Narendra Singh Tomar

किसान नेताओं पर बोले कृषि मंत्री- अपने मामले में तो निर्णय कर नहीं पा रहे, दुनिया की ठेकेदारी की कोशिश कर रहे

इसी बीच, केंद्रीय अल्पसंख्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि किसानों के कांधे पर रखकर बंदूक चलाई जा रही है।

नरेंद्र सिंह तोमर के पास पूरा पावर नहीं वरना कानून वापस लेते - राकेश टिकैत बोले, ‘वही मंत्री आए जिनके पास पावर हो'

राकेश टिकैत ने कहा कि अगर नरेंद्र सिंह तोमर के पास पावर होता तो वो कानून वापस ले लेते। उनका कहना है कि सरकार...

कृषि मंत्री तोमर ने कहा- किसान इस पेशकश पर करें विचार तब करेंगे बातचीत | Rakesh Tikait vs Narendra Singh Tomer

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomer) ने नए कृषि कानूनों (Farm Laws) का विरोध कर रहे किसान संगठनों के साथ बातचीत...

आंदोलन के दौरान किसानों की मौत से जुड़ा कोई रिकॉर्ड नहीं, कृषि मंत्री तोमर ने राज्यसभा को दी लिखित जानकारी

कहा कि सरकार ने बैठक के दौरान हाल ही में लाए गए नए कृषि कानूनों की कानूनी वैधता सहित उनसे होने वाले लाभों के...

कृषि कानूनः टिकैत बोले- कृषि मंत्री का नंबर बता दो तो बात कर लेंगे, LJP नेता ने कहा- नंबर की कहां जरूरत है?

राकेश टिकैत ने कहा कि कृषि मंत्री का नंबर उनके पास नहीं है। साथ ही किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि आगे जब...

किसान आंदोलन को लेकर BJP नेता का कृषि मंत्री पर निशाना- सत्ता का अहंकार उनके सिर चढ़ गया है

पूर्व राज्यसभा सदस्य रहे रघुनंदन शर्मा ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा कि नरेंद्र जी आपका इरादा किसानों की मदद करने का हो सकता...

राकेश टिकैत का दावा, सरकार नहीं 11 अफसर करते थे बातचीत, पर्चे से बोलते थे मंत्री

राकेश टिकैत ने कहा कि हमारी बात तो सरकार से हुई ही नहीं। हमसे तो सरकार के 11 अफसर बात करते थे। उन्होंने कहा...

किसान आंदोलनः RS की कार्यवाही से हटाया गया कृषि मंत्री का 'खून की खेती' वाला बयान, सफाई में कही ये बात

कृषि मंत्री ने राज्‍यसभा में चर्चा के दौरान कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा था कि 'खेती के लिए पानी की जरूरत होती है।...

खून से खेती सिर्फ कांग्रेस कर सकती है- बोले कृषि मंत्री, दिग्विजय ने पूछा- गोधरा में जो हुआ वो पानी की थी या खून की?

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आज राज्यसभा में कृषि कानूनों का बचाव करते हुए कहा कि सरकार किसानों की बात सुनने को...

बजट की बात कर कृषि मंत्री ने की किसानों को मनाने की कोशिश, यूनियन ने कर दिया चक्का जाम का ऐलान

बजट पेश करने के बाद कृषि मंत्री ने ट्विटर पर लिखा कि मोदी सरकार की किसानों की आय दोगुना करने की ओर काम कर...

किसान आंदोलनः NCP चीफ के ट्वीट पर तोमर निराश, कानून फायदेमंद बता बोले- जब पवार कृषि मंत्री थे, उन्होंने की थी कृषि सुधार की कोशिश

बकौल तोमर, "मुझे लगता है कि शरद पवार जी के सामने बिल के तथ्यों को गलत तरीके से प्रस्तुत किया होगा। मैं आशा करता...

'किसान आंदोलन के पीछे है अदृश्य ताकत', बोले कृषि मंत्री- यूनियन जब चर्चा कर जाते हैं, तो उनके सुर बदल जाते हैं..

कृषि मंत्री ने कहा कि किसान जो भी प्रस्ताव रखते हैं हम उसपर विचार करने के लिए तैयार हैं। सरकार जब भी किसानों से...

सरकार को 'कैड़ापन' दिखाना चाहिए, हम तो नरम आदमी हैं...अड़ियल रुख के आरोप पर बोले टिकैत

किसान नेता राकेश टिकैत ने अड़ियल रुख के आरोप के जवाब में कहा कि सरकार को कड़ा होना चाहिए। सरकार को कैड़ापन दिखाना चाहिए।

'किसानों का हुआ सियासी इस्तेमाल', बोले कृषि मंत्री- कल क्या होगा मुझे नहीं पता, पर आशा पर टिका है आसमान

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मीटिंग के बाद कहा कि हमने किसान यूनियन को कहा कि जो प्रस्ताव आपको दिया है उस पर...

किसानों ने सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, कहा पूरी तरह रद्द हो कानून; बोले- व्यर्थ नहीं जाएगा किसानों का बलिदान

किसान नेता जोगिंदर सिंह उग्रहण ने बताया कि शुक्रवार को वे सरकार से मिलेंगे और उन्हें स्पष्ट तौर पर बता देंगे कि जब तक...

जानिये कौन हैं बाबा लक्खा सिंह जो किसान आंदोलन में सुलह की पेशकश कर आए चर्चा में

बाबा लक्खा सिंह नानकसर गुरुद्वारे के प्रमुख हैं। गुरुद्वारा नानकसर पंजाब के लुधियाना से 50 किलोमीटर दूर स्थित है। पंजाब, हरियाणा सहित देश के...

किसान आंदोलन: कृषि मंत्री से मुलाकात के बाद बोले बाबा लक्खा सिंह- लोग मर रहे हैं, ये पीड़ा असहनीय

नानकसर गुरुद्वारा के प्रमुख बाबा लक्खा सिंह ने आज कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात की।

किसानों से बातचीत से पहले दो मिनट का मौन: कृषि मंत्री ने कहा- ज़्यादातर यूनियन नए क़ानूनों से खुश हैं, किसान नेता बोले- उनसे मिलवा दें हमें

7वें दौर की मीटिंग शुरू होने से पहले केंद्र सरकार के मंत्रियों और किसानों ने उन किसानों को श्रद्धांजलि पेश करते हुए 2 मिनट...

ये पढ़ा क्या?
X