Indian Cricket Team

BCCI यूएई में आईपीएल कराने का बना रहा है प्लान, 17 जुलाई को लग सकती है मुहर

सौरव गांगुली ने कहा था कि आईपीएल और टी20 वर्ल्ड कप के आयोजन के बारे में जुलाई के मध्य तक सबको पता चल जाएगा। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि एपेक्स काउंसिल की बैठक में आईपीएल के आयोजन को लेकर कोई घोषणा हो सकती है।

जब धोनी ने युजवेंद्र चहल को छक्का खाने से बचाया, भारतीय स्पिनर ने कहा- वे 40 ओवर के बाद बन जाते हैं ‘कप्तान’

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पिछले एक साल से ज्यादा समय से पेशेवर क्रिकेट से दूर हैं। उन्होंने अपना पिछला मुकाबला न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में खेला था।

जब चोटिल विनोद कांबली को गालियां देने लगे थे दर्शक…वरुण ग्रोवर ने बयां की क्रिकेट मैच की आंखों देखी

विनोद कांबली ने भारत के खिलाफ 17 टेस्ट में 54 की औसत से 1084 रन बनाए थे। 227 रन उनका उच्चतम स्कोर था। 104 वनडे में उन्होंने 32.6 की औसत से 2477 रन बनाए। टेस्ट में उनके नाम 4 और वनडे में 2 शतक है।

‘सौरव गांगुली की वजह से आईसीसी ट्रॉफी जीत सके महेंद्र सिंह धोनी’, वर्ल्ड कप फाइनल के हीरो का दावा

टेस्ट कप्तान के तौर पर टीम इंडिया को नंबर एक पोजिशन पर ले जाने का श्रेय भी धोनी को जाता है। गंभीर का कहना है कि यह तेज गेंदबाज जहीर खान की बदौलत हुआ।

पाकिस्तानी कप्तान ने बताया क्यों वर्ल्ड कप में भारत से नहीं जीती उनकी टीम, चैंपियन टीम का सदस्य नहीं होने का है अफसोस

भारतीय टीम वर्ल्ड कप में अब तक पाकिस्तान के खिलाफ 7 बार खेली है और उसे हर बार हराया है। पिछली बार सरफराज अहमद की कप्तानी में 2019 वर्ल्ड कप में भी पाकिस्तानी टीम हारी थी।

शाहरुख खान ने दीपिका पादुकोण को लेकर की थी MS Dhoni और युवराज सिंह की खिंचाई, माही को बना दिया था ‘डॉन’

शाहरुख खान और महेंद्र सिंह धोनी के अलावा युवराज सिंह, रॉबिन उथप्पा और टीम इंडिया के कई खिलाड़ी कार्यक्रम में मौजूद थे। वहां शाहिद अफरीदी, शोएब अख्तर, शोएब मलिक और उमर गुल भी थे।

जब रोहित शर्मा बने थे वर्ल्ड कप में 5 शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज, श्रीलंका के खिलाफ ही तोड़ा था संगाकारा का रिकॉर्ड

श्रीलंका के खिलाफ केएल राहुल और रोहित शर्मा ने पहले विकेट के लिए 189 रनों की साझेदारी की। राहुल ने 118 गेंदों पर 111 रन बनाए। उन्होंने 11 चौके और एक छक्का लगाया। दूसरी ओर, रोहित शर्मा ने 94 गेंदों पर 103 रन बना दिए। उन्होंने अपनी पारी में 14 चौके और दो छक्के लगाए।

विराट कोहली से बाबर आजम की तुलना करने पर पहली बार बोले इंजमाम, कहा- स्टार है पाकिस्तानी कप्तान

बाबर आजम ने 16 अंतरराष्ट्रीय शतक जमाए हैं। वनडे और टी20 में उनका औसत 50 से अधिक है जबकि टेस्ट में उनका औसत 45.12 है। विराट के खाते में 70 अंतरराष्ट्रीय शतक हैं और तीनों प्रारूपों में उनका औसत 50 से अधिक है।

केएल राहुल नहीं ऋषभ पंत ही ले सकते हैं महेंद्र सिंह धोनी की जगह, ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ब्रैड हॉज का दावा

खराब विकेटकीपिंग के कारण ऋषभ पंत को टीम से बाहर किया गया था। साथ ही उनके बल्लेबाजी में निरंतरता की कमी थी। पंत की जगह ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में केएल राहुल ने विकेटकीपिंग की थी।

‘इंडियन टीम से बाहर होने पर टेनिस बॉल से भी लगता था डर, फिर जूनियर खिलाड़ियों संग खेली क्रिकेट’, भारतीय विकेटकीपर का खुलासा

पार्थिव पटेल को 2001 में बॉर्डर-गावस्कर स्कॉलरशिप के लिए चुना गया था। वे 2002 अंडर-19 वर्ल्ड कप में टीम के कप्तान थे। इसके 6 महीने के बाद ही उन्हें टेस्ट टीम में शामिल कर लिया गया था। उन्होंने अपना पहला टेस्ट इंग्लैंड के खिलाफ नॉटिंघम में खेला था।

विराट कोहली दुनिया के सबसे मेहनती क्रिकेटर, बनना चाहते हैं दुनिया में बेस्ट; बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर का दावा

विराट कोहली ने 86 टेस्ट में 7240 रन बनाए हैं। 248 वनडे में उनके नाम 11867 रन हैं। इसके अलावा टी20 में उन्होंने 82 मुकाबलों में 2794 रन बनाए हैं।

भारतीय ओपनर ने मानी क्रिकेट में वंशवाद की बात, लेकिन कहा- आईपीएल में नीलामी में शक्ल देखकर नहीं खरीदे जाते खिलाड़ी

आकाश चोपड़ा ने कहा कि रोहन गावस्कर सिर्फ सुनील गावस्कर के बेटे थे तो इस पर उन्हें बहुत सारे टेस्ट और वनडे खेल लेने थे। ऐसा हुआ नहीं। बंगाल के लिए बेहतरीन प्रदर्शन करने के बाद ही उन्हें भारत के लिए खेलने का मौका मिला था।

1983 वर्ल्ड कप को लेकर युवराज सिंह और रवि शास्त्री में भिड़ंत, भारतीय कोच ने लिया पुराना बदला

2011 वर्ल्ड कप जीत के 9 साल पूरे होने पर रवि शास्त्री ने ट्वीट किया था। उसमें उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी और युवराज सिंह का नाम नहीं लिखा था। तब युवराज ने उनसे कहा था कि आप मेरा और धोनी का नाम टैग कर सकते थे।

बलविंदर संधू की आउटस्विंगर ने रखी थी भारत के वर्ल्ड चैंपियन बनने की नींव, ‘हनीमून’ पर गई टीम इंडिया ने रचा था इतिहास

वेस्टइंडीज की टीम की ओपनिंग जोड़ी उस वक्त दुनिया में सबसे बेहतरीन थी। गॉर्डन ग्रीनिज के साथ डेसमंड हेंस बल्लेबाजी के लिए उतरे। ऐसा लग रहा था कि दोनों टीम को 10 विकेट से जीत दिलाएंगे। उनके बाद बल्लेबाजी के लिए आने वाले रिचर्ड्स, कप्तान क्लाइव लॉयड और लैरी गोमेज का नंबर नहीं आएगा।

कड़वी यादें: 46 साल पहले 24 जून को 42 रन पर सिमट गई थी टीम इंडिया, 10 बल्लेबाज नहीं छू पाए थे दहाई का आंकड़ा

भारतीय टीम अजीत वाडेकर की अगुआई में इंग्लैंड दौरे पर गई थी। टीम इंडिया टेस्ट सीरीज का पहला मैच 113 रन से हार चुकी थी। दूसरा मैच 20 से 24 जून के बीच लार्ड्स में खेला गया था।

कोरोना का असर: भारतीय क्रिकेटरों ने 3 महीने बाद की नेट प्रैक्टिस, लार के बिना अभ्यास करते दिखे गेंदबाज

इस बीच, कई भारतीय क्रिकेटरों ने भी मैदान पर उतरकर अपनी बल्लेबाजी और गेंदबाजी को धार देने की कोशिश शुरू कर दी है। आईसीसी के प्रतिबंध के बाद भारतीय गेंदबाज बॉल पर लार का इस्तेमाल किए बिना बॉलिंग की प्रैक्टिस कर रहे हैं।

गैरी कर्स्टन के कोच बनते ही सचिन तेंदुलकर लेना चाहते थे संन्यास, जानिए गुरु गैरी कैसे बने उनके लिए संजीवनी

कर्स्टन के कोचिंग काल में तेंदुलकर की बल्लेबाजी वास्तव में चरम पर थी। कर्स्टन को 2008 में टीम इंडिया का कोच नियुक्त किया गया था। सचिन ने 2008 से 2011 के बीच सात शतकों के साथ 2149 एकदिवसीय रन बनाए। 2010 में, वह वनडे में दोहरा शतक लगाने वाले पहले व्यक्ति बने।

मोहम्मद अजहरुद्दीन बनना चाहते हैं टीम इंडिया के हेड कोच, पद संभालते ही कर देंगे बैटिंग कोच की छुट्टी

अजहर को इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आयोजन की भी पूरी उम्मीद है। उन्होंने कहा, ‘मुझे उम्मीद है कि अंततः लीग को एक विंडो मिल सकती है। लीग ने पिछले 10-12 साल में खेल को बहुत कुछ दिया है।’

ये पढ़ा क्या?
X