Maharashtra Floor Test

महाराष्ट्र: प्रोटेम स्पीकर बदले जाने से नाराज हुई बीजेपी, खटखटाएगी सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

फडणवीस ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि महाराष्ट्र के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ जब फ्लोर टेस्ट बिना स्पीकर की नियुक्ति के हुआ हो, इस बार क्या डर था? दिलीप पाटिल ने फडणवीस का जवाब देते हुए कहा कि गवर्नर की अनुमति के बाद इस विशेष सत्र का आयोजन किया गया है।

बीजेपी उम्मीदवार ने नाम लिया वापस, कांग्रेसी नाना पटोले निविर्रोध चुने गए विधानसभा अध्यक्ष

एनसीपी नेता प्रफुल पटेल ने कहा है कि डिप्टी सीएम का पद एनसीपी के पास रहेगा। नागपुर विधानसभा सत्र के बाद इस पद को भरा जाएगा।

MAHARASHTRA FLOOR TEST का सबसे अहम पहलू, प्रोटेम स्पीकर और सदन में एनसीपी का नेता कौन? टिका है बहुत कुछ दारोमदार

परंपरागत रूप से देखा जाए तो वरिष्ठतम विधायक को प्रोटेम स्पीकर चुना जाता है। हालांकि, यह राज्यपाल के लिए कोई जरूरी शर्त नहीं है।

महाराष्ट्र: बहुमत साबित करने बीजेपी ने शुरू किया “ऑपरेशन लोटस”; कांग्रेस, एनसीपी से आए चार नेताओं को सौंपा जिम्मा

बीजेपी के इस मिशन को पूरा करने की जिम्मेदारी चार सीनियर नेताओं को सौंपी गई है। ये नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल, गणेश नाइक, बबनराव पंचपुटे और नारायण राणे हैं। पाटिल और राणे कांग्रेस से आए हैं, जबकि नाइक और पंचपुटे एनसीपी से बीजेपी में शामिल हुए।

ये पढ़ा क्या?
X