Kamalnath

MP: 68 दिन पहले 18 करोड़ में छपे थे शिवराज की फोटो वाले स्मार्ट कार्ड, कमलनाथ सरकार ने किया निरस्त

शिवराज सरकार ने चुनाव से पहले संबल योजना के अंतर्गत 1.80 करोड़ मजदूरों के लिए स्मार्ट कार्ड छपवाए थे। जो करीब 68 दिन में ही बेकार हो गए हैं।

टीवी डिबेट में नाराज हुईं एंकर, मोबाइल उठा रागिनी नायक से कहा- राहुल गांधी से ट्वीट करवाइए

कमलनाथ ने कहा था कि “यूपी-बिहार के लोगों को रोजगार मिलने से स्थानीय लोगों में बेरोजगारी बढ़ी है। वो यह सुनिश्चित करेंगे कि जो उद्योग राज्य में लगें, उनमें भर्तियों में 70% स्थानीय लोगों को रोजगार मिले।”

MP के हिस्से की खाद राजस्थान, पंजाब और हरियाणा को दी गई, किसान परेशान हुए तो एक्शन मोड में आए कमलनाथ

मध्य प्रदेश में रबी सीजन में किसानों के सामने यूरिया का संकट खड़ा हो गया है। जिसके चलते पिछले पांच दिनों से प्रदेश में अलग अलग स्थानों पर विरोध प्रदर्शन के बाद शुक्रवार को सीएम कमलनाथ एक्शन मोड में नजर आए।

शिवराज सरकार में जिस बंगले से बेदखल हुए थे दिग्विजय सिंह उसे कमलनाथ ने वापस दिया

हाईकोर्ट के आदेश के बाद मध्य प्रदेश के सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगला खाली करने का आदेशी जारी हुआ। इसमें दिग्विजय सिंह, उमा भारती, कैलाश जोशी और बाबूलाल गौर शामिल थे। लेकिन, बाद में राज्य सरकार ने दिग्विजय सिंह को छोड़ सभी पूर्व सीएम को बंगले अलॉट कर दिए।

यूपी-बिहार वालों को अपने राज्य में नौकरी नहीं देना चाहते कानपुर में जन्मे यह मुख्यमंत्री!

कानपुर में जन्म लेने वाले और देहरादून-कोलकाता में पढ़ाई करने वाले एक सीएम ने कहा कि मेरे राज्य में यूपी वालों को नौकरी में वरीयता नहीं मिलेगी। यह व्यक्ति कोई और नहीं, बल्कि मध्यप्रदेश के नव-निर्वाचित मुख्यमंत्री कमलनाथ हैं।

CM कमलनाथ ने लिया फैसला- मध्य प्रदेश में नौकरियों पर यूपी-बिहार के लोगों से पहले स्थानीय युवाओं का हक

मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद कमलनाथ ने विवादित फैसला लिया है। इसके मुताबिक, मध्यप्रदेश में ऐसे ही उद्योगों को छूट मिलेगी, जो 70 प्रतिशत रोजगार स्थानीय लोगों को देंगे।

1984 सिख विरोधी दंगे: गवाहों ने लिया था कमलनाथ का नाम, आयोग ने कहा- दोषी ठहराना संभव नहीं

सिख विरोधी दंगे की जांच के लिए गठित नानावती आयोग ने संसद के समीप गुरुद्वारा रकाबगंज पर हमले की जांच के दौरान पाया साक्ष्य ये बताता है कि वे भीड़ में देखे गए थे लेकिन बेहतर साक्ष्य के अभाव में यह कहना संभव नहीं है कि उन्होंने ने किसी तरह से भीड़ को उकसाया या वे गुरुद्वारे पर हमले में शामिल थे।

पार्टी ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करने कहा था, पर कमलनाथ के शपथ ग्रहण में चले गए शिवराज

बीजेपी की योजना के मुताबिक, शिवराज को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कॉन्फ्रेंस करनी थी, पर शिवराज वहां नहीं पहुंचे। उनकी जगह पर केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने लखनऊ में पत्रकारों को पार्टी की ओर से संबोधित किया।

कमलनाथ के शपथ से AAP का किनारा, संजय सिंह बोले थे- काले अतीत वालों को सजा दिला कर रहेंगे

साल 1984 के सिख विरोधी दंगा मामले में सोमवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने कांग्रेस के दिग्गज नेता सज्जन कुमार को दोषी करार देते हुए उम्र कैद की सजा सुनाई।

मध्यप्रदेश : 25 साल पहले भी सीएम बनने की लिस्ट में था कमलनाथ का नाम, लेकिन इसलिए चूक गए

1993 में भी कमलनाथ के एमपी का मुख्यमंत्री बनने की चर्चा थी। उस वक्त अर्जुन सिंह ने दिग्विजय सिंह का नाम आगे कर दिया। इस तरह कमलनाथ 25 साल पहले सीएम बनने से चूक गए थे।

वोटिंग के बाद बोले कमलनाथ- दो चीजें शांति से निपट गईं- एक चुनाव और दूसरा BJP

Madhya Pradesh (MP) Election/Chunav 2018: 28 नवंबर, 2018 को मध्य प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों के लिए मतदान किया गया है। शाम छह बजे तक 74.61 फीसद वोटर्स ने वोटिंग की थी।

MP Election 2018: वोट देकर बूथ से निकले कमलनाथ ने इशारे से दिखाया कांग्रेस का निशान? टि्वटर पर छिड़ी बहस

Madhya Pradesh (MP) Election/Chunav 2018: नियमों के मुताबिक कोई भी व्यक्ति पोलिंग बूथ पर किसी भी राजनैतिक पार्टी का प्रचार नहीं कर सकता है और यदि कोई व्यक्ति या नेता ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।

कार्यकर्ताओं से बोले कमलनाथ- 90 फीसदी मुस्लिम वोट हमें न मिले तो हमें होगा बड़ा नुकसान!

राज्य में 28 नवंबर को मतदान होना है। उससे पहले वायरल हुई क्लिप में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, लोकसभा सांसद व सीएम पद के मुख्य दावेदार माने जा रहे कमलनाथ ने कई और बड़ी बातें भी कहीं।

Madhya Pradesh Elections: आरएसएस पर वायरल हो रहा कमलनाथ का VIDEO, संबित पात्रा ने दिया ये जवाब

मध्यप्रदेश में सियासत गर्माती जा रही है, ऐसे में कांग्रेस प्रमुख कमलनाथ अक्सर अपने बयानों के चलते सुर्खियों में रहते हैं। ऐसे में कमलनाथ का RSS और हिंदू-मुस्लिमों पर एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा है।

MP का फोटो बता कमलनाथ ने शेयर किया बांग्लादेश का फोटो, CM शिवराज सिंह चौहान ने यूं किया पलटवार

वायरल फोटो में कालीन की तरल रोल होती दिख रही सड़क बीते दो सालों में चार देशों की बताई जा चुकी है, जबकि असल में यह बांग्लादेश की है।

यह पढ़ा क्या?
X