how to file income tax return

इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए बेहद जरूरी हैं ये दस्तावेज, मेडिकल इंश्योरेंस से एफडी तक जानें किसका क्या काम

टैक्सपेयर अपने इनकम टैक्स रिटर्न भरते वक्त केंद्र सरकार के खजाने में दिए गए टैक्स का उल्लेख Form 26AS में कर उसे अपने Form 16 के साथ टेली कर सकते हैं। सरकार ने बीते साल ही नया फॉर्म 26AS जारी किया है।

24 लाख टैक्सपेयर्स को 88,652 करोड़ का रिफंड जारी, ऐसे जानें- कहां अटका है आपका इनकम टैक्स रिफंड

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड की ओर से 23,05,726 पर्सनल टैक्सपेयर्स को 28,180 करोड़ रुपये का इनकम टैक्स रिफंड जारी किया गया है। इसके अलावा 1,58,280 संस्थानों को 60,472 करोड़ रुपये की रकम जारी की गई है।

इनकम टैक्स रिफंड पाना है तो करना होगा यह काम, वरना करते रह जाएंगे इंतजार, जानें- क्या है पूरी प्रक्रिया

यदि आपने इनकम टैक्स रिटर्न फाइल किया है और रिफंड का इंतजार कर रहे हैं तो आपको उससे पहले एक और काम करना होगा वरना अमाउंट आपके खाते में नहीं आएगा।

कोरोना में नौकरी छूट गई? तब भी आपको भरना होगा इन भत्तों पर टैक्स, समझ लें क्या है पूरा नियम

छंटनी के बीच कंपनियां कर्मचारियों को वीआरएस भत्ता, ग्रैच्युटी समेत कई अन्य तरह की पेमेंट्स कर रही हैं। हालांकि नौकरी गंवाने वाले कर्मचारियों के लिए खबर चिंतानजक है कि इन भत्तों के पेमेंट्स पर भी टैक्स लग सकता है।

इनकम टैक्स रिटर्न भरने को नए फॉर्म हुए जारी, 1 लाख से ज्यादा के बिजली बिल की भी देनी होगी जानकारी, जानें- क्या हुए बदलाव

यदि आपने अपने चालू खाते में 1 करोड़ रुपये से अधिक जमा किए हैं, अंतरराष्ट्रीय यात्रा पर 2 लाख रुपये से ज्यादा खर्च किया है या फिर 1 लाख रुपये से ज्यादा की बिजली खर्च की है तो फिर आपको उसकी जानकारी इनकम टैक्स रिटर्न में देनी होगी।

लोन की किस्तों में छूट से PF निकासी तक लॉकडाउन में पैसे की तंगी दूर करने को सरकार ने दीं ये 10 राहतें, जानें- कितना फायदा

बैंक लोन की किस्तों को तीन महीने तक अदा न करने की छूट से लेकर आईटी रिटर्न की तारीख को 30 जून किए जाने तक ऐसी ही कई चीजें हैं, जिनका लाभ उठाया जा सकता है। आइए जानते हैं, लॉकडाउन में किन स्कीमों का लाभ उठाकर दूर कर सकते हैं आर्थिक तंगी…

इनकम टैक्स रिफंड पर सरकार ने दी बड़ी राहत, 5 लाख रुपये तक की रकम तुरंत देगा आयकर विभाग, जीएसटी रिटर्न पर भी सुविधा

Income Tax Refund upto 5 lakh: सरकार के इस फैसले से देश के 14 लाख करदाताओं को तत्काल लाभ मिलेगा। नौकरी जाने या फिर सैलरी में कटौती के संकट से जूझ रहे लोगों के लिए सरकार का यह फैसला बड़ी राहत बन सकता है।

वित्त वर्ष में कोई बदलाव नहीं, 30 जून तक के निवेश को इस साल के इनकम टैक्स रिटर्न में कर सकते हैं क्लेम, जानें- जरूरी बातें

वित्त वर्ष 2019-20 के टैक्स में बचत के लिए आपके पास इस साल 30 जून तक का मौका होगा। सरकार ने टैक्स सेविंग स्कीम्स में इन्वेस्टमेंट की तारीख को 30 जून, 2020 तक के लिए बढ़ा दिया है।

आईटी रिटर्न से आधार-PAN लिंक तक, 31 मार्च से पहले निपटा लें ये जरूरी काम, वरना भरना पड़ेगा 10,000 तक का जुर्माना

फाइनेंशियल ईयर 2019-20 खत्म होने में अब कुछ ही दिन बचे हैं। इससे पहले यह जरूरी है कि आप निवेश और इनकम टैक्स रिटर्न समेत अपने वित्तीय मामलों को निपटा लें।

Income Tax payers: एक साल में क्यों आधे हो गए टैक्स देने वाले? मोदी सरकार की छूट के चलते ही घट गई संख्या

Income tax return filers in india: आंकड़े बताते हैं कि दिसंबर तक देश में 5.7 करोड़ लोगों ने आईटीआर फाइल किया, जिनमें से 4.3 करोड़ लोगों ने अपनी कमाई 5 लाख रुपये तक ही बताई है। ये वो लोग हैं, जिन्होंने आईटीआर तो फाइल किया है, लेकिन कोई टैक्स नहीं दिया।

केवल 2,200 पेशेवरों ने ही बताई 1 करोड़ से ज्यादा कमाई, पीएम ने कहा- यह हैरान करने वाला सच

Taxpayers in India: पीएम नरेंद्र मोदी ने टाइम्स नाउ समिट में इनकम टैक्सपेयर्स की कम संख्या पर चिंता जताते हुए कहा था कि देश में बीते 5 सालों में 1.5 करोड़ लग्जरी कारों की बिक्री हुई है, लेकिन टैक्सपेयर्स की संख्या 1.5 करोड़ ही है।

Income Tax deductions: अब भी इन योजनाओं के निवेश पर मिलेंगी टैक्स छूट, जानिए- कैसे ले सकते हैं फायदा और क्या हैं प्रावधान

Income Tax deduction on investment schemes: डाकघर के बचत खाते में यदि आपका व्यक्तिगत खाता है तो उस पर मिलने वाले 3,500 रुपये तक के ब्याज पर टैक्स में छूट हासिल होगी। यही नहीं जॉइंट खाते पर यह छूट 7,000 रुपये तक की है। आयकर अधिनियम के सेक्शन 10(15)(i) में इसका जिक्र किया गया है।

यह पढ़ा क्या?
X