jansatta delhi meri delhi

दिल्ली मेरी दिल्ली: राजधानी की गतिविधियां

पत्रकारिता धर्म दिल्ली नगर निगम का एक आला अधिकारी इन दिनों पत्रकारों को भी कई मायने में पीछे छोड़ रहा है। निगम के बंटवारे से पहले से ही बेदिल को इस अधिकारी के बारे में सारी जानकारी है। अब बंटवारे के बाद जब उनकी तैनाती पूर्वी निगम में हुई तो वे प्रतिदिन निगम का एक […]

दिल्ली मेरी दिल्ली

कोरोना संक्रमण मैदान में सक्रिय कर्मचारियों से लेकर नेताओं को अपना शिकार बना रहा है। अब तक राजनीति चमकाने के लिए आगे आ रहे नेताओं में अब इसका खौफ साफ नजर आ रहा है।

दिल्ली मेरी दिल्ली

राजनेता चाहे छोटा हो या बड़ा हर कोई अखबारों में छपने के लिए हर तरकीब अपनाते हैं। कई बार देखने को मिलता है कि वे छोटे-मोटे मुद्दे को बड़ा कर पेश करते हैं ताकि उनका नाम भी समाचार पत्रों में ज्यादा छपे और वह अपने प्रदेश अध्यक्ष या फिर पार्टी के आला कमान के समाने कह सकें कि वह हर मुद्दे पर जानकारी रखते हैं।

दिल्ली मेरी दिल्ली

मास्क आजकल फायदे के साथ पुलिस के लिए घाटे का सौदा बनता जा रहा है। कोरोना महामारी की वजह से मास्क पहनना सभी के लिए अनिवार्य है। पर यही मास्क असमाजिक तत्वों के लिए सुनहरा मौका लेकर आया है। खासकर चोरी और सेंधमारी की वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों के लिए यह पहचान छुपाने का एक आसान साधन बन गया है।

दिल्ली मेरी दिल्ली

दिल्ली भाजपा में नई टीम बनाने का घमासान पूरे सप्ताह चला। आने वाले दिनों में प्रदेश टीम को लेकर भी यह तनातनी साफ नजर आएगी। इस पूरे बवाल में नई टीम ने पुरानी टीम को दरकिनार करने की कोशिश की है।

दिल्ली मेरी दिल्ली

दिल्ली के चुनावों की वजह से राजनीतिक दलों की अदला-बदली का दौर भी शुरू हुआ है। भाजपा, कांग्रेस व आप में कई इलाकों से नए चेहरे जुड़ने के लिए सामने आए हैं। इन कोशिशों में जहां एक तरफ पार्टी में नए लोगों को जुड़ने वालों को नेता अपने इलाके में काम की कोशिशों का परिणाम बता रहे हैं। वहीं, और कांग्रेस ने ऐसे नेताओं को ही रिजेक्टिड कचरा बता दिया है। इस कचरे को स्वीकार करने के लिए आम आदमी पार्टी को बधाई भी दी है।

दिल्ली मेरी दिल्ली- खबरों में रहना

नेताओं को खबरों में बने रहने की बड़ी ललक रहती है। लेकिन ज्यादातर की ललक पूरी नहीं होती है। अपने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इसमें अव्वल माने जाते हैं।

ये पढ़ा क्या?
X