Ravish Kumar

चुप्पी को क्या समझें? रवीश कुमार ने अनुराग कश्यप-तापसी पन्नू पर आयकर छापे का जिक्र कर बॉलीवुड सेलेब्स को घेरा

अनुराग कश्यप और अभिनेत्री तापसी पन्नू के यहां छापे पड़ने के पर बॉलीवुड के बाकी सेलिब्रिटीज की तरफ़ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। इस पर रवीश कुमार ने कहा कि…

‘ये आप हैं, आपकी जेब है और ये आपकी सिलेंडरी कर रहे हैं’, वायरल मीम से रवीश कुमार ने साधा सरकार पर निशाना, आ रहे ऐसे रिएक्शन्स

Ravish Kumar ने लिखा कि सरकार इंतज़ार कर रही है कि जनता कहां तक बर्दाश्त कर रही है। अभी कहीं चुनाव जीत जाएगी तो कहेगी कम करने की ज़रूरत भी नहीं है।

‘पीएम मोदी ने रामदेव की बूटी क्यों नहीं ली?’ कोरोना टीकाकरण पर रवीश कुमार ने पूछा सवाल, आने लगे ऐसे कमेंट्स

Ravish Kumar ने लिखा- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने अपने लिए टीका का चुनाव कर बता दिया कि जिसे बूटी बेचना है बेचे वो नहीं लेने वाले। लेकिन क्या यह प्रधानमंत्री को शोभा देता है कि ख़ुद टीका ले लें और रामदेव (Swami Ramdev) को बूटी बेचने दें?

‘मैं दुबला हो गया हूं, बाल भी उड़ गए हैं..’, रवीश कुमार ने पीएम नरेंद्र मोदी को खुला खत लिख कसा तंज, वायरल हो रहा लेटर

Ravish Kumar ने लिखा- दुनिया हंस रही है कि भारत में मंदिर निर्माण के लिए चंदा वसूलने का काम रहते हुए भी युवा नौकरी मांग रहे हैं। मैं नहीं चाहता कि भारत की बदनामी हो।

रवीश कुमार ने नरेंद्र मोदी को ओपन लेटर लिख कसा तंज, बोले- ऐसा अक्षय कुमार भी नहीं लिख सकता, एमजे एकबर को BJP में ही रखें

Ravish Kumar ने अपने खुले खत में लिखा है कि जज रविंद्र पांडे ने प्रिया रमानी का इंसाफ़ कर दिया। इंसाफ़ करने के लिए बादशाह होना ज़रूरी नहीं होता है। इंसाफ़ करने वाला अकबर होता है। अकबर का नाम रखने वाला अकबर नहीं होता है।

‘दिशा रवि सिर्फ एक लड़की का नाम नहीं पूरी पीढ़ी का है..’, रवीश कुमार ने किया पोस्ट, आने लगे ऐसे कमेंट्स

Ravish Kumar की ये पोस्ट वायरल हो रही है। इस पर तमाम लोग दिशा रवि की गिरफ्तारी के लिए मोदी सरकार को भला बुरा लिख रहे हैं तो वहीं बहुत से यूजर्स रवीश कुमार को ट्रोल कर रहे हैं। 

चौपट अर्थव्यवस्था के दौर में लोगों ने महंगाई को जैसे गले लगाया वह अद्भुत है- रवीश कुमार का तंज, आ रहे ऐसे कमेंट्स

Ravish Kumar के इस पोस्ट पर लोग कमेंट करते हुए लिख रहे हैं कि सरकार महंगाई और अपनी नाकामियों से ध्यान भटकाने के बहुत बेहतर तरीके जानती है।

विद्या कसम खाकर कहता हूं मैं रियाना को नहीं जानता था- रवीश कुमार ने यूं कसा तंज़, बोले- उर्दू में भटक गया था…

रवीश कुमार ने कहा कि वो विद्या कसम खाकर कहते हैं कि वो रिहाना को नहीं जानते। रिहाना के नाम के उच्चारण पर उनका कहना था कि उनका नाम रिहाना नहीं रियाना है।

‘उन्हीं भाषणों में हारते नज़र आ रहे हैं पीएम मोदी जो उन्हें सियासी चक्रवर्ती बनाते हैं’, रवीश कुमार का पोस्ट वायरल, आ रहे ऐसे कमेंट्स

Ravish Kumar ने प्रधानमंत्री की तुलना उन विद्यार्थियों से की जो परीक्षा में किसी सवाल का जवाब ना आने पर गोलमोल इधर-उधर की बातें लिख कर कॉपी भर देते हैं।

‘भाषणजीवी प्रधानमंत्री के लिए आंदोलन में जाने वाले परजीवी हैं..’, रवीश कुमार का पीएम मोदी पर कटाक्ष, आने लगे ऐसे कमेंट्स

Ravish Kumar ने ये भी लिखा कि एक आदमी अलग अलग आंदोलनों में जाता है। उसे सपोर्ट करता है। क्या वह आंदोलनजीवी परजीवी होता है? जो जनता प्रधानमंत्री को इतना वोट देती है उसी से चिढ़ने की वजह समझ नहीं आती।

‘लोकतंत्र भीतर पहनने वाला बनियान नहीं है जो अंदर की बात है..’, रवीश कुमार का पोस्ट वायरल, आ रहे ऐसे कमेंट्स

Ravish Kumar ने लिखा कि हमारे फिल्म कलाकारों और खिलाड़ियों ने एक काम अच्छा किया। वाशिंगटन पोस्ट, न्यूयार्क टाइम्स और CNN को नहीं धिक्कारा कि आप भारत की ख़बरें न दिखाएं और न छापें क्योंकि इससे अंदर की बात बाहर चली जाती है।

राजदीप सरदेसाई पर गलती के लिए FIR, गोदी मीडिया वालों पर प्रॉपगैंडा चलाने पर भी कार्रवाई नहीं- रवीश कुमार की टिप्पणी, आ रहे ऐसे कमेंट्स

Ravish Kumar के इस पोस्ट पर कुछ यूजर्स ने लिखा कि सरकार ने मीडिया के बड़े तबके को अपने कंट्रोल में कर लिया है औऱ जो लोग कंट्रोल से बाहर हैं उनपर इसी तरह की कार्रवाई हो रही है जैसी राजदीप सरदेसाई (Rajdeep Sardesai) पर हुई है।

NDTV के रवीश कुमार ने पूछा- राकेश टिकैत को क्यों रोना पड़ा? लोग कर रहे ऐसे कमेंट्स

Ravish Kumar का यह फेसबुक पोस्ट वायरल हो रहा है। यूजर्स कमेंट करते हुए लिख रहे हैं कि राकेश टिकैत के आंसुओं ने किसानों को फिर से एकजुट कर दिया है और आंदोलन को नई ऊर्जा मिल गई है।

‘अमित शाह कभी फेल नहीं होते..’, किसानों की ट्रैक्टर रैली में हिंसा पर रवीश कुमार का गृहमंत्री पर तंज

रवीश कुमार का यह फेसबुक पोस्ट वायरल हो रहा है। कुछ यूजर्स रवीश के इस पोस्ट पर लिख रहे हैं कि आपकी बातें निष्पक्ष नहीं हैं क्योंकि इसमें शिवराज पाटिल की तारीफ दिख रही है। वहीं तमाम यूजर्स रवीश कुमार की बातों से सहमति जता रहे हैं।

‘नेता की गोद में बैठ लाठी भांजना आसान है, अर्णब गोस्वामी भी यही करते हैं..’, रवीश कुमार ने Republic TV चीफ पर साधा निशाना

टीआरपी घोटाले (TRP Scam) में गिरफ्तार बार्क (BARC) इंडिया के पूर्व सीईओ पार्थो दासगुप्ता ने मुंबई पुलिस को दिए एक लिखित बयान में बताया है कि उनको रिपब्लिक टीवी (Republic TV) के एडिटर इन चीफ अर्णब गोस्वामी (Arnab Goswami) से 12 हजार डॉलर मिले थे। बकौल पार्थो उनको तीन साल के दौरान कुल 40 लाख रुपये भी मिले जिसके लिए उनको रिपब्लिक के पक्ष में रेटिंग में छेड़छाड़ करनी थी।

WhatsApp चैट पर प्राइम टाइम करते वक्त अर्नब गोस्वामी पर ताने मारने लगे रवीश कुमार, अपने घर-सामान का जिक्र कर कसा तंज

अर्नब व्हाट्सएप चैट पर विपक्ष के हमलों के बीच वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने एनडीटीवी पर अपने शो प्राइम टाइम में भी इस मामले को उठाया। वे अर्नब पर तंज कसते हुए..

‘अर्णब गोस्वामी किसी से डरते हैं तो मेरे पास आ जाएं, लेकिन यहां कूदने-फांदने नहीं दूंगा’, रवीश कुमार का वीडियो वायरल

Ravish Kumar ने अर्णब गोस्वामी के लेकर यह भी कहा है कि भारत माता की जय जैसे पवित्र नारे को अरणब गोस्वामी से बचाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह नारा बहुत पवित्र है और अर्णब के मुंह से शोभा नहीं देता।

अर्नब गोस्वामी को किसी से डर लगता है तो मेरे पास आएं और नाम बताएं- एनडीटीवी पर बोले रवीश कुमार

रवीश कुमार बोले,’क्या अर्नब को किसी से डर लगता है ? अगर लगता है तो वो मेरे पास आएं, उसका नाम बताएं। जब मैं प्राइम टाइम की एंकरिंग करता हूं यहां मेरे बगल में खड़े रहें, बिल्कुल डर नहीं लगेगा।’

यह पढ़ा क्या?
X