rafale aircraft

IAF के स्क्वाड्रन गोल्डन एरोज में शामिल हुए राफेल फाइटर, जानें इस स्क्वाड्रन के शौर्य का इतिहास

इसी स्क्वाड्रन ने दो युद्धों में पाकिस्तान को धूल चटा दी थी। हालांकि पूर्व में इस स्क्वाड्रन को रिटायर कर दिया गया था, मगर राफेल विमानों के लिए इसे एक बार फिर एक्टिव किया गया है।

पानी की बौछारों से सलामी और हैरान कर देने वाले हवाई कतरब दिखा IAF में शामिल हुआ राफेल

भारतीय वायु सेना ने एक ट्वीट कर इस नए विमान का अपने शस्त्रागार में स्वागत किया।

रास्ते में जहां खड़े थे पांच राफेल लड़ाकू विमान और भारतीय पायलट, ईरान ने वहां दागीं दनादन कई मिसाइल

ईरानी मिसाइलों की मौजूदगी के बाद भारतीय पायलटों से सुरक्षित स्थानों पर छिपने के लिए कहा गया।

Rafale in India HIGHLIGHTS: राफेल लड़ाकू विमान से भारतीय वायुसेना की युद्धक क्षमता और मजबूत होगी, पीएम मोदी और राजनाथ ने किया स्वागत

इन विमानों के, वायुसेना में शामिल होने के बाद देश को आस-पड़ोस के प्रतिद्वंद्वियों की हवाई युद्धक क्षमता पर बढ़त हासिल हो जाएगी।

कौन है यह कश्मीरी IAF अफसर हिलाल अहमद , जिसकी Rafale को लाने में बताई जा रही अहम भूमिका? जानें

रविवार को फ्रांस से भारत के लिए जब इन विमानों ने उड़ा भरी तो उस समय पैरिस में एयर कोमोडोर हिलाल अहमद राठेर वहां मौजूद थे।

यह पढ़ा क्या?
X