patanjali

बाबा रामदेव की Patanjali और Flipkart की बढ़ी मुसीबतें! प्लास्टिक कचरा नियमों की अनदेखी पर CPCB ने भेजा नोटिस

सीपीसीबी ने एनजीटी को सौंपी रिपोर्ट में कहा कि उसने प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन (संशोधन) नियम 2018 के प्रावधानों का पालन नहीं करने के कारण नोटिस जारी किया है।

फेसवॉश से लेकर बॉडी क्लिनर और एंटिसेप्टिक क्रीम बेच रही बाबा रामदेव की पतंजलि, जानें- ‘टॉप’ ब्यूटी प्रोडक्ट, कैसे करें ऑनलाइन खरीदारी?

Baba Ramdev’s Patanjali Ayurved Products: पतंजिल के फेसवॉश से लेकर बॉडी क्लिनर और एंटिसेप्टिक क्रीम तक बेच रही है। ये वे प्रोडक्ट्स हैं जिन्हें ग्राहक अपने सौंदर्य और बेहतर त्वचा पाने के लिए इस्तेमाल करते हैं।

महाराष्ट्र सरकार के मंत्री बोले- पतंजलि भ्रामक दावा कर राज्य के लोगों को गुमराह करेगी तो उस पर करेंगे कार्रवाई

महाराष्ट्र के खाद्य एवं औषधि प्रशासन मंत्री राजेंद्र शिंगने ने शुक्रवार को कहा कि योग गुरु रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड द्वारा तैयार की गई दवा ‘कोरोनिल’ कोविड-19 का इलाज नहीं करती।

COVID-19 काल में Coronil को ‘क्लीनचिट’: नहीं किया सरकार संग कोई मैनेजमेंट, न PMO को घुमाया फोन, न ही गृह मंत्री से हुई बात- रामदेव ने किया साफ

पतंजलि के कोरोनिल दवा को लेकर उपजे विवाद पर बाबा रामदेव का कहना है कि उन्होंने किसी भी तरह की अप्रोच नहीं की। सरकार संग कोई मैनेजमेंट नहीं किया।

रामदेव ने कहा- कोरोनिल का क्लिनिकल ट्रायल किया, आयुष मंत्रालय ने प्रयासों को सराहा

योग गुरु बाबा रामदेव ने पिछले हफ्ते एक कार्यक्रम में कोरोनिल दवा को लॉन्च किया था, हालांकि इस पर उत्तराखंड और राजस्थान स्वास्थ्य विभाग की तरफ से सवाल उठाए जाने के बाद विवाद खड़ा हो गया था।

कोई ‘Corona Kit’ नहीं की पैक, बस डिब्बे पर कोरोना का छपाया था प्रतीकात्मक फोटो- आयुर्वेद विभाग के नोटिस पर रामदेव की Patanjali की सफाई; लोगों ने यूं दिखाया आईना

उत्तराखंड आयुर्वेद विभाग के लाइसेंस ऑफिसर वाईस रावत का कहना है कि हमारे तरफ से दिए गए नोटिस में पतंजलि ने जवाब दिया है। कंपनी का कहना है कि पतंजलि ने कोरोना किट की पैकिंग नहीं की है। कोरोनिल पर कोरोना वायरस की प्रतीकात्मक फोटो लगाया गया है।

PM बोले- जब तक वैक्‍सीन नहीं बनती, तब तक बस इस एक ही दवा से रुकेगा कोरोना, सोशल मीडिया यूजर्स ने दिया ऐसा रिएक्शन

पीएमओ के इस ट्वीट पर कमेंट करते हुए कई लोगों ने रामदेव के खिलाफ पुलिस कार्रवाई की मांग की है और उन पर कार्रवाई नहीं करने को राजनीति से प्रेरित बताया है।

कोरोनिल दवा की जानकारी पर रामदेव की पतंजलि से खुश नहीं केंद्र सरकार, ज्यादा जानकारी के लिए मोदी सरकार ने बनाया दबाव, 17 सदस्यीय आयुष टास्कफोर्स देखेगी मामला

चिट्ठी में आयुष मंत्रालय ने पतंजलि से दवाई के इंग्रीडेंट्स के बारे में पूछा है। इसके साथ ही इस दवाई की टेस्टिंग कहां की गई, इसकी भी जानकारी मांगी गई है।

कोरोनिल विवाद: रामदेव की पतंजलि ने योगी-मोदी राज में लगातार भुनाए हैं कमाई के अवसर, मिड-डे-मील तक का ठेका लेने की कर चुके हैं कोशिश

2014 से “स्वदेशी” को बढ़ावा देने वाली बाबा रामदेव की होमग्रोन एफएमसीजी कंपनी ने योगी-मोदी राज में लगातार कमाई के अवसर भुनाए हैं। पतंजलि कई परियोजनाओं को लेकर केंद्र और विभिन्न राज्य सरकारों के साथ बातचीत करती रहती है।

पतंजलि विवाद पर बोले जीशान अय्यूब- सीधे डकैती शुरू हो गई है; यूजर्स करने लगे ऐसे कमेंट

Patanjali Coronavirus, Covid-19 Vaccine, Corona Virus Medicine: जीशान ने अपने पोस्ट में लिखा- ‘चोरी का समय 6 साल पहले खत्म हो गया अब तो सीधा दिन दहाड़े डकैती होती है।’ सरकार पर सीधा निशाना साधते हुए एक्टर जीशान ने पोस्ट किया। इस पोस्ट पर लोगों के ढेरों रिएक्शन सामने आने लगे…

लाइसेंस मिला तमंचे का,बना लिए तोप- कोरोनिल लॉन्‍च करने के बाद निशाने पर बाबा रामदेव, पुलिस में भी शिकायत

पतंजलि ने 23 जून को कोरोनिल लॉन्‍च की थी। तब से ही सोशल मीडिया पर इसकी विश्वसनीयता को लेकर सवाल उठ रहे हैं। आयुष मंत्रालय की ओर से भी कहा गया कि उसे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। मंत्रालय ने आचार्य बालकृष्‍ण से ब्‍योरा तलब किया।

क्या है बाबा रामदेव की लाई Coronil जिसे, बताया जा रहा है COVID-19 की काट? जानें

उन्होंने कहा कि हमने इस दवा का क्लिनिकल ट्रायल भी किया और दवा के इस्तेमाल के नतीजों से हम कह सकते हैं कि यह दवा कोरोना का इलाज करने में मददगार साबित होगी।

रामदेव लाए कोरोना की दवा CORONIL, पर ICMR और मोदी की Ayush Ministry ने झाड़ लिया पल्ला, कहा- जब तक ‘जांच’ न हो जाए, तब तक न करें प्रचार

मंत्रालय का कहना है कि पतंजलि की कथित दवा, औषधि एवं चमत्कारिक उपचार (आपत्तिजनक विज्ञापन) कानून, 1954 के तहत विनियमित है। पतंजलि से कहा गया है कि वह जल्द से जल्द उस दवा का नाम और उसके घटक बताए जिसका दावा कोविड-19 उपचार के लिए किया जा रहा है।

COVID-19: बाबा रामदेव ने लॉन्च की कोरोना वायरस की आयुर्वेदिक दवा, इन जड़ी-बूटियों से मिलकर है बनी, जानें- क्या है खास

Coronavirus Ayurvedic Medicine: बालकृष्ण के अनुसार ‘दिव्य कोरोनिल टैबलेट’ में अश्वगंधा, गिलोय, अणु तेल, श्वसारि रस और तुलसी जैसी औषधिक जड़ी-बूटियों को मिलाया गया है

‘100% मिल रहा रिजल्ट’, स्वामी रामदेव की ‘Patanjali’ का दावा- कोरोना का इलाज आयुर्वेद से संभव, 80% मरीज 5-6 दिन में हुए ठीक

आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि हमने स्टडी के आधार पर हर तरह के कोरोना मरीज गंभीर से अत्यंत गंभीर पर इनका टेस्ट किया हमें 100 प्रतिशत प्रभावी रिजल्ट मिले हैं। उनका कहना है कि आयुर्वेद के जरिए कोरोना वायरस का इलाज संभव है। 80 फीसदी मरीज 5-6 दिन में ठीक हो गए हैं।

IGI एयरपोर्ट पर बाबा रामदेव ने लॉन्च किया पतंजलि का सबसे बड़ा स्टोर, निखिल नंदा को बनाया पार्टनर

दिल्ली के अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के बाद पतंजलि जल्द ही कोलकाता, बेंगलुरू, मुंबई हवाई अड्डे पर भी अपना स्टोर खोलेगी। जेएचएस स्वेंडगार्ड लैबोरेटरीज के एमडी निखिल नंदा ने अपने एक बयान में आयुर्वेद को वैश्विक स्तर पर बढ़ावा देने की बात कही है।

बाबा रामदेव की पतंजलि दो पायदान नीचे खिसकी, वित्तीय हालत खस्ता होने के बाद क्रेडिट रेटिंग कंपनी ने दिया निगेटिव रैंक

बाबा रामदेव के नेतृत्व वाली पतंजलि कंसोर्शियम अधिग्रहण प्राइवेट लिमिटेड जो पतंजलि आयुर्वेद और तीन अन्य कंपनियों का ज्वाइन्ट वेंचर है, ने कर्ज में डूबी रुचि सोया के लिए 4,325 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी, जिसे नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल ने मंजूरी दे दी है।

बाजार पर पकड़ कमजोर, अब टीवी और अखबारों से भी ‘गायब’ हो रही रामदेव की पतंजलि, टॉप विज्ञापनदाताओं की दौड़ से बाहर

साल 2016 और 2017 में पतंजलि सबसे बड़े विज्ञापनदातों की सूची में क्रमश: तीसरे और छठे नंबर पर थी। पतंजलि को साल 2012 और 2017 के दौरान जबरदस्त मुनाफा हुआ था।

IPL 2020 LIVE
X