research

अनुसंधान की राह के अवरोध

भारत में अनुसंधान की दिशा में हुई प्रगति को नकारा नहीं जा सकता, लेकिन सच्चाई यह भी है कि ऐसे कई अवरोध हैं, जिन्हें पार करना भारतीय अनुसंधान और विकास के लिए बहुत जरूरी है। कुछ चुनिंदा क्षेत्रों में उपलब्धियों को छोड़ दें तो वैश्विक संदर्भ में भारत के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विकास तथा अनुसंधान की स्थिति धरातल पर उतनी मजबूत नहीं, जितनी कि भारत जैसे बड़े देश की होनी चाहिए।

शोध: घट रहा इंसान के शरीर का तापमान

बीते 170 साल में इंसान के शरीर का औसत तापमान 1.1 फारेनहाइट कम हुआ है। शोध में पाए गए इस तथ्य से वैज्ञानिक हैरान हैं। अमेरिका की स्टेनफोर्ड विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने अपनी शोध में पाया है कि हर दशक औसतन 0.03 डिग्री सेल्सियस तापमान घटा है। आगे चलकर इसका सेहत पर कितना असर पड़ेगा, इस बारे में ब्योरा अभी सामने नहीं आया है।

शिक्षाः अनुसंधान और आर्थिकी

ऐसे शोध कार्यों का क्या औचित्य, जो मानव उत्थान और आर्थिक विकास में सहायक न हों। इससे केवल समय, जनशक्ति और धन की बर्बादी होती है। अनुसंधान ऐसा हो, जो आर्थिकी को मजबूती दे, साथ ही बहुआयामी और जनोपयोगी हो।

व्यक्तित्व,कृष्णमूर्ति : जीवन के शुरुआती रूपों के नए सुराग की खोज

कैलिफोर्निया में रह रहे भारतीय मूल के वैज्ञानिक रामनारायण कृष्णमूर्ति ने पृथ्वी पर जीवन के शुरुआती रूपों के नए सुराग खोजे हैं। उन्होंने पता लगाया कि पृथ्वी पर जीवन की उत्पत्ति में डीएनए और आएनए के मिश्रण का योगदान था।

पुरातात्विक अवशेषों का अवलोकन करने भागलपुर के गुवारीडीह पहुंचे सीएम, कहा ऐतिहासिक धरोहर को संरक्षित किया जाएगा

भागलपुर जिला स्थित जयरामपुर के गुवारीडीह बहियार मेंं पुरातात्विक अवशेषों का अवलोकन करने के लिए रविवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहुंचे थे। इस दौरान सुरक्षा के चाक चौबंद इंतजाम किए गए थे। भागलपुर के डीआईजी सुजीत कुमार स्‍वयं इस दौरान मौजूद थे।

शोध: अंतरिक्ष में उगाई गई मूली की फसल

नासा काफी लंबे समय से स्पेस स्टेशन में फसलों को उगाने के लिए शोध जारी रखे हुए है। ताजा शोध अभियान के तहत अंतरिक्ष यात्री केट रूबिंस ने प्रयोग में यह समझने की कोशिश की है कि कम गुरुत्वाकर्षण में पौधे कैसे बढ़ते हैं। यह पहली बार है, जब वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में मूली के पौधों की खेती करने में कामयाबी हासिल की है।

विश्व परिक्रमा : नाक, मुंह की झिल्लियां कोरोना प्रसार रोकने में अहम

जर्नल ‘फ्रंटियर इन इम्यूनोलॉजी’ में प्रकाशित विश्लेषण में रेखांकित किया गया है कि म्यूकसल (मुंह और नाक की झिल्लियां) रोग प्रतिरोधक प्रणाली इस रोग प्रतिरोधक क्षमता का सबसे बड़ा हिस्सा है लेकिन अब तक कोविड-19 को लेकर किए गए अध्ययन में इस पर अधिक ध्यान केंद्रित नहीं किया गया है।

शोध: ब्रह्मांड में 10 गुना बढ़ गया तापमान

ओहायो स्टेट यूनिवर्सिटी सेंटर फॉर कॉस्मोलॉजी और एस्ट्रोपार्टिकल फिजिक्स के एक अध्ययन के मुताबिक, ब्रह्मांड के विकास के साथ गुरुत्वाकर्षण बल अंतरिक्ष में काले पदार्थ और गैस को एक साथ आकाशगंगाओं और आकाशगंगाओं के समूहों में खींचता है। इस प्रक्रिया से निकलने वाली ऊर्जा से भीषण गर्मी उत्पन्न हो रही है।

चौपाल: अंतरिक्ष की उड़ान

आधुनिक युग में मानव अत्यधिक परिष्कृत वैज्ञानिक उपकरणों की मदद से अब करोड़ों-अरबों प्रकाश वर्ष दूर स्थित ग्रहों, तारों और निहारिकाओं का अपने उच्च शक्तिशाली दूरबीनों की मदद से अध्ययन कर सकता है और अपने ताकतवर अंतरिक्ष यानों को भेज कर करोड़ों किलोमीटर दूर स्थित ग्रहों, उपग्रहों और क्षुद्र ग्रहों का बखूबी अध्ययन कर सकता है।

शोध: वैज्ञानिकों ने तैयार की शीशे जैसी पारदर्शी लकड़ी

वैज्ञानिकों ने शीशे जैसी पारदर्शी लकड़ी तैयार की है, जो शीशे से पांच गुना ज्यादा मजबूत है। यह लकड़ी शीशे की तरह टूटती नहीं। इसे खिड़कियों में लगाया जा सकेगा। यह पारदर्शी लकड़ी गर्मी झेलने में शीशे से पांच गुना ज्यादा मजबूत है। पेड़ से निकाली लकड़ी को ‘ब्लीचिंग सॉल्यूशन’ और ‘पॉलिविनायल अल्कोहल’ की मदद से ट्रांसपेरेंट बनाया गया। इसे अमेरिका की मेरीलैंड और कोलोराडो यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने मिलकर तैयार किया है।

लैब में मारा गया कोरोना! वैज्ञानिकों ने बताया 48 घंटों में एंटी पैरासाइटिक ड्रग से वायरस हुआ ढेर

वैज्ञानिकों का कहना है कि आइवरमेक्टिन नाम का ड्रग पहले ही दुनियाभर में इस्तेमाल होता है, लैब में इसी ड्रग से कोरोना को नष्ट करने में सफलता मिली।

इस नमक में कैंसर है! भारत में बिकने वाले ‘आयोडिन नमक’ पर अमेरिकी लैब का खुलासा

रिपोर्ट में सांभर रिफाइंड नमक, टाटा नमक, टाटा नमक लाइट जैसे उत्पादों को विशेष रूप से रेखांकित किया गया है।

ऑटो इम्यून बीमारियों के ट्रीटमेंट में मिली सफलता, अब आसानी से मर जाएंगे कैंसर सेल्स

कैंसर तथा ऑटो इम्यून बीमारियों के इलाज की दिशा में शोधकर्ताओं ने एक बड़ी कामयाबी हासिल की है।

स्कूल जाने वालों की तुलना में घर पर पढ़ने वाले बच्चे अधिक सोते हैं

शोध के अनुसार, घर पर पढ़ने वाले बच्चों की तुलना में निजी और सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले 44.5 प्रतिशत बच्चे नींद पूरी न होने की शिकायत से ग्रसित थे।

2050 तक मुस्लिम आबादी सबसे ज़्यादा भारत में होगी

हिंदू 2050 तक दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी आबादी होंगे जबकि भारत इंडोनेशिया को पीछे छोड़कर मुस्लिमों की सर्वाधिक आबादी वाला राष्ट्र होगा । एक नये अध्ययन में इस बात का खुलासा किया गया है । पीयू शोध केंद्र की तरफ से आज जारी आंकड़ों के मुताबिक हिंदुओं की आबादी पूरी दुनिया में 34 फीसदी […]

ये पढ़ा क्या?
X