kulbhushan jadhav

कुलभूषण जाधव केसः वकील नियुक्त करने का भारत को एक और मौका देने का पाकिस्तानी अदालत का आदेश

भारतीय कैदी कुलभूषण जाधव भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी हैं। उन्हें पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने जासूसी एवं आतंकवाद के आरोप में अप्रैल 2017 में मौत की सजा सुनाई थी।

कुलभूषण जाधव केसः ICJ के फैसले के मद्देनजर पाकिस्तानी संसद में अध्यादेश पेश

गत 20 मई को अधिनियमित ‘ अंतरराष्ट्रीय अदालत समीक्षा एवं पुनर्विचार अध्यादेश 2020′ के तहत सैन्य अदालत के फैसले की समीक्षा के लिए एक याचिका इस्लामाबाद उच्च न्यायालय में एक अर्जी के माध्यम से अध्यादेश जारी होने के 60 दिन के भीतर दायर की जा सकती है।

संपादकीय: पाकिस्तान का स्वांग

वृहस्पतिवार को पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायोग के दो अधिकारी उनसे मिलने गए, मगर उन्हें पुनर्विचार याचिका संबंधी कागजात पर दस्तखत लेने से रोक दिया गया। जिस जगह जाधव और राजनयिकों की मुलाकात कराई गई वहां हर वक्त पाकिस्तानी सेना के अधिकारी मौजूद रहे। वहां कैमरे लगाए गए थे और रिकार्डिंग की व्यवस्था थी। यह अंतरराष्ट्रीय नियमों के विरुद्ध है। स्वाभाविक ही भारतीय अधिकारियों ने इस पर एतराज जताया, पर उनकी एक न सुनी गई।

पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव मामले में भारत को दूसरी बार दिया कॉन्सुलर एक्सेस, रखी ये शर्त

शर्त में कहा गया है कि भारतीय अधिकारी से मुलाकात के दौरान जाधव और अधिकारी को अंग्रेजी में बात करनी होगी और इस दौरान पाकिस्तानी अधिकारी भी वहां मौजूद रहेंगे।

Kulbhushan Jadhav Case में पाकिस्तान को ICJ की फटकार- वियना संधि का किया उल्लंघन, नहीं उठाए जरूरी कदम

कोर्ट ने कहा है कि पाकिस्तान वियना संधि का उल्लंघन कर रहा है। इसके साथ ही कोर्ट ने यह भी कहा है कि पाकिस्तान ने इस मामले में अभी तक जरूरी कदम भी नहीं उठाए हैं।

सुषमा स्‍वराज की बेटी ने पूरा किया उनका आखिरी वादा, कुलभूषण मामले के वकील हरीश साल्वे को अदा की 1 रुपए फीस

बांसुरी ने कुलभूषण जाधव मामले को अंतराष्ट्रीय कोर्ट के सामने पेश करने वाले भारतीय वकील हरीश साल्वे को उनकी 1 रूपए की फीस अदा करने के लिए बुलाया था।

कुलभूषण जाधव के काउंसलर एक्सेस पर पलटा पाकिस्तान, भारत बोला- फिर जाएंगे ICJ

पाकिस्तान ने 2 सितंबर को जाधव को काउंसलर एक्सेस दिया था। पाकिस्तान ने इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) में मुंह की खाने की बाद भारत को को काउंसलर एक्सेस पेशकश की थी।

“भारी दबाव में कुलभूषण जाधव, झूठे बयान देने के लिए पाक कर रहा मजबूर”: मुलाकात के बाद बोला भारत

पाकिस्तान में कैद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से भारतीय राजनयिकों ने एक अज्ञात जगह मुलाकात की। भारतीय विदेश मंत्रालय के हवाला से बताया गया है कि जाधव दबाव में दिखाई दे रहे थे और पाकिस्तान उन्हें झूठे आरोप कबूल करने के लिए मजबूर कर रहा है।

3 साल बाद जाधव को पाकिस्तान से मिली कॉन्‍स्‍यूलर एक्‍सेस, कुलभूषण से मिले भारत के उप उच्चायुक्त

पाकिस्तान विदेश कार्यालय ने एक अगस्त को भी कहा था कि भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी को अगले दिन राजनयिक पहुंच दी जाएगी। यह मुलाकात दो अगस्त को अपराह्न तीन बजे होने वाली थी, लेकिन राजनयिक पहुंच की शर्तों को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच मतभेदों के चलते यह बैठक नहीं हो सकी थी।

कुलभूषण जाधव को बिना शर्त काउंसलर एक्सेस देने को राजी हुआ पाकिस्तान, आज होगी मुलाकात

आईसीजे ने जुलाई में भारत के पक्ष में फैसला सुनाते हुए पाकिस्तान को विएना कन्वेंशन के तहत भारत को कुलभूषण जाधव का काउंसलर एक्सेस देने के निर्देश दिए।

पाकिस्‍तान ने कहा- कल मिल सकता है कुलभूषण जाधव से आपका अफसर, भारत बोला- आपको बाद में बताएंगे

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि ‘हम इस ऑफर की समीक्षा करेंगे। ऑफर का आकलन और समीक्षा करने के बाद भारत की तरफ से जो भी जवाब दिया जाएगा वह कूटनीतिक माध्यम के जरिए ही दिया जाएगा।’

भारत की दो टूक- ICJ के फैसले के मुताबिक जाधव को पाकिस्तान दे राजनयिक मदद

जाधव के लिये राहत की बात यह है कि अंतरराष्ट्रीय न्यायालय की 16 सदस्यीय पीठ ने 17 जुलाई को 15-1 के बहुमत से उन्हें मृत्युदंड दिये जाने पर रोक लगा दी थी और पाया था कि पाकिस्तान ने जाधव की गिरफ्तारी के बाद उसे राजनयिक पहुंच मुहैया कराने के भारत के अधिकार का उल्लंघन किया है।

संपादकीयः सच का साथ

कुलभूषण जाधव से पहले भी अनेक मामलों में पाकिस्तानी सैन्य अदालत कई भारतीय नागरिकों को जासूसी और आतंकवादी गतिविधियों में शामिल बता कर दंड सुना चुकी है।

कुलभूषण जाधव मामला: ICJ के फैसले के बाद पाकिस्तान के पास बचें हैं ये विकल्प

हरीश साल्वे के अनुसार, पाकिस्तान को कुलभूषण जाधव मामले में आईसीजे के निर्देशों का पालन करना होगा। यदि पाकिस्तान ऐसा नहीं करता है तो भारत इस मामले को लेकर यूएन भी जा सकता है।

कुलभूषण की फांसी रुकने पर सुषमा स्वराज ने जताई खुशी, इन दो हस्तियों का जताया विशेष आभार

कुलभूषण मामले की जब अंतरराष्ट्रीय अदालत में सुनवाई शुरू हुई तब भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज थीं। उन्होंने इसके लिए पीएम मोदी और वकील हरीश साल्वे का विशेष आभार जताया है।

ICJ Verdict on Kulbhushan Jadhav: 15-1 से भारत के पक्ष में फैसला, कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक; कोर्ट बोला- PAK ने किया विएना कन्वेंशन का उल्लंघन

ICJ Verdict on Kulbhushan Jadhav: पाकिस्तानी सैन्य अदालत ने अप्रैल 2017 में बंद कमरे में सुनवाई के बाद ‘‘जासूसी और आतंकवाद’’ के आरोपों में भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी जाधव (49) को मौत की सजा सुनाई थी।

जेनेवा में पाकिस्‍तानी AG से हुआ सामना तो भारतीय अफसर ने नहीं मिलाया हाथ, नमस्‍ते से दिया जवाब

Kulbhushan Jadhav Case: अप्रैल 2017 में 48 वर्षीय जाधव को पाकिस्तान के मिलिट्री कोर्ट ने मौत की सजा सुनाई थी। पाक ने उन पर जासूसी और आतंकवाद के आरोप लगाए थे, जबकि उसी साल मई में भारत पड़ोसी मुल्क के फैसले को लेकर न्याय के लिए आईसीजे पहुंचा था।

कुलभूषण जाधव मामले पर ICJ में सुनवाई शुरु, वकील हरीश साल्वे ने पाकिस्तान को घेरा

आईसीजे में भारत का पक्ष रख रहे वकील हरीश साल्वे ने कहा कि पाकिस्तान ने जाधव को कांउसलर एक्सेस नहीं दिया है।

ये पढ़ा क्या?
X