rafel

राहुल गांधी के पोस्टर फाड़े, पोत डाली कालिख! बीजेपी ने ऐसे किया पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष का विरोध

पश्चिम बंगाल के अलावा दिल्ली में भी बीजेपी कार्यकर्ताओं और की पुलिस से झड़प हुई। इस दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ भी प्रदर्शन किया।

राफेल सौदा: मोदी सरकार नहीं चाहती कि दुनिया पढ़े ये 3 दस्तावेज, सीधे पीएमओ पर उठी है अंगुली

Rafel Deal: केंद्र सरकार तीन दस्तावेजों को विशेषाधिकार का हिस्सा मान रही थी और उसका खुलासा नहीं होने देना चाह रही थी। इन दस्तावेजों में सीधे प्रधानमंत्री कार्यालय पर सवाल खड़े किए गए हैं।

ऑफिशल सीक्रेट एक्ट: जानिए क्या है यह कानून और इसके मुख्य प्रावधान

राफेल डील से जुड़े दस्तावेज मीडिया द्वारा सार्वजनिक होने के बाद सरकार ने ऑफिशल सीक्रेट एक्ट (OSA) के तहत कार्रवाई की धमकी दी है। लेकिन, यह एक्ट क्या है और इसके अधीन क्या-क्या प्रावधान हैं, पेश है संक्षेप में पूरी जानकारी।

रविशंकर का राहुल पर हमला, कहा- सोचा नहीं था कि इंदिरा का पोता और राजीव का बेटा इतनी बेशर्मी से झूठ बोलेगा

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए उन्हें अपने सभी आरोप वापस लेने की नसीहत दी है।

CAG रिपोर्ट के बाद शिवराज का राहुल पर तंज, कहा- जिसको पीलिया होता है, उसे सब पीला ही दिखता है

कैग की रिपोर्ट आने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर राहुल के झूठ का पर्दाफाश हो गया है।

रफाल विवाद: राहुल ने PM मोदी को कहा अंबानी का ‘बिचौलिया’, गोपनीयता कानून के उल्लंघन का लगाया आरोप

ई-मेल का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि अनिल अंबानी ने फ्रांस के रक्षा मंत्री को रफाल विमान सौदे की जानकारी दी। मतलब उन्हें डील के बारे में पहले से पता था। जबकि, इसके बारे में भारत के रक्षा मंत्री, एचएएल और विदेश सचिव को भी जानकारी नहीं थी।

रफाल पर एक और दावा- मोदी सरकार ने डील से हटा दिया भ्रष्टाचार विरोधी क्लॉज़

‘द हिंदू’ में वरिष्ठ पत्रकार एन राम ने लिखा है कि भारत सरकार ने डील पर हस्ताक्षर होने के कुछ दिन पहले ही भ्रष्टाचार विरोधी दंड और एस्क्रो एकाउंट (तीसरे पक्ष को दिए गए पैसे का लिखित ब्योरा) के तहत पेमेंट के प्रावधान को हटा दिया।

राफेल: कांग्रेस नेता ने शेयर किया नया डॉक्‍यूमेंट, पूछा- किसके हित के लिए काम कर रहा था PMO?

कांग्रेस के नेता मनीष तिवारी ने जो दस्तावेज ट्वीट किया है उसमें रक्षा मंत्रालय ने लिखा है कि फ्रांस के राष्ट्रपति के कूटनीतिक सलाहकार और प्रधानमंत्री कार्यालय के जॉइंट सेक्रेटरी जावेद अशरफ के बीच समानांतर बातचीत हो रही थी और यह बातचीत विमान सौदे में भारत के नजरिए से हानिकार थी।

राफेल: मोदी सरकार ने हजारों करोड़ के रक्षा सौदे में PMO की भूमिका के बारे में SC को भी नहीं दी जानकारी

जब रक्षा सौदे में INT बात कर रही थी तब PMO का दखल कई सवाल खड़े करते हैं। क्योंकि, बातचीत रक्षा सौदे की सबसे बड़ी अथॉरिटी DAC (Defence Acquisition Council) के द्वारा की जा रही थी और इसका प्रमुख रक्षा मंत्री होता है ना कि प्रधानमंत्री कार्यालय।

राफेल डील में नया खुलासा: रक्षा मंत्रालय ने PMO के हस्‍तक्षेप का किया था विरोध, मनोहर पर्रिकर को थी जानकारी

राफेल विमान सौदे में प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने रक्षा मंत्रालय के सुझावों को दरकिनार करते हुए “समानांतर बातचीत” का जरिया अपनाया। खास बात यह कि पीएमओ की इस पहल पर रक्षा मंत्रालय ने कड़ा विरोध भी जाहिर किया था

राफेल विमान सौदा: जानिए, एनडीए सरकार में कैसे बढ़ गईं विमानों की कीमतें

राफेल विमान सौदे की कीमत एक साल से सुर्खियों में है। विपक्ष जहां सरकार पर धांधली के आरोप लगा रहा है, वहीं सरकार का कहना है कि उसने यूपीए से कम कीमत पर डील फाइनल की। इन आरोप-प्रत्‍यारोपों के बीच अंग्रेजी अखबार ‘द हिंंदू’ ने कुछ दस्‍तावेज के आधार पर एक्‍स्‍क्‍लूसिव खबर छापी है। इस खबर में यह बताया गया है कि राफेेेल की कीमत कैसे और कितनी बढ़ गई।

राहुल का राफेल मुद्दा उठाना दिखावा, राफेल विरोधी लॉबी के दबाव में काम कर रहे हैं: भाजपा

राफेल मुद्दे पर कांग्रेस और भाजपा के बीच टकराव थमता नहीं दिख रहा है और भाजपा ने सोमवार को एक मीडिया रिपोर्ट के हवाले से राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा राफेल मामले को उठाना सिर्फ दिखावा है।