Ghulam Nabi Azad

पहले खुला ऑफर, अब गुलाम नबी आजाद को साधने में जुटी BJP? केंद्र के कार्यक्रम में कांग्रेसी नेता के लिए लगे रेड कार्पेट व कटआउट

गुलाम नबी आजाद का हाल ही में राज्यसभा में कार्यकाल पूरा हुआ है। आजाद जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं।

मल्लिकार्जुन खड़गे को राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष का मिला दर्जा, लोकसभा में बड़ी जिम्मेदारी संभाल चुके अनुभवी कांग्रेस नेता मनमोहन सरकार में मंत्री भी रहे

पिछले और वर्तमान लोकसभा में कांग्रेस को विपक्ष का नेता का पद नहीं मिल सका था। लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के पास इस पद को पाने के लिए जरूरी संख्या में सांसद नहीं हैं।

गुलाम नबी आजाद ने जब नरसिम्हा राव की कार्यप्रणाली पर दागे थे सवाल, कहा था- आप इतिहास के सबसे खराब कांग्रेस चीफ, छोड़ दें पद

यहां तक कि आजाद ने राव से दो टूक यह तक कह दिया था कि वह इतिहास के सबसे खराब कांग्रेस चीफ हैं। ऐसे में उन्हें यह पद त्याग देना चाहिए।

गुलाम नबी आजाद से सवाल- पार्टी को यंग गार्ड की है जरूरत? दिया यह जवाब

पिछले साल अगस्त में पार्टी के 20 से अधिक असंतुष्ट नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष को लेटर लिखकर फुल टाइम पार्टी चीफ बनाने की मांग रखी थी।

गुलाम नबी आज़ाद ने बताया, सदन में क्यों भावुक हो गए थे प्रधानमंत्री मोदी, सोनिया, राहुल से ‘अनबन’ पर भी बोले

गुलाम नबी आजाद ने कहा कि 2006 की गुजराती टूरिस्टों की बस पर हमले की घटना को याद करता हूं तो मुझे परिवारों को याद कर के दुख होता है। मैं राज्यसभा में भी इसे याद कर भावुक हो गया।

MSP पर लिखित में देने को तैयार सरकार, लाइव डिबेट में बोले भाजपा सांसद मनोज तिवारी

राज्य सभा में पीएम के भावुक हो जाने पर मनोज तिवारी ने कहा कि यह नरेंद्र मोदी का यह वह परिचय है, जिसे वही समझ सकता है जो रिश्तों का कदर जानता है। जिनके अंदर ऐसा दिल है जो देश के लिए धड़कता है।

जानबूझकर रो पड़े पीएम? एंकर के सवाल पर बोले पैनलिस्ट- इमोशनली ब्लैकमेल करने का स्वाभाव है उनका

आज तक पर डिबेट के दौरान एंकर ने कहा कि आपको पीएम का रोना नौटंकी लगता है? इस पर शिवसेना प्रवक्ता ने कहा कि वे बहुत बार रोते हैं। उनका स्वभाव है कि वे देश को इमोशन ब्लैकमेल करते हैं।

पीएम के राज्यसभा में भाषण के बाद गुलाम नबी आजाद का पुराना वीडियो वायरल, आतंकी हमले के शिकार लोगों से की थी मुलाकात

राज्यसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के बारे में बताते हुए भावुक होने के बाद अब सोशल मीडिया पर कांग्रेस नेता का एक पुराना वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें गुलाम नबी आजाद आतंकी हमले के शिकार लोगों से मुलाकात करते दिख रहे हैं।

RS छोड़ जा रहे गुलाम नबी…अठावले ने दिया यह ऑफर, भावुक हो आजाद बोले, दुआ है खत्म हो आतंकवाद

केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने राज्यसभा से गुलाम नबी आजाद की विदाई के दौरान उन्हें पाला बदले का भी ऑफर दे डाला और कहा कि उन्हें सदन में वापस आना चाहिए।

RS से ‘आजाद’ हुए ‘गुलाम’: कांग्रेस MP की विदाई पर 1 कॉल का जिक्र कर रुआंसे हुए PM, बताई क्या हुई थी दोनों में बात

चार राज्यसभा सदस्यों की विदाई पर भाषण देते हुए प्रधानमंत्री मोदी भावुक हो गए। उन्होंने आतंकी घटना और गुलाम नबी आज़ाद के फोन वाली बात बताई।

किसानों के सामने तो अंग्रेजों को भी झुकना पड़ा था…गुलाम नबी आज़ाद ने सरकार पर साधा निशाना, सुनते रहे नरेंद्र मोदी

राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आज़ाद ने किसानों के मुद्दे पर जमकर सुनाई। उस वक्त पीएम मोदी भी सदन में मौजूद थे। उन्होंने कहा कि किसानों के आगे तो ब्रिटिश हुकूमत को भी झुकना पड़ा था, फिर मोदी सरकार कानून वापस क्यों नहीं लेती।

Congress में सलाहकार की भूमिका में फ्रंट पर आने वाली हैं प्रियंका? असहमत 23 नेताओं से सोनिया को मिलाने में रहीं सूत्रधार, गुलाम नबी आजाद को भी मनाया

पत्र लिखने वाले 23 असंतुष्ट नेताओं में से एक ने बताया, “यह प्रियंका जी ही थी, जिन्होंने पहल की। मीटिंग के बाद सभी कांग्रेस नेता चाहते थे कि यह मुद्दा लंबा नहीं चलना चाहिए। हम सब जानते हैं कि भाजपा से लड़ने के लिए एकजुटता ही एकमात्र रास्ता है। लेकिन कहीं से शुरुआत होनी चाहिए।”

हम सुधारवादी हैं, विद्रोही नहीं, पार्टी में असंतोष पर बोले गुलाम नबी आजाद, कहा-5 स्टार होटलों से नहीं लड़े जाते चुनाव… यह कल्चर बदलना होगा

बिहार और बाकि राज्यों में उप चुनाव की हार पर आजाद ने कहा कि कांग्रेस के नेता आम लोगों से पूरी तरह से कटे हुए हैं। कांग्रेस नेताओं को कम से कम चुनावों के दौरान 5 स्टार कल्चर को छोड़ देना चाहिए।

पार्टी की स्थिति सुधारने को सोनिया गांधी ने बनाए तीन पैनल, गुलाम नबी आजाद सहित असंतुष्ट नेताओं को भी किया शामिल

जिन नेताओं ने पार्टी में नीतिगत बदलाव करने के लिए सोनिया गांधी को पत्र लिखा था, उनमें से कई पैनल गठन के कदम से कुछ खास खुश नहीं बताए जा रहे हैं।

कृषि बिल पर रारः Congress का राज्यसभा से वॉकआउट, बोले आजाद- जब तक 8 सदस्यों का निलंबन नहीं होता रद्द, तब तक कार्यवाही का करेंगे बहिष्कार

गुलाम नबी आजाद ने सरकार से कहा कि सरकार को स्वामीनाथन फार्मूले के अनुसार, समय समय पर न्यूनतम समर्थन मूल्य तय करते रहना चाहिए।

सोनिया के विदेश जाने से पहले कांग्रेस में बड़ा फेरबदल, जानें कौन लगाया गया किनारे, किसे मिली अहम जिम्मेदारी?

सोनिया गांधी ने कई वरिष्ठ नेताओं को प्रभारी महासचिव के पद से हटा दिया है, जबकि कई युवा नेताओं को बड़े पद दिए गए हैं।

‘बीजेपी पर तोहमत लगाने वाली कांग्रेस ही नहीं कर रही संविधान का पालन’, कपिल सिब्बल का पार्टी नेताओं पर अलोकतांत्रिक होने के आरोप

कपिल सिब्बल ने कहा कि ‘कांग्रेस हमेशा आरोप लगाती है कि भाजपा संविधान का पालन नहीं करती है और लोकतंत्र की नींव को तबाह कर रही है लेकिन हम क्या चाहते हैं?

राहुल गांधी ने खुद झंडा फहराने से मना कर दिया, पर केसी वेणुगोपाल को मंच पर बिठाने की जताई ख्वाहिश, देखते रहे ग़ुलाम नबी आज़ाद

राहुल गांधी ने लोकसभा में पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी को भी मंच पर बुलाया। इस कड़ी में राहुल ने पार्टी के सीनियर नेताओं में शामिल गुलाम नबी आजाद को नजरअंदाज कर दिया।

ये पढ़ा क्या?
X