petition

स्पेशल मैरिज एक्ट पर इलाहाबाद हाईकोर्ट का बड़ा फैसला- 30 दिन के पूर्व नोटिस की बाध्यता खत्म

एक बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका में आरोप लगाया गया था कि एक वयस्क लड़की को अपने प्रेमी से शादी करने की इच्छा के खिलाफ हिरासत में ले लिया गया है, जो एक अलग धर्म से संबंध रखती है।

बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने कहा- प्राइवेट प्‍लेस में अश्‍लील हरकत करना अपराध नहीं

बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने कहा, ”प्राइवेट प्‍लेस में अश्‍लील हरकत करना या इसे देखना आईपीसी की धारा 294 के तहत नहीं आता।

आज का राशिफल
X