India china border dispute

चौपाल: जरूरी कदम

चीन का सामना करने के अनेक कारगर कदमों के बीच एक बार फिर भारत ने तैंतालीस मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगा कर चीन को करारा तमाचा जड़ा है। इससे निश्चित ही चीन को झटका लगना है। सरकार ने आइटी एक्ट 69-ए के तहत इन ऐप को ब्लॉक किया है। यानी अब भारत के लोग इन ऐप का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।

डोकलाम में भारत के लिए फिर मुश्किलें खड़ी कर सकता है चीन, सैटेलाइट तस्वीरों से मिले संकेत

इस बार चीन की तरफ निर्माण ने इस रिज तक संपर्क बनाने का प्रयास किया है। चीन ने सड़क को भारतीय सेना की डोका ला पोस्ट के समीप तक बना दिया है। यह पोस्ट सिक्किम और डोकाला की सीमा के बीच पड़ती है।

भूटान के भीतर चीन का बस गया गांव? जहां डोकलाम पर हुआ था आमना सामना, वहां से महज 9Km दूर लोकेशन होने का दावा

बताया गया है कि चीन का यह नया गांव- पांगड़ा भूटान के क्षेत्र में दो किलोमीटर अंदर है, हालांकि भारत में भूटान के राजदूत ने इन खबरों को गलत बताया।

चीनी मीडिया ने लद्दाख में डिसइंगेजमेंट की खबर को नकारा, कहा- अच्छी बातचीत हुई लेकिन पीछे हटने की बात सही नहीं

‘ग्‍लोबल टाइम्‍स’ ने कहा कि दोनों सेनाओं के बीच अच्छी बातचीत हुई लेकिन पीछे हटने की बात सही नहीं है। अखबार ने कहा “पूर्वी लद्दाख में अग्रिम मोर्चों से भारत और चीन के सैनिकों, टैंकों, तोपों और हथियारों से लैस वाहनों को वापस लेने पर कोई सहमति नहीं बनी है।”

चीन के तनाव के बीच भारत को जल्द एस-400 मिसाइल देगा रूस, कहा- कड़ी मेहनत कर रहे

रूसी मिशन के उप प्रमुख रोमन बबुशिकन ने एक आॅनलाइन मीडिया ब्रींिफग में यह भी कहा कि दोनों पक्ष परस्पर साजोसामान समर्थन (लॉजिस्टिक सपोर्ट) समझौते पर काम कर रहे हैं।

चीन के एलएसी से पीछे हटने के प्रस्ताव पर सुब्रमण्यम स्वामी की चेतावनी, बोले- डेपसांग से हटे PLA तो ही करें समझौता

हाल ही में न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट में कहा गया था कि 6 नवंबर को लद्दाख के चुशुल में जो बैठक हुई थी, उसमें दोनों सेनाओं के बीच LAC पर पहले जैसे हालात कायम रखने पर सहमति बनी है।

पूर्वी लद्दाख में पीछे हटने को राजी हुआ चीन, टैंक और गोलबारूद लेकर फिंगर 8 में जाएगा वापस

6 महीने के तनाव के बाद आखिरकार चीनी सेना पैंगोंग लेक एरिया से वापस जाने को तैयार है। यह प्रस्ताव चीन की ही तरफ से आया है। हालांकि अभी औपचारिक ऐलान नहीं किया गया है।

इधर भारत-चीन में 8वें दौर की बातचीत, उधर CDS बोले- चीन LAC पर अपनी हरकतों का अप्रत्याशित अंजाम भुगत रहा

भारत और चीन की सेनाओं के बीच अगस्त में फायरिंग की घटना हुई थी। दशकों बाद हुई इस घटना के बाद से अब तक दोनों देशों के बीच टकराव की स्थिति बनी हुई है।

जिनपिंग संग मीटिंग न करें PM मोदी, रक्षा मंत्री से कहलवाएं ‘चीन पीछे हटे’- चीन से तनातनी के बीच BJP सांसद ने दिया सुझाव

सुब्रमण्यन स्वामी ने पीएम मोदी को सलाह दी है कि वह चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ किसी भी तरह की बात न करें। उन्होंने कहा कि इसके लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को भेजा जाए और वह चीन से पीछे हटने को कहें।

फौजियों का हाल जानने लेह जाना चाहते थे सांसद, रक्षा मंत्रालय बोला- नहीं

बताया गया है कि पीएसी पहले 28 और 29 अक्टूबर को लद्दाख जाना चाहती थी, पर पैनल के कुछ सासंदों ने बिहार चुनाव के मद्देनजर दौरे की तारीख बदलने पर जोर दिया था।

ताइवान संग भारत की ट्रेड डील की चर्चा पर भड़का चीन, कहा- वन चाइना का करें सम्मान

चीनी विदेश मंत्रालय की ओर से हिंद-प्रशांत क्षेत्र में भारत की तरफ से आयोजित होने वाले मालाबार नौसेना युद्धाभ्यास पर भी बयान दिया गया।

कब्जे में लिए गए चीनी सैनिक को भारत ने छोड़ा, डेमचोक सेक्टर से की थी सीमा पार

सूत्रों का कहना है कि पीएलए के सैनिक से जरूरी पूछताछ की गई, उससे सीमापार चीनी सेना के फॉर्मेशन की जानकारी ली गई।

‘दोनों पक्षों के बीच कुछ बेहद गोपनीय हो रहा’, LAC तनाव पर चीन से बातचीत को लेकर बोले विदेश मंत्री

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि वे फिलहाल चीन और भारत के बीच जारी गुप्त बातचीत पर सार्वजनिक तौर पर ज्यादा कुछ नहीं कह सकते।

J&K के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला ने दिया विवादित बयान, कहा- चीन की मदद से फिर बहाल होगा अनुच्छेद 370

फारूक अब्दुल्ला पहले भी कई विवादित बयान दे चुके हैं। अब अब्दुल्ला का कहना है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म करने की वजह से भारत-चीन सीमा पर तनाव की शुरुआत हुई है।

भारत के उत्तरी बॉर्डर पर चीन ने जुटा लिए हैं 60 हजार सैनिक- LAC विवाद के बीच US विदेश मंत्री की चेतावनी

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि क्वाड देशों पर चीन की कम्युनिस्ट पार्टियों की ओर पैदा किए गए खतरों का जोखिम बढ़ रहा है।

दुश्मनों के रडार को तबाह कर देगी भारत की यह खास मिसाइल, आवाज से दोगुनी रफ्तार, सुखोई फाइटर जेट से की गई सफल टेस्टिंग

भारत की डिफेंस रिसर्च डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) पिछले कुछ दिनों में लगातार मिसाइल की टेस्टिंग कर रही है, पिछले 10 दिन में संस्थान ने ब्रह्मोस और शौर्य मिसाइल का भी परीक्षण किया था।

चीन की नई चाल! PoK में पाकिस्तान को नए मिसाइल सिस्टम बनाने में मदद कर रहा ‘ड्रैगन’- इंटेलिजेंस इनपुट्स का खुलासा

भारतीय खुफिया एजेंसी R&AW के सूत्रों का कहना है कि ऐसे ही अन्य निर्माणों की जानकारी पीओके में दो स्थानों से भी मिली है।

चीन से तनाव के बीच रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट से डोकलाम संकट के बाद की सभी मासिक रिपोर्ट गायब

सूत्रों का कहना है कि इन रिपोर्ट्स को तैयार और साझा करने वाले आंतरिक तंत्र को साफ किया जा रहा है, ताकि आने वाले समय में इन्हें और विस्तृत बनाया जा सके।

ये पढ़ा क्या?
X