namami ganga

नमामि गंगे के लिए भारत और जर्मनी के बीच समझौता

इस परियोजना की अवधि तीन साल होगी जो 2016 से 2018 तक की अवधि की होगी। इस परियोजना में जर्मनी का अंशदान 22.5 करोड़ रुपए का होगा।

प्रदूषण का प्रवाह

गंगा सफाई योजना को शुरू हुए करीब तीस साल हो गए। इस पर अब तक अरबों रुपए बहाए जा चुके हैं। मगर राजनीतिक इच्छाशक्ति की कमी की वजह से नदियों को साफ-सुथरा बनाने का लक्ष्य अभी तक कागजी ही बना हुआ है।

गंगा की गंदगी

सत्ता में आते ही प्रधानमंत्री ने गंगा सफाई को अपनी सर्वोच्च प्राथमिकताओं में शुमार करते हुए इस दिशा में तेजी से प्रयास करने की बात कही थी। वह तेजी फिलहाल महज कागजों में नजर आती है

नमामि गंगे परियोजना शुरू, केंद्र उठाएगा पूरा खर्च

गंगा को अविरल और निर्मल बनाने की नरेंद्र मोदी की महत्त्वाकांक्षी नमामि गंगे परियोजना नए ढांचागत व वित्तीय व्यवस्था के तहत शुरू की गई है। तीन चरणों में पूरी की जाने वाली इस परियोजना का पूरा खर्च अब केंद्र सरकार वहन करेगी..