home loan emi

SBI दे रहा होम लोन पर धांसू ऑफर, घर खरीदने का सपना हुआ आसान, YONO ऐप से एक्स्ट्रा छूट

SBI ने होम लोन की दरों पर 0.30 प्रतिशत तक छूट देने और प्रोसेसिंग फीस को पूरी तरह माफ करने की घोषणा की है।

लोन मोराटोरियम की राहत सुप्रीम कोर्ट ने 28 सितंबर तक के लिए बढ़ाई, जानें- कैसे आपको मिलेगा फायदा

सुप्रीम कोर्ट ने लोन रिपेमेंट मोराटोरियम की तारीख को 28 सितंबर तक के लिए बढ़ा दिया है। यही नहीं शीर्ष अदालत ने बैंकों से कहा है कि इस दौरान किसी भी लोन की अदायगी न होने पर अकाउंट को एनपीए न घोषित किया जाए।

पीएम आवास योजना और होम लोन पर सस्ते ब्याज से घर खरीदने का सुनहरा मौका, पूरा करें आशियाने का सपना

बैंकों ने होम लोन की दरें कम की हैं और कई बैंकों की दर तो 7 फीसदी सालाना से भी कम हो गई है। भारतीय स्टेट बैंक, HDFC, UBI और ICICI बैंक जैसे भारत के शीर्ष बैंक फिलहाल 7 पर्सेंट सालाना से कम की दर से होम लोन दे रहे हैं।

किस्तों में राहत और ब्याज एक साथ नहीं चल सकते, मोराटोरियम पर सुप्रीम कोर्ट ने की सख्त टिप्पणी

सॉलिसिटर जनरल के इस तर्क पर जस्टिस आर. रेड्डी ने कहा कि मोराटोरियम और ब्याज एक साथ नहीं चल सकते। केस की सुनवाई करते हुए जस्टिस अशोक भूषण ने कहा कि याचिकाकर्ताओं की मुख्य चिंता यह है कि उन्हें मोराटोरियम के तहत पर्याप्त राहत नहीं दी गई।

लोन पर मोराटोरियम लिया था तो रखें ध्यान, ऐसा करने पर गिर सकता है क्रेडिट स्कोर, कर्ज मिलना होगा मुश्किल

बैंकों की ओर से कर्जधारकों को इस संबंध में मेसेज भी भेजे जा रहे हैं और आगाह किया जा रहा है कि यदि सितंबर से किस्तें समय पर न अदा की गईं तो क्रेडिट हिस्ट्री पर विपरीत असर पड़ सकता है।

आज से बदल गए ये 5 जरूरी नियम, जानें- आपकी जेब और रोजमर्रा की जिंदगी पर होगा क्या असर

लोन मोराटोरियम की अवधि समाप्त होने से लेकर एलपीजी सिलेंडर के रेट्स तक का कारोबारियों से लेकर आम लोगों तक पर असर पड़ने वाला है। इन बदलावों में लॉकडाउन हटाने के चौथे चरण यानी अनलॉक 4 के नियम भी शामिल हैं।

बैलेंस ट्रांसफर करने पर नहीं मिल पाएगा प्रधानमंत्री आवास योजना का फायदा, जानें- क्या है नियम

लोन के बैलेंस ट्रांसफर का सीधा अर्थ यह है कि आपके लोन को दूसरा बैंक अदा करेगा और आपका अकाउंट ट्रांसफऱ हो जाएगा। लोन की यह अदायगी प्रीपेमेंट मानी जाती है, ऐसे में लोन के ब्याज पर आपको सब्सिडी नहीं मिलेगी।

जनता को लोन में छूट के मुद्दे पर सरकार और बैंक आमने-सामने, वित्त मंत्री बोलीं- मोराटोरियम बढ़ाने पर कर रहे विचार

एसबीआई चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि मोराटोरियम अवधि को अगस्त से आगे बढ़ाना ठीक नहीं होगा। उन्होंने कहा, ‘मेरे समेत ज्यादातर बैंकर मानते हैं कि लोन में छूट की अवधि 31 अगस्त से ज्यादा नहीं की जानी चाहिए।’

कर्ज की किस्तें देने में आ रही है मुश्किल? दिसंबर तक के लिए बढ़ सकती है लोन की अदायगी में छूट

Loan moratorium could extend till December 2020: इन किस्तों को बाद में अदा करना होगा और मोराटोरियम की अवधि के दौरान भी कर्ज पर ब्याज जारी रहेगा। इस ब्याज को भी मोराटोरियम की अवधि के बाद ग्राहकों को चुकाना होगा।

मोराटोरियम में ब्याज वसूली पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, कहा- केंद्र सरकार दे दखल, सब कुछ बैंकों पर ही नहीं छोड़ सकते

आरबीआई ने कहा था कि ऐसा करने से लॉन्ग टर्म में बैंकों को नुकसान उठाना पड़ेगा, जो पहले ही दबाव के दौर से गुजर रहे हैं। गौरतलब है कि भारतीय रिजर्व बैंक के आदेश पर देश के सभी बैंकों ने टर्म लोन्स की किस्तें अदा करने पर मार्च से अगस्त तक 6 महीने के लिए राहत दी है।

लोन की किस्तों में अभी की छूट बाद में बन सकती है शिकंजा, ऐसे ग्राहकों को नए लोन देने से मना कर सकते हैं बैंक

बैंकिंग सेक्टर के एक जानकार ने कहा कि मोराटोरियम लेने का सीधे तौर पर अर्थ है कि संबंधित व्यक्ति को कैश फ्लो की समस्या का सामना करना पड़ा है और भविष्य में भी ऐसा हो सकता है।

कोरोना काल में किसी के लोन का गारंटर बनने से पहले जरूर ध्यान रखें ये बातें, बड़े खतरे हैं इस राह में

कोरोना के इस संकट के दौर में बड़े पैमाने पर लोगों की सैलरी में कटौती हुई है। इसके अलावा नौकरियां भी बड़े पैमाने पर गई हैं, ऐसे में आपको किसी भी व्यक्ति के लोन का गारंटर बनने से पहले कुछ चीजें जान लेनी चाहिए।

लोन पर ब्याज में नहीं दे सकते छूट, SC में RBI ने कहा, बैंकों की बिगड़ जाएगी सेहत, 2 लाख करोड़ रुपये का होगा नुकसान

Loan EMI Moratorium interest: केंद्रीय बैंक ने कहा कि आरबीआई ने कर्ज के पेमेंट को लेकर राहत देने की कोशिशें की हैं, लेकिन इसका यह अर्थ नहीं है कि ब्याज में जबरन राहत दी जाए। ऐसा करना बैंकों की आर्थिक स्थिरता और सेहत को दांव पर लगाने जैसा होगा।

किस्तों में छूट के नाम पर लगेगी बड़ी चपत, 30 लाख रुपये के होम लोन पर देना पड़ेगा 4.5 लाख का अतिरिक्त ब्याज

Loan EMI moratorium benefits: यदि आप इस छूट का लाभ लेते हैं तो मौके पर तो आपको राहत मिल जाएगी, लेकिन मोराटोरियम की अवधि के बाद ब्याज के तौर पर बड़ी चपत लग सकती है।

लोन की किस्तों में 6 महीने की छूट का विकल्प लेने से आपके कर्ज पर पड़ेगा क्या असर, जानिए डिटेल में पूरी बात

Loan EMI moratorium benefits and loss: इससे होम लोन, कार लोन, पर्सनल लोन समेत अन्य कई तरह के कर्ज लेने वाले लोगों को राहत मिलेगी। यदि आपने भी कोई टर्म लोन लिया है तो आपको यह सुविधा मिल सकती है।

अगले महीने लोन की किस्त भरने की है टेंशन? जानें- भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से लिया जा सकता है क्या फैसला

एसबीआई ने अपनी रिसर्च रिपोर्ट में कहा कि आरबीआई की ओर से लोन की किस्तों में छूट को और तीन महीनों के लिए बढ़ाया जा सकता है। इससे पहले आरबीआई ने मार्च, अप्रैल और मई के महीने में सभी तरह के टर्म लोन की किस्तों पर अदायगी से राहत दी थी।

लोन की किस्तें चुकाने में अगस्त तक के लिए मिल सकती है छूट, बैंकों ने रिजर्व बैंक से मीटिंग में रखा प्रस्ताव

बैंकों की ओर से आरबीआई से कहा गया है कि ईएमआई को स्थगित करने की सुविधा को 90 दिनों के लिए और बढ़ाया जाना चाहिए। बैंकों ने कहा कि ज्यादातर कारोबार के मई में ही दोबारा शुरू होने की संभावना है।

लोन की किस्तें चुकाने पर मिल सकती है 6 महीने तक की छूट, SBI के चेयरमैन बोले, सरकार से मांग करेंगे बैंक

भारतीय स्टेट बैंक के चेयरमैन रजनीश कुमार के मुताबिक बैंकों की ओर से लोन की किस्तों पर अदायगी की छूट की समयसीमा बढ़ाने की मांग की जाएगी। उन्होंने कहा कि इंडियन बैंक्स एसोसिशन की ओर से सरकार से इस संबंध में मांग की जाएगी।

Padma Awards List
X