Raajpat

राजपाट: खौफ किसानों का

सोनीपत, अंबाला और पंचकूला में से भाजपा बमुश्किल पंचकूला में जीत पाई। जबकि इस चुनाव में उसका अपनी सहयोगी दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी के साथ था।

राजपाट: गहराता संकट

मध्यप्रदेश और गुजरात में पार्टी के विधायक एक-एक कर भाजपा का रुख कर रहे हैं। मध्यप्रदेश में जहां कांग्रेस के नेताओं की अपनी चूकों से सरकार चली गई वहीं गुजरात में विधायकों का टूटना चिंता की बात है।

राजपाट: राम भरोसे

पंचायत चुनाव के नतीजों से कांग्रेस को झटका लगा है। भाजपा को यह कहने का मौका मिल गया है कि ग्रामीण भारत यानी किसान-मजदूर पार्टी के साथ हैं। गहलोत फिर आशंकित हैं कि भाजपा उनकी सरकार गिराने में जुटी है। दिल्ली में सोनिया गांधी की सेहत ठीक नहीं और राहुल गांधी ने नेतृत्व से किनारा कर रखा है।

राजपाट: सियासी शतरंज

ग्रह नक्षत्र ही खराब चल रहे हैं कांग्रेस पार्टी के। पार्टी को अपने किए कामों का श्रेय नहीं मिलता। राजीव गांधी ने प्रधानमंत्री रहते 1989 में अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखी थी। पर सारा श्रेय भाजपा ने लूट लिया।

राजपाट: सियासत, सियासतदान और सियासी गतिविधियां, नया रिवाज

भाजपा की निगाह पश्चिम बंगाल के साथ-साथ तमिलनाडु पर भी टिकी है। तभी तो अपने सरकारी चेन्नई दौरे का अमित शाह ने सियासी समीकरण बिठाने में पूरा इस्तेमाल किया। जयललिता की मौत के बाद अन्ना द्रमुक में नेतृत्व का संकट किसी से छिपा नहीं है।

राजपाट: सियासत, सियासतदान और सियासी गतिविधियां, बिहार में नीतीश कुमार की दुविधा

भाजपा विधायकों की ज्यादा संख्या होना मंत्रिमंडल में भाजपा मंत्रियों की संख्या ज्यादा होने का स्वाभाविक आधार है। उप मुख्यमंत्री वाली व्यवस्था पहले से रही ही है। नीतीश चाहेंगे कि भाजपा चिराग पासवान पर अपना रुख साफ करे। पर ऐसी शर्त लगाने वाली हैसियत तो बची नहीं है उनकी। केंद्र में पहले तो जद (एकी) ने हिस्सेदारी ली नहीं थी, अब लेंगे या नहीं, साफ नहीं है। भाजपाई तो यही चाहते हैं कि नीतीश मुख्यमंत्री की कुर्सी का मोह छोड़ केंद्र में मंत्री बन जाएं।

राजपाट: सियासत, सियासतदान और सियासी गतिविधियां

इस चुनाव की एक खासियत यह दिखी कि तेजस्वी ने चुनाव प्रचार में कहीं भी अपने पिता लालू यादव का न नाम इस्तेमाल किया और न प्रचार में फोटो। चुनावी रैलियों में भीड़ जुटाने के मामले मेंं तो खैर युवा तेजस्वी अपने विरोधियों पर लगातार इक्कीस नजर आए ही।

राजपाट: राजनीति और राजनेता

बिहार का चुनाव चर्चा का विषय है तो उत्तराखंड के सीएम के खिलाफ सीबीआई जांच का मुद्दा भी प्रमुखता से लोगों की जुबां पर है। इस बीच राज्यसभा चुनाव के समय बसपा में बगावत की आवाज उठने से पार्टी सुप्रीमो ने सपा के खिलाफ जोरदार विरोध जता दिया।

राजपाट: राजनीति के रंग

मुख्यमंत्री पद की रामविलास पासवान की हसरत तो अधूरी ही रह गई पर उनके बेटे चिराग 2025 के हिसाब से अपनी रणनीति बना चुके है।

राजपाट: बिहार का चुनाव और लोजपा की रणनीति

नीतीश के उम्मीदवारों को हरवाकर चिराग भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने का सपना देख रहे हैं। कमाल तो यह है कि जद (एकी) के हिस्से में आई सीटों के कद्दावर भाजपा नेता लोजपा में शामिल हो रहे हैं।

राजपाट – दूर की कौड़ी

लगातार चौथी बार अध्यक्ष बनवाने के लिए नीकु ने पार्टी के संविधान में संशोधन कराया था। पर यादव को याद रखना चाहिए कि उन्हें पार्टी की कमान थमाने के चक्कर में नीकु ने जार्ज फर्नांडीज को पद छोड़ने को मजबूर किया था।

राजपाट : नीकु का दिल्ली मोह

मोदी सरकार ने उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाया तो नीतीश कुमार उस पर बरस पड़े। वे चुप क्यों रहते?

ये पढ़ा क्या?
X