Nitish Kuamr

असंभव को संभव बनाने की कला में माहिर हैं नीतीश कुमार, चुनाव में तीसरे नंबर पर रहे फिर भी सब पर भारी; पढ़िए कैसे मैकेनिकल इंजीनियर से सियासत के शिखर पर पहुंचे

नीतीश कुमार के राजनीतिक चरित्र की यह एक खास विशेषता है कि उन्हें राजनीति में सही समय पर अपने दोस्त और दुश्मन चुनना भलीभांति आता है और यही कारण है कि बिहार में वह 15 साल तक एकछत्र राज करते आ रहे हैं।

नीतीश आउटगोइंग सीएम, कब जाएंगे यह देखना है- पत्रकार ने दी राय तो, बोलीं एंकर- आपने तो बम फोड़ द‍िया

पत्रकार से एंकर अंजना ओम कश्‍यप ने नीतीश के सातवीं बार सीएम बनने पर प्रत‍िक्र‍िया मांगी थी।

बिहार चुनाव: नहीं चला नीतीश का इमोशनल कार्ड, जहां खेला था अंतिम चुनाव का दम वहां 8.5% वोट कम

नीतीश कुमार ने साल 1977 में अपना पहला चुनाव लड़ा था। वह कई बार लोकसभा के सांसद रहे और अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में मंत्री भी रहे।

Bihar Elections 2020: कभी वामपंथी थीं MBA पास शालिनी, अब हैं नीतीश कुमार की JDU से कैंडिडेट

पूर्व सीपीआई नेता शालिनी ने कहा कि वो सीएम नीतीश कुमार से प्रभावित होकर जेडीयू में शामिल हुई हैं।

राबड़ी देवी बोलीं- बिहार में घिनौना काम करने वालों को सत्ता का संरक्षण, नीतीश कुमार से कोई काहे नहीं सवाल पूछता?

RJD Rabri Devi- JDU CM Nitish Kumar: राबड़ी देवी ने ट्वीट में हैदराबाद एनकाउंटर का स्वागत करते हुए लिखा कि बिहार में सरकार पस्त, विधि व्यवस्था ध्वस्त और गुंडे-मवाली मस्त हैं। नीतीश कुमार से कोई काहे नहीं सवाल पूछता?

बिहार विधान सभा ने पास किए दो विधेयक, नौकरशाहों को होगा ऐसे फायदा

बिल पर चर्चा के दौरान जब नीतीश के मंत्री से पूछा गया कि इस बिल के क्या फायदे होंगे तो उन्होंने इसपर कोई जवाब नहीं दिया।

झारखंड: नीतीश कुमार ने बढ़ाई बीजेपी की मुश्किलें, सभी सीटों पर उतारेंगे कैंडिडेट

नीतीश सरकार में ग्रामीण विकास मंत्री और झारखंड में पार्टी के कॉर्डिनेटर श्रवण कुमार ने कहा कि उनकी पार्टी का सिर्फ बिहार में बीजेपी से गठबंधन है और कहीं नहीं। इसलिए उनकी पार्टी झारखंड में सभी विधान सभा और सभी लोकसभा सीटों पर उम्मीदवार खड़ा करेगी।

बिहार जा रहे नरेंद्र मोदी: जदयू नेता ने कहा- पुराना वादा पूरा कीजिए

बिहार विधान सभा चुनाव के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने राज्य को 1.25 लाख करोड़ रुपये का विशेष आर्थिक पैकेज देने की घोषणा की थी लेकिन उनकी सरकार के चार साल बीत जाने के बाद भी उनकी घोषणा पर अमल नहीं हो सका है।

सुशील मोदी ने गिफ्ट में मिला माइक्रोवेव अवन लौटाया, राबड़ी बोलीं- सिर्फ उन्हें ही परेशानी है

सुशील मोदी ने विधायकों को इस आधार पर महंगे उपहार देने की आलोचना की कि वे गरीब हैं या सरकारी स्कूलों में छात्रों को दिए जाने वाले मिड डे मील की गुणवत्ता की वे जांच करेंगे।

बिहार में लागू है कानून का राज, जंगलराज के आरोपों पर बोले राज्यपाल कोविंद

बिहार के राज्यपाल राम नाथ कोविंद ने राज्य में कानून का राज होने का दावा करते हुए कहा कि राज्य की प्रगति के लिए शांति व्यवस्था और सद्भाव का माहौल जरूरी है।

सशक्तीकरण की राह

सरकारी सेवाओं में महिलाओं के लिए पैंतीस फीसद आरक्षण का प्रावधान कर बिहार सरकार ने साहसिक कदम उठाया है। हालांकि वहां पहले से पंचायतों में पचास फीसद और पुलिस भर्ती में पैंतीस फीसद आरक्षण महिलाओं के लिए है।

ये पढ़ा क्या?
X