NPA

…तो NPA के टाइम बम पर बैठे हैं बैंक? 31 मार्च के बाद स्थिति हो सकती है गंभीर

31 मार्च को छोटे और मध्यम आकार के व्यवसायों (एमएसएमई) की परिसंपत्तियों से गैर-निष्पादित संपत्ति घोषित करने पर लगी रोक हट सकती है।

किसान क्रेडिट कार्ड बिगाड़ रहा SBI की आर्थिक सेहत, तीन साल में दोगुना हो गया NPA

आंकड़ों के अनुसार, एसबीआई का कुल एनपीए सितंबर 2016-17 से लेकर सितंबर 2019 तक 8 प्रतिशत से बढ़कर 16 प्रतिशत हो गया है। फिलहाल एसबीआई का एनपीए 17,000 करोड़ से भी ज्यादा है।

RBI ने चेताया- अभी और देखने पड़ सकते हैं बुरे दिन, 2020 में 9.9% तक बढ़ सकता है बैड लोन

गौरतलब है कि 6 माह पहले रिजर्व बैंक ने मार्च 2020 में बैड लोन में कमी की बात कही थी, लेकिन ताजा रिपोर्ट में इसके कम होने की बजाय और बढ़ने की बात सामने आयी है।

RBI और सरकार में फिर हो सकती है तकरार? 25 बैंकों के NPA खरीदने के लिए सरकार फंड बनाने का दे रही दबाव!

वित्त मंत्रालय देश के 25 बैंकों के नॉन-परफॉर्मिंग एसेट (एनपीए) को खरीदने के लिए आरबीआई पर स्ट्रेस एसेट फंडबनाने का दबाव बना रही है।

खस्ताहाल बैंकों के ‘अमीर’ अधिकारियों पर लगाम कसने की तैयारी में RBI, खराब परफॉर्मेंस पर घटेगी सैलरी!

नया नियम 1 अप्रैल 2020 से लागू किया जाएगा जो कि स्थानीय क्षेत्र के बैंकों, छोटे वित्त बैंकों और भुगतान बैंकों सहित निजी क्षेत्र के बैंकों पर लागू होगा। इस नियम के लागू होते ही टॉप पर तैनात अधिकारियों की आधी सैलरी उनके ‘अकेले’ और बैंक के परफॉर्मेंस पर आधारित होगी।

बैकों को सता रहा टेलिकॉम और रिनुअल एनर्जी सेक्टर में फंसा पैसा डूबने का डर! बढ़ रहा बकाए का बोझ

रिनुअल एनर्जी उत्पादकों पर भुगतान का बकाया बढ़ता जा रहा है। आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और तेलंगाना जैसे राज्यों की वितरक कंपनियां खरीदी गई बिजली का पेमेंट वक्त पर करने में नाकाम हो रही हैं।

निलंबित MD का दावा, ‘RBI से बैड लोन्स छिपाने के लिए PMC बैंक प्रयोग करता था डमी खाते’

थॉमस ने एक पत्र में लिखा ‘पीएमसी बैंक लोन से जुड़ी तमाम जानकारियों को छिपाने के लिए डमी खातों समेत अन्य कई तरह की प्रक्रिया का इस्तेमाल करता था।

PMC बैंक से नहीं कर पाएंगे 1000 से अधिक की निकासी, RBI का बैन

Punjab and Maharashtra Co-Operative Bank (PMC Bank): आरबीआई के निर्देश के मुताबिक बचत, चालू और कोई अन्य जमा खाते से ग्राहक 1000 रुपए तक की निकासी कर सकते हैं।

EPF या NPS में किसमें लगाएं पैसा, कौन है दोनों में बेहतर? जानिए

EPF and NPS: हमारी छोटी-छोटी सेविंग हमारी भविष्य को मजबूत करती है। कई लोगों के मन में सवाल उठते हैं कि वह कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) और राष्‍ट्रीय पेंशन प्रणाली (एनपीएस) में से किसमें पैसा लगाएं।

नरेंद्र मोदी की महत्‍वाकांक्षी Mudra स्कीम से बढ़ रहा NPA! वित्त मंत्रालय ने बैंकों को दिया रिव्यू का आदेश

एक सूत्र ने बताया- सरकारी बैंक मुद्रा योजना के हर पहलुओं की समीक्षा कर रहे हैं, जिसमें भौगोलिक पहुंच, बैड लोन और बेहतर फीचर्स की जरूरत के साथ लाभार्थियों को और अच्छी एक्सेस सरीखी चीजें शामिल हैं।

Indian Economy को फिर लगेगा तगड़ा झटका, लौट सकता है लोन डूबने का दौर?

बैंकों का एनपीए (Non Performing Asset) बीते साल मार्च, 2018 में 11.7 प्रतिशत था, जो कि मौजूदा वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में घटकर 9.6 प्रतिशत रह गया था।

National Pension Scheme अकाउंट ऑनलाइन खोलना चाहते हैं? यह है आसान तरीका

नेशनल पेंशन स्कीम एक रिटायरमेंट सेविंग अकाउंट है, जिसे भारत सरकार ने 1 जनवरी 2004 को शुरू किया था। इस तारीख के बाद जॉइन करने वाले सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए यह योजना अनिवार्य है।

अर्थव्यवस्था के लिए राहत की खबर, बैंकों के एनपीए का घटा स्तर, फ्रॉड में फंसी रकम भी घटी

एनपीए की समस्या भारतीय बैंकों के लिए कितनी गंभीर हो गई है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 31 मार्च, 2018 को एनपीए का आंकड़ा बढ़कर 10,36,187 करोड़ रुपए तक पहुंच गया था।

महीने भर के लिए लेना है लोन, तो ओवरड्राफ्ट की सुविधा है काफी अच्छी

दक्षिण भारतीय राज्य ओवरड्राफ्ट सुविधा का सबसे ज्यादा लाभ उठा रहे हैं। बैंक में अगर आपका सैलरी/चालू खाता है तो ओवरड्राफ्ट सुविधा आपको आसानी से मिल जाएगी।

नींद नहीं आती, इलाज के लिए बेल दें- 2654 करोड़ के फ्रॉड के आरोपी की कोर्ट से गुहार

बैंकों से 2,654 करोड़ की धोखाधड़ी का आरोपी अमित भटनागर ने हाई कोर्ट में अर्जी दायर कर मांग की है कि उन्हें नींद नहीं आती इसलिए इलाज के लिए जमानत दी जाए।

कृषि लोन से बदहाल हुआ यह सरकारी बैंक, एक ही साल में 4,784 करोड़ रुपये का घाटा

बीओएम कृषि लोन की वजह से लगभग बदहाल हो चुका है। बैंक ने एक ही साल में 4,784 करोड़ रुपये का घाटा दर्ज किया है।

मुद्रा लोन का एनपीए पिछले साल में हो गया दोगुना, भुगतेंगे सरकारी बैंक

केन्द्र की मोदी सरकार की महत्वकांक्षी योजना मुद्रा लोन योजना के तहत एनपीए पिछले साल के मुकाबले बढ़कर दोगुना हो गया है। पहले ही एनपीए के बोझ तले दबे सरकारी बैंकों के लिए यह काफी चिंताजनक है।

इलाहाबाद बैंक को दूसरी तिमाही में 1,823 करोड़ रुपये का घाटा, एनपीए बना वजह

फंसे कर्ज का अनुपात बढ़ने से बैंक को इसके एवज में इस साल 1,991.88 करोड़ रुपये का प्रावधान करना पड़ा जबकि पिछले साल इसी अवधि में यह प्रावधान 1,469.52 करोड़ रुपये रहा था।

ये पढ़ा क्या?
X