Prasar Bharti

प्रसार भारती ने बताया कि “एन्टी इंडिया” अमेरिकी रिपोर्टर को भारत से हटाना चाहती है मोदी सरकार, विदेश मंत्रालय बोला- गलत खबर

केन्द्रीय प्रसारण एवं सूचना मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दो मलयालम न्यूज चैनल्स की दिल्ली दंगों की रिपोर्टिंग पर लगे 48 घंटे के बैन को हटा लिया था। न्यूज चैनल्स पर आरोप थे कि वह दंगों में एक पक्ष का समर्थन कर रहे हैं।

जिन्हें देश सुनता है, उनकी आवाज अनसुनी की ‘आकाशवाणी’ ने

देशभर से सैकड़ो की तादात में यहां पहुंचे, सालों से आकाशवाणी के केंद्र पर बतौर रेडियो उद्घोषक, कंपेयर, कार्यक्रम संचालक के रूप में सेवारत इन लोगों को पुलिस बल और वैरिकेट के आगे झुकना पड़ा..