recipe

दाना-पानी: पाक साझा स्वाद साझा

पाकशास्त्र कहता है कि अगर अनाज, दाल और सब्जी को मिश्रत रूप में पकाया और खाया जाए, तो स्वाद और पोषण बढ़ जाता है।

वीकेंड पर बनाएं टेस्टी रगड़ा पेटिस, जानिये- पूरी रेसिपी यहां

आपने आज तक रगड़ा पेटिस (Ragda Patties) का नाम खूब सुना होगा। आपको बता दें कि यह डिश मराठी और गुजरातियों की पहली पसंद हैं। रगड़ा पेटिस का नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है।

दाना-पानी: दाल के देसी रंग

भारत जैसे खानपान में विविधता वाले देश बहुत कम हैं। यहां भोजन पकाने में आज भी मशीनों का उपयोग कम से कम होता है। इसलिए यहां प्रयोग की गुंजाइश बहुत रहती है। मसलन, महाराष्ट्र में लोकप्रिय व्यंजन में बिहार का जायका मिला कर पेश किया जा सकता है। इस बार कुछ ऐसे ही देसी व्यंजनों में मामूली प्रयोग।

दाना-पानी: पत्ता-पत्ता जायकेदार

भोजन में कोईन कोई पत्तेदार सब्जी जरूर होनी चाहिए। इससे दो फायदे होते हैं। एक तो इससे आहार में अन्न और दाल की मात्रा कम हो जाती है, पेट जल्दी भर जाता है। दूसरे, पत्तेदार सब्जियों में रेसा यानी फाइवर बहुत होता है, जिससे पेट साफ रहता है। गांवों में लोग तरह-तरह की पत्तियों की सब्जी बनाते हैं, जैसे सीताफल की बेल, सहजन के पत्ते, सूरन यानी ओल और अरबी के पत्ते आदि। इस बार कुछ ऐसी ही पत्तेदार सब्जियां।

दाना-पानी: पत्ता-पत्ता जायकेदार

भोजन में कोईन कोई पत्तेदार सब्जी जरूर होनी चाहिए। इससे दो फायदे होते हैं। एक तो इससे आहार में अन्न और दाल की मात्रा कम हो जाती है, पेट जल्दी भर जाता है। दूसरे, पत्तेदार सब्जियों में रेसा यानी फाइवर बहुत होता है, जिससे पेट साफ रहता है। गांवों में लोग तरह-तरह की पत्तियों की सब्जी बनाते हैं, जैसे सीताफल की बेल, सहजन के पत्ते, सूरन यानी ओल और अरबी के पत्ते आदि। इस बार कुछ ऐसी ही पत्तेदार सब्जियां।

IPL 2020 LIVE
X