाहता।’

सचिन से मिलने के लिए विराट कोहली ने दो दिन तक की थी तैयारी, लेकिन साथियों ने माथा टेकने की दी ‘धमकी’

सचिन से तुलना पर विराट ने कहा, ‘‘उनसे मेरी तुलना हो नहीं सकती। मेरी तुलना लोग ऐसे इंसान से करते हैं जिसे देखकर मैं क्रिकेट खेलना शुरू किया। स्किल लेवल में उनसे मेरा कोई मुकाबला ही नहीं। वो मोस्ट कंपलीट बैट्समैन हैं।’’

सचिन तेंदुलकर-विराट कोहली के बैट को ठीक करने वाला पाई-पाई को मोहताज; अस्पताल में भर्ती, क्रिकेटर्स ने नहीं की मदद

अशरफ ने सचिन-कोहली जैसे कई बड़े खिलाड़ियों के बैट की मरम्मत अपने हाथों से की है। इस सूची में ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ, वेस्टइंडीज के क्रिस गेल और कीरोन पोलार्ड और दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज फाफ डु प्लेसी का भी नाम हैं।

शाहरुख खान पर धोखाधड़ी का आरोप लगा चुके हैं शोएब अख्तर, बॉलीवुड एक्ट्रेस का करना चाहते थे अपहरण

रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर शोएब अख्तर के नाम विश्व क्रिकेट में सबसे तेज गेंद फेंकने का भी रिकॉर्ड (161.3 किमी/घंटा) भी दर्ज है। उन्होंने यह कारनामा 2003 के वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ किया था।

वीरेंद्र सहवाग को बीरबल बुलाते थे सचिन तेंदुलकर, वीरू भी 4 साल तक मास्टर ब्लास्टर को एक खास चीज के लिए चिढ़ाते रहे

सचिन तेंदुलकर के नाम अब भी क्रिकेट के बहुत से रिकॉर्ड हैं। वहीं, जब भी कभी या कहीं ताबड़तोड़ पारी की बात चलती है तो टेस्ट मैच में दो तिहरे शतक लगाने वाले इकलौते भारतीय बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का नाम भी लिया जाता है।

साइमन टॉफेल ने सचिन तेंदुलकर को कई बार दिया था गलत आउट, रिटायरमेंट के 8 साल बाद स्वीकारी गलती

साइमन टॉफेल ने बताया. यह स्पष्ट था कि निर्णय में गलती हुई है। इसके बाद मैंने क्रिकइन्फो नहीं खोला, मैंने कोई भी अखबार नहीं पढ़ा। मुझे पता था मैं महीने भर तक मीडिया के निशाने पर रहूंगा।

एक ही टेस्ट में शतक लगा और शून्य पर आउट हो चुके हैं ये टॉप ऑर्डर बैट्समैन, सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली भी हैं शामिल

सचिन-कोहली के अलावा टीम इंडिया के और भी कई टॉप ऑर्डर बैट्समैन हैं, जिनके नाम ऐसा रिकॉर्ड दर्ज है। दिलचस्प यह है कि इस अनोखी उपलब्धि को हासिल करने वाले पहले भारतीय वीनू मांकड़ (1948 में) थे।

IPL 2020: सचिन को टीम में शामिल करना चाहते हैं रोहित शर्मा, तेंदुलकर बोले- आपके साथ ओपनिंग में मजा आएगा

एक फैन ने रोहित की महेंद्र सिंह धोनी से तुलना भी की थी, लेकिन तब उन्होंने कहा कि माही जैसा बनना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। जब उनसे बीते दौर के किसी गेंदबाज को चुनने को कहा गया तो रोहित ने ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ग्लेन मैक्ग्रा का नाम लिया।

यह पढ़ा क्या?
X