Income Tax Return

फेसलेस इनकम टैक्स अपील की आज से हुई शुरुआत, जानें- टैक्सपेयर्स कैसे उठा सकते हैं फायदा

फेसलेस असेसमेंट की क्यों है जरूरत: सरकार का कहना है कि इसका मकसद यह है कि टैक्स के मामलों का तेजी से क्लियरेंस हो सके। इसके अलावा टैक्सपेयर्स और ऑफिसर्स के बीच इंटरफेस कम हो सके।

इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए बेहद जरूरी हैं ये दस्तावेज, मेडिकल इंश्योरेंस से एफडी तक जानें किसका क्या काम

टैक्सपेयर अपने इनकम टैक्स रिटर्न भरते वक्त केंद्र सरकार के खजाने में दिए गए टैक्स का उल्लेख Form 26AS में कर उसे अपने Form 16 के साथ टेली कर सकते हैं। सरकार ने बीते साल ही नया फॉर्म 26AS जारी किया है।

बैंक खाते में ट्रांसफर हुई ऐसी रकम पर आपको देना पड़ सकता है 85 फीसदी तक टैक्स, यूं बरतें सावधानी

पैसे, सोना और अन्य कीमती सामानों के अलावा भी अगर किसी टैक्सपेयर के खाते में कोई कैश क्रेडिट हुआ है, जिसका स्रोत नहीं है या कागजी जानकारी नहीं दी गई है अथवा संबंधित अधिकारी संतुष्ट नहीं है तो उस पर भी भारी टैक्स लगाया जाएगा।

इनकम टैक्स रिटर्न से आधार लिंक करना है जरूरी, जानें- कैसे बेहद आसानी से कर सकते हैं यह काम

इनकम टैक्स रिटर्न में अब आधार कार्ड के बारे में जानकारी देना जरूरी हो गया है। इसके अलावा दोनों को हमेशा के लिए लिंक भी कर सकते हैं। भले ही आपने अब तक यह काम न किया हो, लेकिन यह प्रक्रिया बहुत ज्यादा जटिल नहीं है।

इनकम टैक्स रिटर्न भरने को नए फॉर्म हुए जारी, 1 लाख से ज्यादा के बिजली बिल की भी देनी होगी जानकारी, जानें- क्या हुए बदलाव

यदि आपने अपने चालू खाते में 1 करोड़ रुपये से अधिक जमा किए हैं, अंतरराष्ट्रीय यात्रा पर 2 लाख रुपये से ज्यादा खर्च किया है या फिर 1 लाख रुपये से ज्यादा की बिजली खर्च की है तो फिर आपको उसकी जानकारी इनकम टैक्स रिटर्न में देनी होगी।

Coronavirus संकट पर वित्त मंत्री का ऐलान- अब 30 जून तक भरा जा सकेगा इनकम टैक्स रिटर्न, लेट भुगतान 12% से घटाकर हुआ 9 फीसदी

सरकार ने TDS पर ब्याज दर 18% से घटाकर 9 प्रतिशत कर दी है। ‘विवाद से विश्वास योजना’ के तहत सरकार ने ITR संबंधी विवाद निपटारे की अन्तिम तारीख भी 30 जून तक बढ़ा दी है।

आयकर रिटर्न दाखिल करने के बाद ऐसे पाएं ई-रीफंड

इनकम टैक्स रिटर्न भरने के बाद अधिकांश लोग रिफंड का इंतजार करते हैं। बहुत से लोगों का रिफंड कुछ वजहों से रुक जाता है। आइए जानते हैं कि ई—रिफंड पाने के लिए क्या सावधानियां रखना जरूरी है।

इनकम टैक्‍स रिटर्न में नहीं सौंपे ये दस्‍तावेज तो सावधान! करना पड़ेगा यह काम

उचित टैक्स जमा नहीं करने वालों की पहचान करने और उनकी निगरानी करने के लिए नॉन-फाइलर्स मॉनिटरिंग सिस्टम (एनएमएस) के माध्यम से एक विश्लेषण किया गया था। इसके बारे में डेटाबेस में विशिष्ट जानकारी उपलबध थी।

INCOME TAX रिटर्न भरने वालों के लिए खुशखबरी, जल्द मिलेगी यह सुविधा

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आयकर विवरण की ई-फीलिंग, जांच-पड़ताल और कर रिफंड की पूरी प्रक्रिया को और त्वारित तथा सुगम बनाने के लिए अगली पीढ़ी की प्रणाली लागू करने की एक योजना को बुधवार को मंजूरी दी है।

कहीं आधार नंबर भरते समय आप भी तो नहीं कर रहे ये गलती? फॉर्म हो सकता है रिजेक्‍ट

आधार परियोजना संचालित करने वाली यूनिक पहचान प्राधिकरण ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। प्राधिकरण के एक अधिकारी ने कहा कि आईटी विभाग के सिस्टम में कमियों के साथ यूआईडीएआई का कोई लेना-देना नहीं है।

इनकम टैक्स रिटर्न भरने की अंतिम तारीख हुई 5 अगस्त, नहीं भरा तो क्‍या हो सकता है, जान‍िए यहां

Income Tax Return Last Date 2017: आप अगर आखिरी तारीख के बाद रिटर्न फाइल करते हैं तो आपको कुछ फायदे नहीं मिलेंगे।

इनकम टैक्स रिफंड क्लेम करने का ये है आसान तरीका

Income Tax Refund Claim Online: रिफंड कॉलम में अगर आपको रिफंड अमाउंट आ रहा है तो इसका मतलब है कि आपने अपने ऑरिजनल टैक्स से ज्यादा टैक्स दिया है।

अगर टैक्स रिटर्न फाइल करते समय कर दी हैं ये 6 गलतियां, तो मिल सकता है सरकारी नोटिस

Income Tax Return: आईटीआर फाइल करते समय अपने सभी बैंक खातों की जानकारी देना जरूरी है।

ऐसे करें ऑनलाइन और ऑफलाइन इनकम टैक्स रिटर्न का वेरिफिकेशन

Income Tax Return E Filling: इनकम टैक्स रिटर्न का तीन तरीके से ई वेरिफिकेशन किया जा सकता है।

जानिए, फॉर्म-16 नहीं होने पर इनकम टैक्स रिटर्न भरने में कैसे मदद करता है फॉर्म 26AS, कहां और कैसे मिलेगा?

Income Tax ITR Form 26AS: अगर आपके नियोक्ता आपकी सैलरी से आय कर काटते हैं तो उसका पूरा विवरण आय कर विभाग के पास होता है।

इनकम टैक्स रिटर्न कैसे भरें, ये है ऑनलाइन आईटीआर फाइल करने का तरीका

How to File Income Tax Return: रजिस्ट्रेशन के समय ऐसा मोबाइल नंबर डालें जिसपर आपको ओटीपी आसानी से मिल सके।

पहली बार इनकम टैक्स रिटर्न फाइल कर रहे हैं? ये है ऑनलाइन फाइल करने का आसान तरीका

How to File Income Tax Return: सालाना 5 लाख रुपये से ज्यादा आय वालों के लिए ऑनलाइन आईटीआर फाइल करना अनिवार्य है।

इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करते वक्‍त इन बारीक बातों का ख्‍याल रखेंगे तो नहीं आएगा नोटिस

घर खरीदने के लिए हाउसिंग लोन लेते हैं तो उस पर चुकाए गए ब्‍याज और मूलधन पर टैक्‍स छूट मिलती है। लेकिन यहां यह ख्‍याल रखने वाली बात है कि यह छूट तभी मिलेगी, जब आप पांच साल तक वह घर बेचेंगे नहीं।

यह पढ़ा क्या?
X