ताज़ा खबर
 

gujrat

sadhu, saint, bihar, begusarai

साधु बना बेटा तो दिव्‍यांग मां-बाप ने कर दी शिकायत, मांगा ‘हर्जाना’

बकौल पीड़ित दंपति, “हम दिव्यांग हैं। बड़े बेटे को उसकी मानसिक हालत के चलते नौकरी नहीं मिली। पर हम उसी पर निर्भर हैं। हमें लगता है किसी ने उसे बरगलाया है। हमने उसकी कांउसलिंग भी कराई, ताकि वह दोबारा से ठीक हो जाए और सामान्य जिंदगी जिए।”

गुजरात: कांग्रेस छोड़ बीजेपी में आए कुंवरजी बावलिया कुछ ही घंटों में बने मंत्री

63 वर्षीय बावलिया अखिल भारतीय कोली समाज के राष्ट्रीय प्रमुख, चार बार के विधायक और पूर्व सांसद हैं। बीजेपी का हिस्सा बनने के दौरान उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की जातिवाद की राजनीति से परेशान चल रहे थे।

गुजरात: बीजेपी की किरकिरी, जेल में बंद पार्टी नेता की विदेशी लड़कियों संग अर्धनग्न तस्वीरें वायरल

वनिया, बीजेपी युवा मोर्चा में वाधवान शहर की इकाई के सचिव पद पर था। फिलहाल वह पुलिस पर हमला करने और दंगा भड़काने के मामले में जेल में बंद है। सबसे पहले वनिया की विवादित तस्वीरें गर्वी गुजरात, बीजेपी गुजरात नाम के वॉट्सऐप ग्रुप पर वायरल हुई थीं।

पुलिस की शरण में पहुंचा जज, बोला- कोर्ट के स्टैनो से हैं पत्नी के अवैध संबंध

आरोप है कि एक प्रेमी ने मोबाइल ऐप्लीकेशन के बारे में उनकी पत्नी को बताने का बहाना बनाया था, तभी से पत्नी और उसका चक्कर चल रहा है। वे दोनों इसके बाद काफी करीब आ गए। उनके बीच आज भी नाजायज संबंध हैं।

ऊंची जाति वालों ने दी थी धमकी फिर भी घोड़ी पर बैठ दुल्हन लेने पहुंचा दलित दूल्हा, पुलिस ने किया एस्कॉर्ट

भाई विपुल ने बताया कि गांव के पास पहुंचने पर ही उन लोगों के पास दरबार समुदाय के 10-15 लोग आए थे। धमकाते हुए उन्होंने कहा था कि दूल्हा घोड़ी नहीं चढ़ेगा, क्योंकि ऐसा सिर्फ कोई शूरवीर ही कर सकता है। दरबार समुदाय के लोग ही घोड़ी चढ़ सकते हैं।

सूरत: वैन में बछड़े ले जा रहे मुस्लिम युवक को ‘गौरक्षकों’ ने पीटा, मुंह से नहीं निकल रहे बोल

पीड़ित के हाथ और सिर पर कई जगह चोटें आई हैं। वहीं, पुलिस ने चारों हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और फिलहाल उन्हें पकड़ने के लिए लगातार दबिश दी जा रही है।

गुजरात: 12वीं में बच्चों को पढ़ा रहे- राम ने किया था सीता का अपहरण

सेवानिवृत्त संस्कृत प्रोफेसर वसंत भट्ट ने कहा कि यह सभी को पता है कि रावण ने सीता का अपहरण किया था और ‘रघुवंशम’ में भी इसी बात का उल्लेख है। गुजरात बोर्ड के स्कूली पाठ्यपुस्तकों के लिए एग्जीक्यूटिव प्रेसिडेंट डॉ नितिन पेठानी ने पहले तो यह कहा कि उन्हें इस गड़बड़ी की जानकारी नहीं है।

गुजरात: नाम के साथ ‘सिंह’ लगाया तो जबरन मूंड दी मूंछ, वीडियो किया वायरल

पीड़ित रणजीत का कहना है, “अगर घटना से जुड़ा वीडियो वायरल होने से बात आगे न बढ़ी होती, तो मैं पुलिस में शिकायत नहीं देता।” राज्य में यह इस तरह की पहली घटना नहीं है, जब मूंछों को लेकर विवाद हुआ हो। गांधी नगर के पास बीते साल एक गांव में दो घटनाओं में मूंछ रखने को लेकर राजपूत समुदाय के लोगों ने दलित समाज के दो लोगों की जमकर पिटाई की थी।

सूरत में बड़े बिटक्‍वॉइन रैकेट का भंडाफोड़, पूर्व बीजेपी विधायक बना था बिचौलिया

दो साल पहले सतीश कुंभानी नाम के शख्स ने ‘बिट कनेक्ट इन्वेस्टमेंट कंपनी’ बनाई थी। यह कंपनी भट्ट जैसे लोगों को पैसे निवेश करने के लिए बहलाती-फुसलाती थी। एक से चार फीसदी प्रति दिन के हिसाब से रिटर्न का वादा किया जाता था। ऐसे में भट्ट ने दो करोड़ रुपए कंपनी में लगा दिए। दिसंबर 2017 में कंपनी के मालिक बोरिया-बिस्तर समेट कर फुर्र हो गए।

इलाज के लिए पैसे नहीं थे, बेटे ने घर पर ही काट दिया मां का पैर

मां गैंग्रीन नाम की बीमारी से पीड़ित थीं, जिनका उसे ऑपरेशन कराना था। डॉक्टरों के अनुसार, बीमारी काफी बढ़ चुकी थी। ऐसे में उनका पैर काटना बेहद जरूरी हो चुका था। पैसों का इंतजाम न हो पाने पर शख्स ने खुद ही ऑपरेशन को अंजाम देने की ठानी। उसने जरूरी सामान मंगाया, बहनों की मदद ली और मां का पैर सफलतापूर्वक काटा।

गुजरात: सांप्रदायिक तनाव में बदला छुट्टे पैसों का विवाद, हिंसा के बाद सुरक्षाबल तैनात

एसपी ने कहा, ‘हमने दोनों समुदायों के नेताओं की मौजूदगी में पीस कमिटी की बैठक करवाई है। युवकों की गलतफहमी भी दूर करने की कोशिश की गई। रमजान होने की वजह से मुस्लिम युवक भी बड़ी तादाद में मौजूद थे। इलाके में अब शांति है।’

गुजरात: पुलिस कस्टडी में महिला का यौन उत्पीड़न, सब इंस्पेक्टर समेत 3 पर केस

पीड़िता दो माह पूर्व पुलिस थाने अपने पति-ससुरालियों के खिलाफ शिकायत करने पहुंची थी। पुलिस ने तब उसकी शिकायत दर्ज करने से मना कर दिया था। पुलिसकर्मी महिला को उस दौरान दूसरे कमरे में ले गए थे, जिसके बाद उन्होंने उसका यौन शोषण किया था।

गुजरात: थानेदार ने लगवाया नोटिस- हाफ पैंट पहनकर न आएं पुलिस स्टेशन

एक स्थानीय अखबार में छपी रिपोर्ट में थाना इंचार्ज के हवाले से कहा गया है कि लोगों के हाफ पैंट पहनकर आने से थाने की महिला कर्मचारी असहज महसूस करती हैं। बता दें कि थाने में लिबास को लेकर विवाद पहली बार सामने नहीं आया है। कुछ महीने पहले महाराष्ट्र के कल्याण में मंगेश देसाले का मामला सामने आया था।

gujrat

पत्नियों में रोज होता था झगड़ा, दूसरी बीवी के टुकड़े-टुकड़े कर फेंकते पकड़ाया, घर से बरामद हुए सिर, पैर और हाथ

मामला सूरत के रानी तलाव, पारसी शेरी इलाके का है, जहां रहने वाले शहनवाज उर्फ शानू युसुफमियां शेख (32 वर्ष) की दो शादियां हुई थी। दोनों पत्नियों के बीच होने वाले झगड़ों से तंग आकर शाहनवाज ने अपनी दूसरी पत्नी जुलेखा उर्फ वर्षा सैयद की हत्या कर दी।

गुजरात: कमिश्नर ने सुनाया मीडिया वालों को फरमान, बोले- थानों में घुसने से पहले अनुमति लें पत्रकार

मंगलवार को पीएम ने फर्जी खबरों के मामले पर सूचना-प्रसारण मंत्रालय की ओर से जारी हुए दिशा-निर्देशों को वापस ले लिया। पीएमओ की ओर से कहा गया, “मंत्रालय अपने फैसले को वापस ले ले। यह पूरा मसला भारतीय प्रेस परिषद और प्रेस परिषद पर छोड़ दिया जाना चाहिए। ऐसे मामलों में सिर्फ प्रेस परिषद को सुनवाई करने का अधिकार है।”

गुजरात: स्पीकर के आसन पर बैठा बीजेपी कार्यकर्ता, तस्वीर वायरल हुई तो मचा हंगामा

बीजेपी कार्यकर्ता शनिवार को वह अपने एक मित्र के साथ में गांधीनगर स्थित विधानसभा को देखने के लिए गया था। राहुल इसी दौरान स्पीकर की सीट पर जाकर बैठ गया था। स्पीकर को जब इस बारे में मालूम पड़ा तो उन्होंने इस बाबत सख्त नाराजगी जताई है।

Gujarat Nagar Palika Nikay Election Chunav Result 2018

गुजरात नगरपालिका चुनावों में बीजेपी का असेंबली जैसा हाल, 47 पर जीती, फायदे में रही कांग्रेस, 16 पर कब्जा

Gujarat Nagar Palika Election Chunav Result 2018: राज्य निर्वाचन आयुक्त वारेश सिन्हा ने बताया, ‘‘भाजपा ने 47, कांग्रेस ने 16, और राकांपा और बसपा ने एक-एक नगरपालिका में जीत हासिल की है। निर्दलीय उम्मीदवारों की झोली में चार नगरपालिकाएं गई हैं, जबकि छह नगरपालिकाएं त्रिशंकु रहीं, जहां किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला।’’

गुजरात: फिशरीज डिपार्टमेंट मिलने पर मंत्री खफा, कहा- क्या समुद्र किनारे जाकर मछली पकड़ूं?

पांच बार विधायक रह चुके सोलंकी को तीसरी बार राज्य में मस्त्य पालन विभाग की कमान सौंपी गई है।