goddess laxmi

सपने में इन 3 जानवरों को देखने से बन सकते हैं ये खास योग, जानिए क्या हैं स्वप्न शास्त्र की मान्यताएं

Swapan Shastra: स्वप्न शास्त्र को मानने वाले लोग कहते हैं कि सपने जीवन का आईना होते हैं। कहा जाता है कि यह शास्त्र पूरी तरह से सपनों पर आधारित है।

अष्टलक्ष्मी कुबेर मंत्र के जाप से धन प्राप्ति होने की है मान्यता, जानिए जाप की सही विधि

Ashtalakshmi Kubera Mantra: बताया जाता है कि जो लोग माता महालक्ष्मी और श्री कुबेर को प्रसन्न करने का प्रयास करते हैं उन्हें जीवनभर किसी चीज की कमी नहीं रहती है।

Diwali 2020, Maa Laxmi Ji ki Aarti, Bhajan: इस आरती के बिना संपूर्ण नहीं मानी जाती है दिवाली लक्ष्मी पूजा, जानें क्यों मानी जाती है इतनी खास

Diwali 2020 Maa Lakshmi (Laxmi) Ji Ki Aarti, Bhajan, Songs: सभी तरह के पूजा-पाठ के बाद में आरती जरूर की जाती है। बताया जाता है कि सही विधि से आरती करने से पूजा में हुए दोष दूर हो जाते हैं।

Dhanteras 2020 Puja Aarti: धनतेरस के दिन ये आरती पढ़ने की है मान्यता, जानें महत्व

Dhanteras 2020 Laxmi (Lakshmi) Ji Ki Aarti, Bhajan: सभी प्रकार की पूजा-पाठ, होम और यज्ञ आदि करने के बाद आरती अवश्य की जाती है। कहते हैं कि आरती से पूजा में किए गए अपराधों की क्षमा मिलती है और पूजा संपूर्ण होती है।

Dhanteras 2020 Laxmi Ji ki Aarti, Bhajan: मां लक्ष्मी की आरती के बिना धनतेरस की पूजा नहीं मानी जाती हैं पूरी, जानें क्या है महत्व

Dhanteras 2020 Laxmi (Lakshmi) Ji Ki Aarti, Bhajan, Songs: ऐसी मान्यता है कि पूजा को संपूर्ण करने के लिए आरती करना बहुत जरूरी होता है।

Dhanteras 2020 Puja Vidhi, Muhurat Timings: इस शुभ मुहूर्त में करें धन प्राप्ति के लिए मां लक्ष्मी की पूजा, जानिए पूजा विधि

Dhanteras 2020 Laxmi Puja Vidhi, Shubh Muhurat Timings, Samagri, Mantra: विद्वानों का मानना है कि धनतेरस की पूजा शुभ मुहूर्त में और विधि-विधान के साथ की जानी चाहिए।

Dhanteras 2020 Laxmi Puja Vidhi: धन आगमन के योग बनाने के लिए इस विधि से लक्ष्मी पूजा करने की है मान्यता, जानें शुभ मुहूर्त

Dhanteras 2020 Laxmi Puja Vidhi, Muhurat, Timings, Mantra: कहते हैं कि धनतेरस की पूजा सच्चे मन से की जाए तो व्यक्ति अपार धन-संपत्ति प्राप्त करने का वरदान प्राप्त कर सकता है।

Dhanteras 2020 Puja Vidhi, Timings, Samagri: धनतेरस की रात कैसे करनी चाहिए धन प्राप्ति के लिए माता महालक्ष्मी की पूजा, जानें

Dhanteras 2020 Laxmi Puja Vidhi, Shubh Muhurat, Time, Samagri, Mantra: धनतेरस का त्योहार धन की अधिष्ठात्री देवी लक्ष्मी और धन के देवता कुबेर और भगवान धन्वंतरि की उपासना के लिए विशेष दिन माना जाता है।

Dhanteras 2020 Gold Buying Muhurat: धनतेरस के दिन क्यों खरीदा जाता है सोना, जानें इस दिन का प्राचीन महत्व और मान्यताएं

Dhanteras 2020 Gold, Silver Buying Shubh Muhurat, Time: पौराणिक कथाओं के मुताबिक इस दिन भगवान धन्वंतरि का प्राकट्य हुआ था। ऐसी मान्यता है कि जो व्यक्ति सच्चे मन से इस दिन भगवान धन्वंतरि की उपासना करता है उसके घर के भंडार हमेशा भरे रहते हैं।

Dhanteras 2020 Date: कब मनाई जाएगी धनतेरस, जानिये इस दिन का क्या है महत्व और मान्यताएं

Dhanteras 2020 Date in India (धनतेरस कब है): प्राचीन मान्यताओं के मुताबिक कथाओं में ऐसा वर्णन मिलता है कि जब समुद्र मंथन हुआ था तब धनतेरस के दिन ही भगवान धनवंतरी का प्राकट्य हुआ था।

Sharad Purnima 2020 Vrat Vidhi and Katha: शरद पूर्णिमा का दिन होता है बेहद खास, जानें व्रत विधि और प्राचीन कथा

Sharad Purnima 2020 Vrat Vidhi, Vrat Katha: इस दिन चांद की रोशनी में खीर रखकर खाने से आरोग्य की प्राप्ति होती है। माना जाता है कि इससे आकाश से अमृत की वर्षा होती है। कई लोग इस दिन को महत्वपूर्ण मानते हुए व्रत रखते हैं।

Sharad Purnima 2020 Date, Puja Vidhi, Muhurat: शरद पूर्णिमा के दिन चंद्रमा के अमृत बरसाने की है मान्यता, जानिये दूसरी खास बातें

Sharad Purnima 2020 Date, Puja Vidhi, Muhurat, Timings, Samagri: कहते हैं कि इस दिन माता महालक्ष्मी की उपासना करने से धन वृद्धि होती है। मान्यता है कि सही विधि से देवी की आराधना करने वाले भक्तों पर उनकी कृपा बरसती हैं।

Vastu Tips : वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर में रखें ये 4 चीजें, देवी लक्ष्मी की कृपा मिलने की है मान्यता

Vastu Shastra for Money And Wealth : ऐसा माना जाता है कि देवी लक्ष्मी धन-धान्य की अधिष्ठात्री देवी हैं। उनकी कृपा से ही समस्त संसार में यश, वैभव और कीर्ति विद्यमान हैं।

इस स्तुति के पाठ से घर में धन-धान्य आने के मिलते हैं संकेत, जानिये पाठ की विधि

देवी लक्ष्मी धन, वैभव, यश और ऐश्वर्य की अधिष्ठात्री देवी हैं। मान्यता है कि जो व्यक्ति देवी लक्ष्मी को प्रसन्न कर लेता है उसका घर धन-धान्य से भर जाता है।

शुक्रवार की शाम इस स्तोत्र के पाठ से धन आगमन के योग बनने की है मान्यता, जानिये महत्व

इस स्तोत्र का पाठ करने से देवी लक्ष्मी प्रसन्न होकर घर में वास करती हैं। यह प्रार्थना इन्द्र देव ने देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त करने के लिए गाई थी जिसके बाद स्वर्ग धन-धान्य और ऐश्वर्य से भर जाता है।

कल है महालक्ष्मी व्रत, करें इस स्तोत्र का पाठ, घर में सुख-समृद्धि आने की है मान्यता

महालक्ष्मी व्रत की शुरुआत राधा अष्टमी यानी भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि से होती है। यह व्रत सोलह दिनों तक चलता है। फिर आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि यानी पितृपक्ष के आठवें श्राद्ध के दिन महालक्ष्मी व्रत को पूर्ण किया जाता है।

10 सितंबर को है महालक्ष्मी व्रत समापन, जानें महत्व, शुभ मुहूर्त और आरती

जो व्यक्ति श्रद्धा से देवी लक्ष्मी की पूजा कर महालक्ष्मी व्रत का समापन करता है उसका घर धन-धान्य से भर जाता है।

Ind Vs Aus 4th Test Live
X