man donate plasma

कोरोना-काल में इंसानियत की मिसाल: मां-बाप खोने वाले बेटे ने किया प्‍लाज्‍मा दान

Ashna Butani: रोहित गुगलानी (41) परिवार के पहले शख्स थे जिन्हें कोविड-19 की पुष्टि हुई। वो कहते हैं कि मेरी पत्नी और बच्चे सहित मुझे एक जून को संक्रमण की पुष्टि हुई। हमने खुद को क्वारंटाइन कर लिया और माता-पिता से भी खुद को अलग कर लिया। मगर ये बीमारी किसी तरह माता-पिता और भाई तक फैल गई।

IPL 2020
X