Odd Even Formula

Odd-Even: घोड़े से संसद पहुंचे भाजपा सांसद, केजरीवाल सरकार ने हटाई MP Special Bus

दिल्‍ली में चल रहे ऑड ईवन के चलते बुधवार को भाजपा सांसद रामप्रसाद शर्मा घोड़े से संसद पहुंचे। उन्‍होंने ऑड ईवन योजना के विरोध स्‍वरूप यह कदम उठाया।

दिल्ली वालों के जुगाड़ से निकला सम-विषम का तोड़

दिल्ली सरकार की सम-विषम योजना दूसरा दौर उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पा रहा है। आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार को उम्मीद थी कि इस बार भी उसे पहले की तरह ही वाहवाही मिलेगी।

Odd-Even Furmula part-2: छुट्टी के दिन सम-विषम कर गई काम

ढाई महीने के बाद राष्ट्रीय राजधानी में सम-विषम योजना फिर शुरू हुई और उल्लंघन करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की गई।

हवा बताएगी कितना है दम

’सम-विषम योजना को लेकर उत्साहित हैं पर्यावरणविद, ’ठोस व स्थायी समाधान तलाशने की कर वकालत

संपादकीयः फिर प्रयोग

एक बार फिर दिल्ली सरकार ने वायु प्रदूषण पर लगाम कसने के मकसद से कारों के लिए सम-विषम फार्मूला लागू कर दिया है। जनवरी में प्रयोग के तौर पर जब इसे लागू किया गया तो उसके सकारात्मक नतीजे आए थे।

Odd-Even: कनॉट प्लेस में मिलेंगी बैटरी से चलने वाली बाइक-टैक्सी

यह सेवा राजीव चौक मैट्रो स्टेशन से पांच किलोमीटर के दायरे में पांच रुपए प्रति किलोमीटर की दर पर उपलब्ध होगी।

Odd-Even Formula: इस बार होगी NCR के प्रदूषण की भी जांच

दिल्ली में सम-विषम से एनसीआर के शहरों के वायु प्रदूषण में कितना अंतर आया है, यह जांच इस बार होगी। नेशनल एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग रिसर्च इंस्टिट्यूट (एनईईआरआइ) ने नोएडा के सेक्टर- 1 स्थित उप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय कार्यालय की छत पर यह मशीन लगाई है।

फिर होगी स्थिति विषम, विधायक करेंगे निगरानी

विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता ने गति, सड़क सुरक्षा और प्रदूषण विशेषज्ञों के हवाले से दावा किया है कि पिछली बार की तरह इस बार भी यह योजना जनता के लिए दुखदायी साबित होगी।

दिल्‍ली: CM केजरीवाल का एलान-15 अप्रैल से फिर लागू होगा Odd-Even का फॉर्मूला

राष्ट्रीय राजधानी में सम-विषम योजना फिर शुरू हो सकती है जिसकी तारीखों की घोषणा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल गुरुवार को करेंगे।

डग्गामार टैम्पो का सहारा ले रहे लोग, कहां गईं नोयडा की बसें?

दिल्ली में सम-विषम योजना पर बहस के बीच नोएडा में बेहाल सार्वजनिक परिवहन को लेकर सरकार और प्रशासन सुस्त है। यहां सार्वजनिक परिवहन के नाम पर लोगों को डग्गामार टैम्पो का ही सहारा लेना पड़ता है।

Video: अक्षय कुमार ने उड़ाया केजरीवाल के फॉर्मूले Odd-Even का मजाक

बालीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने दिल्ली की सम विषम योजना पर एक मजाकिया प्रहसन बनाया है। बॉलीवुड खिलाड़ी अक्षय ने कहा कि यातायात के उस नियम की पैरोडी के लिए अपनी आवाज दी है जो 15 जनवरी को समाप्त हो गयी।

Video: Airlift के प्रमोशन में अक्षय ने दिल्ली के Odd Even नियम का उड़ाया मजाक

बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने दिल्ली की सम विषम योजना पर एक मजाकिया कॉमेडी बनाया है। ‘‘बेबी’’ फिल्म में अभिनय कर चुके इस अभिनेता में यातायात के उस नियम की पैरोडी के लिए अपनी आवाज दी है

पब्लिसिटी स्टंट है Odd-Even के खिलाफ दायर की गई याचिकाः सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश और दिल्ली में सम-विषम योजना से संबंधित आप सरकार की अधिसूचना के खिलाफ दायर आवेदन पर तत्काल सुनवाई करने से इनकार कर दिया है। साथ ही की इस तरह की याचिका ने सुप्रीम कोर्ट ने पब्लिसिटी स्टंट करार दिया।

15 जनवरी से आगे नहीं बढ़ेगा Odd-Even फॉर्मूला

सम-विषम योजना को आगे बढ़ाने की खबरों के बीच दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय ने शनिवार को जोर देकर कहा कि सरकार का 15 जनवरी के बाद सड़क पर कार संबंधी पाबंदी के प्रयोग को आगे बढ़ाने का इरादा नहीं है।

दिल्ली सरकार ने कहा, प्रदूषण घटा

प्रदूषण के घटने-बढ़ने के दावों के बीच दिल्ली सरकार ने दावा किया है कि दिल्ली में प्रदूषण स्तर घटा है। सरकार की ओर से शुक्रवार को जारी बयान के मुताबिक 22 जगहों पर नमूने लिए गए..

सम-विषम के भविष्य पर फैसला सोमवार को, हाई कोर्ट ने सुरक्षित रखा आदेश

सम-विषम वाहन योजना के भविष्य को लेकर दिल्ली उच्च न्यायालय 11 जनवरी को फैसला सुनाएगा। उसने आम आदमी पार्टी (आप) की इस महत्वाकांक्षी प्रायोगिक योजना को चुनौती देने वाली विभिन्न अर्जियों पर अपना आदेश शुक्रवार को सुरक्षित रख लिया…

सम-विषम : मुंबई भी जा सकती है दिल्ली की राह

महाराष्ट्र सरकार इन दिनों दिल्ली में चल रही वाहनों की सम-विषम योजना को परख रही है और अगर यह सफल हुई तो इसे मुंबई में लागू किया जा सकता है..

प्रदूषण पर जद्दोजहद

दिल्ली में वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के प्रयासों में एक बार फिर अदालती अड़चन पैदा हो गई है। दिल्ली उच्च न्यायालय ने पूछा है कि सरकार क्यों पंद्रह दिनों तक प्रायोगिक तौर पर सम और विषम गाड़ियों का नियम लागू रखना चाहती है..

X
ये पढ़ा क्या?
X