hathras case

सुप्रीम कोर्ट में बोली यूपी सरकार, हाथरस में हिंसा भड़काने जा रहे थे पत्रकार कप्पन, SC ने दी वकील से मिलने की अनुमति

उत्तर प्रदेश सरकार ने शुक्रवार को उच्चतम न्यायालय में दावा किया कि हाथरस के रास्ते में गिरफ्तार कप्पन ‘पत्रकारिता की आड़ में’ जातीय तनाव पैदा करने और कानून व्यवस्था बिगाड़ने की ‘निश्चित योजना’ के तहत वहां जा रहे थे।

पंजाब में बिहार की बच्ची की दरिंदगी के बाद हत्या! राहुल-तेजस्वी को घेर बोली BJP- हाथरस से हमदर्दी, पर जहां कांग्रेसी सरकार वहां क्यों चुप्पी?

पंजाब के होशियारपुर में 6 साल की बच्ची के साथ रेप और हत्या के मामले में बीजेपी ने कांग्रेस को घेरा है। केंद्रीय मंद्री प्रकाश जावड़ेकर और निर्मला सीतारमण ने कहा कि हाथरस में तो वे हमदर्दी दिखा रहे थे लेकिन राहुल और प्रियंका टांडा की घटना पर चुक क्यों हैं?

संपादकीय: अपराध के नुमाइंदे

उत्तर प्रदेश में बढ़ती आपराधिक घटनाओं को लेकर पहले ही सरकार सांसत में है। विपक्षी दल उस पर निशाना साध रहे हैं। हालांकि मुख्यमंत्री अपराध रोकने को लेकर सख्त दिखते हैं।

चौपाल : शर्मनाक राजनीति

हाथरस कांड को लेकर सभी राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने फायदे के लिए चर्चा में आ चुकी हैं।

संपादकीय: अराजकता के पांव

विडंबना यह है कि जिन मामलों में पुलिस को तुरंत सक्रिय होकर कार्रवाई करनी चाहिए, अपराधियों को पकड़ने का अभियान चलाना चाहिए, पीड़ितों को इंसाफ दिलाने के लिए हर संभव कोशिश करनी चाहिए, वहीं उसका रवैया ऐसा रहता है मानो वह किसी तरह मामले से अपना पीछा छुड़ाना चाहती है।

आपकी बेटी के साथ ऐसा हो तो कैसा महसूस करोगे, अदालत ने एडीजी प्रशांत कुमार से पूछा सवाल; हाथरस केस में पीड़िता के वकील ने दी जानकारी

गत 14 सितंबर को हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र में 19 साल की एक दलित लड़की से अगड़ी जाति के चार युवकों ने कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया था, जिसकी बाद में मौत हो गई।

BJP नेत्री ने पूछा- हाथरस जा सकती हैं प्रियंका तो क्यों नहीं जा रहीं करौली? कांग्रेसी नेता ने दिया जवाब- मोदी जी, क्यों नहीं जाते, चलें जाएं…

राजस्थान के करौली में पुजारी को जिंदा जलाकर मार दिया गया था। इस घटना पर राजनीति तेज हो गई है।

मोदी जी के मुंह और आंखों पर पट्टी बंधी है- बोलीं नेता तो भड़क कर BJP नेता ने छोड़ दी डिबेट

टीवी चैनल आजतक के एक डिबेट शो के दौरान भाजपा प्रवक्ता संजू वर्मा और कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत हाथरस के मुद्दे पर आपस में भिड़ गईं।

चौपाल: दलितों के नाम पर

पीड़ित परिवार को बार-बार दलित बोल कर उन्हें कमजोर दिखाकर सत्ताधारी सरकार पर निशाना साधा जा रहा है। निश्चित ही हाथरस में जो हुआ, उसकी भर्त्सना की जानी चाहिए और प्रदेश सरकार पर पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने का दबाव डालना चाहिए

संपादकीय: सुरक्षा में सख्ती

हाथरस मामले को लेकर ऐसी घटनाओं के खिलाफ एक बार फिर इसलिए लोगों का आक्रोश फूटा है कि उसमें खुद पुलिस ने मामले पर परदा डालने का प्रयास किया। पहले तो पीड़िता की प्राथमिकी दर्ज करने में देर की गई। फिर उसकी चिकित्सीय जांच करने में करीब एक हफ्ता जाया कर दिया गया। उसके बयान को विधिसम्मत नहीं माना गया।

गालों में हंसी भर कर रहे टीवी पर रेप पीड़िता की चर्चा, दलित चिंतक ने संबित पात्रा समेत अन्य पैनलिस्ट पर उठाए सवाल

डिबेट में मौजूद दलित चिंतक सतीश प्रकाश ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि डिबेट में मौजूद पैनलिस्ट गालों में हंसी भरकर रेप पीड़िता की चर्चा कर रहे हैं।

डिबेट में अर्णब ने कहा- जय श्री राम, महंत ने बता दिया सोनिया गांधी को ‘ताड़का’, बोले- राक्षसी की आवाज नहीं निकली…

महंत परमहंस दास यहीं नहीं रुके और प्रियंका गांधी की तुलना सूपर्णखा से और राहुल गांधी की तुलना मामा मारीच से कर डाली।

दूसरी नजर- माफी : जिसका नाम उत्तर प्रदेश है

नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल यानी 2019 में बलात्कार की बत्तीस हजार तैंतीस वारदातें हुईं (इनमें पॉक्सो के मामले शामिल नहीं हैं), जिनमें तीन हजार पैंसठ वारदातें उत्तर प्रदेश में हुईं।

Hathras Case: CBI ने शुरू की जांच, योगी सरकार ने की थी सिफारिश

परिजनों का आरोप है कि स्थानीय पुलिस ने जल्दबाजी में पीड़िता का अंतिम संस्कार किया। हालांकि पुलिस का दावा है कि अंतिम संस्कार परिजनों की इच्छा के अनुसार ही किया गया था।

हाथरस: पूरे देश में राम राज्‍य यात्रा निकालेगी क्षत्रिय महासभा, कहा- निर्दोषों को बचाएंगे

हिंदू रक्षा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी प्रबुद्धनंद गिरि ने कहा कि भारत में सदियों से वर्ण व्यवस्था लागू है जिसको तोड़ने से समाज टूट जाएगा।

VIDEO: 84 साल के हो रहे हैं बाबा जी…ऐसे मत करिए- डिबेट में बोले संबित पात्रा, कांग्रेसी नेता का तंज- हंसी का पात्रा क्यों बनते हो?

पात्रा बिफरते हुए अखिलेश सिंह से बोले कि “बताइए, 84 साल के हो गए हैं बाबाजी और ऐसे नर्सरी क्लास के बच्चे की तरह व्यवहार कर रहे हैं!

पुजारी कांड Highlights: सरकारी आश्वासन के बाद मृतक पुजारी का उनके परिवार ने किया अंतिम संस्कार, SHO व पटवारी सस्पेंड

करौली के पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने कहा, ‘‘ पटवारी एवं एसएचओ को हटाने के साथ साथ मुआवजे, नौकरी एवं मकान के आश्वासन के बाद परिवार के सदस्य मान गए और मृतक का अंतिम संस्कार किया गया।’’

कांग्रेस कथा: विपक्षाघात

कांग्रेस से लेकर बसपा तक का उदाहरण है कि सांगठनिक ढांचे को बर्बाद कर चुके राजनीतिक दल अपने हित समूहों को खो देते हैं। बिना हित समूहों के राजनीतिक संगठन बन ही नहीं सकता है। कांग्रेस के पतन के कारणों में उसके समर्थकों और संगठन का बिखराव स्पष्ट रूप से दिखता है।

ये पढ़ा क्या?
X