Prashant Bhushan

Global Hunger Index 2020: 107 मुल्कों की लिस्ट में 94वें पायदान पर भारत, प्रशांत भूषण का तंज- PAK से भी पिछड़े, बढ़िया जा रहे हैं मोदी जी…

इंडेक्स में भारत नेपाल और पाकिस्तान से भी नीचे है। इंडेक्स में नेपाल (73), पाकिस्तान (88), बांग्लादेश (75), इंडोनेशिया (70) पायदान पर हैं।

‘फाइन भरने का यह अर्थ नहीं है कि हमें फैसला स्वीकार्य,’ प्रशांत भूषण ने कहा- विरोध करने वालों का मुंह बंद कराने में जुटी सरकार

प्रशांत भूषण ने कहा, सरकार के खिलाफ बोलने वालों को परेशान किया जा रहा है। ऐसे लोगों की मदद के लिए जन-जन से एक-एक रुपया जमा कर ट्रुथ फंड (सच्चाई कोष) बनाया जा रहा है।

ICJ ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- प्रशांत भूषण की सजा पर हो पुनर्विचार, फैसले से अभिव्यक्ति की आजादी पर लटकेगी तलवार

प्रशांत भूषण ने 29 जून को अपने ट्विटर हैंडल दो ट्वीट किए। इनमें उन्होंने महंगी बाइक पर बैठे चीफ जस्टिस बोबडे की तस्वीर ट्वीट करते हुए टिप्पणी की थी।

प्रशांत भूषण को 1 रुपया देते वक्त राजीव धवन के दूसरे हाथ से नहीं छूटा था हुक्का, फोटो देख लोग लेने लगे मजे

धवन की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। तस्वीर में वे प्रशांत को एक रुपए का सिक्का दे रहे हैं और दूसरे हाथ में हुक्का पकड़े हुए हैं। उनकी इस तस्वीर को शेयर करते हुए एक फ़ेसबुक ने लिखा “स्वाग देख रहे हो राजीव धवन का…. .हुक्का छूटता ही नहीं है।

हर आदमी दे एक रुपया- प्रशांत भूूषण को सजा के बाद योगेंद्र यादव ने चलाया अभियान, किए दो ऐलान- जानें डिटेल्‍स

दिल्ली के कॉन्सटिट्यूशन क्लब में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने दो बड़े ऐलान किए। यादव ने कहा कि हम देश व्यापी फंड बनाना चाहते हैं, इसलिए हम चाहते हैं कि हर व्यक्ति इस फंड में एक रुपया दे।

अवमानना केसः सजा के बाद राजीव धवन ने प्रशांत भूषण को तुरंत दिया 1 रुपये का सिक्का, BJP महिला नेता ने कसा तंज

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने न्यायपालिका के प्रति अपमानजनक ट्वीट करने के कारण आपराधिक अवमानना के दोषी अधिवक्ता प्रशांत भूषण को सोमवार को सजा सुनाते हुये उन पर एक रुपए का सांकेतिक जुर्माना किया।

अवमानना केसः माफी मांगने में गलत क्या है? SC ने कहा; राजीव धवन बोले- प्रशांत भूषण को शहीद मत बनाएं

धवन ने आगे कोर्ट से कहा, “भूषण को शहीद न बनाएं। उन्होंने कोई कत्ल या चोरी नहीं की है।” वहीं, न्यायालय ने भूषण के माफी मांगने से इनकार करने पर कहा-
माफी मांगने में क्या गलत है, क्या यह बहुत बुरा शब्द है?

अवमानना केसः ढीले न पड़े प्रशांत भूषण, 30 मिनट की मोहलत दे बोला SC- बयान वापस लेने पर फिर सोच लें

वेणुगोपाल ने पीठ से कहा कि अदालत को उन्हें चेतावनी देनी चाहिए और दयापूर्ण रुख अपनाना चाहिए। पीठ में न्यायमूर्ति बी आर गवई और न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी भी शामिल थे। पीठ ने कहा कि जब भूषण को लगता है कि उन्होंने कुछ गलत नहीं किया तो उन्हें इसे न दोहराने की सलाह देने का क्या मतलब है।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- प्रशांत भूषण का जवाब तो और अपमानजनक है, 2009 वाले अवमानना मामले में 10 सिंतबर को होगी सुनवाई

बता दें कि प्रशांत भूषण ने 2009 में अपने दिए हुए बयान के लिए खेद जताया था लेकिन बिना शर्त माफी नहीं मांगी थी। साल 2009 में उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान सुप्रीम कोर्ट के 8 पूर्व मुख्य न्यायाधीशों को भ्रष्ट कहा था।

माफ़ी मांगना खुद के ज़मीर का अपमान होगा- प्रशांत भूषण ने कहा, आज लेगा सुप्रीम कोर्ट फ़ैसला

प्रशांत भूषण ने कहा कि मैंने अपने विचार अच्छी भावना में व्यक्त किए, न कि उच्चतम न्यायालय या किसी प्रधान न्यायाधीश विशेष को बदनाम करने के लिये, बल्कि रचनात्मक आलोचना पेश करने के लिए ताकि संविधान के अभिभावक और जनता के अधिकारों के रक्षक के रूप में अपनी दीर्घकालीन भूमिका से इसे किसी भटकाव से रोका जा सके।

प्रशांत भूषण का माफी मांगने से फिर इनकार, कहा- यह खुद की अवमानना जैसे होगा

अवमानना केस में कोर्ट से वह आगे बोले, “निष्ठाहीन माफी मांगना मेरे अन्तःकरण की और एक संस्था की अवमानना के समान होगा।”

‘इजाजत दें, तुरंत साबित हो जाएगा भ्रष्ट है जूडिशरी! प्रशांत भूषण के ऐलान-ए-सजा से पहले बोले पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी

सोराबजी ने कहा कि उन्हें चुप कराने के बजाय अदालत को न्यायिक भ्रष्टाचार के बारे में सबूत के साथ केस को साबित करने की अनुमति देनी चाहिए।

‘अवमानना अधिकार को हथौड़ा बना हो रहा इस्तेमाल, इतिहास करेगा फैसला’, प्रशांत भूषण केस में कपिल सिब्बल का तंज; लोगों ने कर दिया ट्रोल

कपिल सिब्बल ने ट्वीट करते हुए लिखा है, अवमानना अधिकार को हथौड़ा बनाकर इस्तेमाल हो रहा है जब संविधान को बचाने वाले संस्थानों की बात आती है तो न्यायालय असहाय क्यों हो जाता है और कानून दिखाने लगता है।

प्रशांत भूषण केस: सुप्रीम कोर्ट ऑर्डर में दर्ज नहीं AG की मौजूदगी, की थी सजा नहीं देने की अपील, जज ने बीच में ही काट दी थी दलील

अटॉर्नी जनरल प्रशांत भूषण को समय दिए जाने को लेकर सहमत थे। अटॉर्नी जनरल ने तीन जजों वाली पीठ से प्रशांत भूषण के सार्वजनिक हित में किए गए कार्यों को देखते हुए दंडित नहीं किए जाने का अनुरोध भी किया था।

मैं दया के लिए नहीं कहूंगा, अदालत जो भी सजा देगी सहर्ष उसे स्वीकार करूंगा, सुप्रीम कोर्ट से बोले प्रशांत भूषण

प्रशांत भूषण ने कहा कि मैंने माननीय सुप्रीम कोर्ट का फैसला पढ़ा। मुझे बहुत दुख हुआ कि मुझे उस न्यायालय की अवमानना का दोषी ठहराया गया जिसका गौरव बढ़ाने का मैंने प्रयास किया।

‘आपने लक्ष्मण रेखा क्यों लांघी?’ सजा पर बहस के दौरान प्रशांत भूषण से बोले जस्टिस मिश्रा- ’24 साल के करियर में ऐसा पहला केस’

सुप्रीम कोर्ट में आज वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण की सजा पर बहस हुई, कोर्ट ने उन्हें अदालत की अवमानना वाले बयान पर विचार करने के लिए दो दिन दिए।

Prashant Bhushan Case: सुप्रीम कोर्ट ने बिना शर्त माफी के लिए प्रशांत भूषण को 24 अगस्त तक का समय दिया

न्यायमूर्ति अरूण मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन न्यायाधीशों की पीठ ने अधिवक्ता प्रशांत भूषण को न्यायपालिका के खिलाफ उनके दो अपमानजनक ट्वीट को लेकर न्यायालय की अवमानना के लिये 14 अगस्त को दोषी ठहराया था।

प्रशांत भूषण केसः SC से बोले देशभर के 1500 वकील- सही कदम उठा रोकें न्याय की विफलता

वकीलों ने एक बयान में कहा है कि बार को अवमानना का डर दिखाकर चुप कराने से सुप्रीम कोर्ट की ही स्वतंत्रता और ताकत कम होगी।

IPL 2020 LIVE
X