international relations

राजनीति: सवालों में फिलस्तीन का भविष्य

बदलती परिस्थितियों में फिलस्तीन का भविष्य इजराइल की उस मंशा के अनुसार नजर आ रहा है, जिसके संकेत पूर्व में ही मिल चुके हैं। इजराइल के प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू का विश्वास रहा है और वे कहते भी आए हैं कि फिलस्तीनी समस्या के समाधान को परे रख कर भी अरब देशों के साथ शांति समझौते किए जा सकते हैं।

राजनीति: क्‍वाड की रणनीति में चीन

चीन का समुद्री विस्तारवाद हिंद-प्रशांत क्षेत्र में स्थित अमेरिकी सैन्य अड्डों को भविष्य में चुनौती देगा। एशिया में अमेरिका के अपने हित हैं। इन्हें साधने के लिए ही वह जापान और भारत के साथ मजबूत गठजोड़ चाहता है। चूंकि दोनों देशों का चीन से पुराना विवाद है, इसलिए अमेरिका को गठजोड़ बनाने
में कोई दिक्कत नहीं है।

चीनी कंपनियों पर सुरक्षा प्रतिबंध लगाए जाने से भारत को होगा नुकसानः चीनी मीडिया

चीनी कंपनियों पर सुरक्षा प्रतिबंध कड़े करने के संबंध में भारत के विचार करने संबंधी खबरों के बीच, चीन के आधिकारिक मीडिया ने आज कहा कि इस तरह के कदम से भारत को अधिक नुकसान होगा।

नेपाल का ‘बड़ा भाई’ है भारत, ‘दादा’ नहीं: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज

मधेसी आंदोलन से संबंधों में जमी बर्फ के पिघलने के बीच भारत ने सोमवार को कहा कि वह नेपाल का बड़ा भाई है न कि दादा। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि भारत हमेशा ही अपने पड़ोसियों की मदद करेगा और कभी भी परेशानियों का स्रोत नहीं बनेगा।

ये पढ़ा क्या?
X