farmer suicide

CM फडणवीस की रैली से 15 किमी दूर खेतिहर मजदूर ने फांसी लगाकर दी जान, पहने था भाजपा की टीशर्ट

बुलढाणा की जिला कलेक्टर निरुपमा डांगे ने कहा कि तलवड़े के पास अपनी कोई जमीन नहीं थी। उन्होंने कहा कि आत्महत्या का संभावित कारण खेती से जुड़ी परेशानी नहीं लग रही है।

तमिलनाडु: पार्टनरशिप में लिए कर्ज का अपना हिस्सा चुकाना चाहता था किसान, अफसर नहीं माने तो बैंक के बाहर जहर खा दी जान

तमिलानाडु के कोयंबटूर में एक किसान द्वारा जहर खाकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने कहा कि प्राथमिक जांच के अनुसार भूपति ने डेयरी खोलने के लिए तीन अन्य लोगों के साथ बैंक से कर्ज लिया था।

किसान के खुदकुशी करने पर परिवार ने बताई खराब फसल की वजह, जिला उपायुक्त बोले- शराबी था

उपायुक्त ने बताया कि मृतक किसान के परिवार को केंद्र की उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन भी मिला हुआ था। खरिया की पत्नी मंगरी देवी ने कहा कि उन लोगों ने बेटे और बेटी की शादी के लिए जमीन गिरवी रखी थी।

राजस्थानः खुदकुशी करने वाले किसान पर डिप्टी CM सचिन पायलट का दावा- कर्ज में नहीं था मृतक

श्रीगंगानगर के रहने वाले सोहनलाल नामक किसान ने आत्महत्या कर ली थी। उन्हाेंने एक सुसाइड नोट लिखा था जिसमें आरोप लगाया था कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट चुनाव से पहले बैंक लोन माफ करने के अपने वादे को पूरा नहीं कर रहे हैं।

महाराष्ट्र सरकार ने माना- तीन साल में 12,000 किसानों ने दी जान, सूखा भी कर सकता है चुनाव में बीजेपी को परेशान

प्रदेश के सहकारिता एवं पुनर्वास मंत्री सुभाष देशमुख ने एक सवाल के लिखित जवाब में माना है कि 2015 से लेकर 2018 के बीच 12,000 किसानों ने आत्महत्या की है।

मीडिया रिपोर्ट में दावा; सुसाइड नोट में किसान ने लिखा- बीजेपी को वोट मत देना

सुसाइड नोट के बारे में पूछे जाने पर पुलिस ऑफिसर ने कहा कि इस बात की जांच की जा रही है कि यह पत्र खुद किसान ने लिखा है या नहीं?

Maharashtra: किसान ने की खुदकुशी, सुसाइड नोट में बीजेपी-शिवसेना पर लगाया आरोप!

महाराष्ट्र में एक किसान ने कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। किसान के पास से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें सत्ताधारी दल बीजेपी और शिवसेना को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया गया है।

मध्य प्रदेशः कर्जमाफी का ऐलान बेअसर, पत्नी की खुदकुशी के एक माह बाद किसान ने लगाई फांसी, बच्चों के भी शव बरामद

मानसिक तनाव के चलते ऐसा कदम उठाए जाने की आशंका जताई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

इधर कांग्रेस सरकारों में कर्जमाफी की होड़, उधर कर्नाटक में 6 महीने में 250 क‍िसानों की खुदकुशी

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस सरकार बनने के बाद 250 से अधिक किसानों ने आत्महत्या की है। गौरतलब है कि एचडी कुमार स्वामी के नेतृत्व में कांग्रेस और जेडीएस ने जून माह में सरकार बनाई थी।

महाराष्‍ट्र: कर्ज में डूबे किसान ने अपनी चिता तैयार की, जहर पीया फिर खुद को आग लगा ली

कर्ज में डूबे किसान ने जानवरों के चारे और लकडि़यों से अपनी चिता सजाई। फिर जहर खाकर आग लगा ली। घटना महाराष्ट्र की है।

हाई कोर्ट की टिप्‍पणी: नकद मुआवजा देकर किसानों की आत्‍महत्‍या को बढ़ावा दे रही पंजाब सरकार

पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट की बेंच ने कहा,”आप नगद राहत देकर आत्महत्याओं को बढ़ावा दे रहे हैं। कोई भी अत्याधिक जरूरतमंद नगद राहत पाने के लिए आत्महत्या जैसा कदम उठा सकता है। लोग भूखे हैं, वे ऐसा कदम उठाने के बारे में सोच सकते हैं।”

महाराष्ट्र: ओलावृष्टि से फसल बर्बाद, किसान ने की आत्महत्या, 35000₹ का था बैंक लोन

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि लोहा नगर निगम के पार्षद रह चुके रमेश शेटे ने एक राष्ट्रीय बैंक से 35,000 रुपए का ऋण लिया था और जहर खाकर उसने खुदकुशी कर ली।

उचित मुआवजा नहीं मिलने से नाराज किसान ने सचिवालय में ही खाया जहर, बेटे ने भी सहायता लेने से किया मना

किसान धर्मा पाटिल तापीय विद्युत संयंत्र के वास्ते उनकी जमीन के एवज में अपर्याप्त मुआवजे को लेकर परेशान थे और उन्होंने मुम्बई में सचिवालय में अपनी जान देने की कोशिश की थी।

आर्थिक तंगी से परेशान किसान ने दी जान

शहर के ग्रामीण इलाके में एक किसान ने गरीबी से तंग आकर अपने खेत में पेड़ से लटक कर जान दे दी। किसान गरीबी के कारण बेटी की शादी नहीं कर पाने के कारण मानसिक रूप से परेशान था।

पंजाब:14 साल पहले पिता के लिए कर्ज को नहीं चुका पाया, किसान ने मां के साथ की सुसाइड

किसान दर्शन सिंह ने साल 2002 में तेजा सिंह नाम के एक कमिशन एजेंट से करीब 47 बीघा जमीन गिरवी रख कर 1.10 लाख रुपए का कर्ज लिया था। लेकिन सालों बीत जाने के बाद भी वें कर्ज नहीं चुका पाए।

मोदी सरकार से किसानों को लोन पर मिलने वाली सब्सिडी नहीं देने की सिफारिश

कृषि क्षेत्र के लिए नौ लाख करोड़ रुपए की ऋण योजना के बेहतर तरीके से क्रियान्वयन पर सुझाव देने के लिए गठित सरकारी समिति ने सुझाव दिया है कि तीन लाख रुपए से अधिक के अल्पकालिक ऋण पर ब्याज छूट नहीं दी जानी चाहिए।

किसान ने बर्बाद फसल के लिए मदद न मिलने पर कहा- सुसाइड कर लूंगा, संजीव बालियान बोले- जा कर ले

किसान गिरिराज की शिकायत थी कि बिजली का तार टूटने की वजह से 15 दिनों से उसके गांव में बिजली सप्लाई नहीं हो रही है।

मुंबई: कम मुआवजे से दुखी किसान ने दे दी जान

उपचार के दौरान पुलिस को दिए बयान में कदम ने कहा कि सरकार ने फसल नुकसान पर 6,800 रुपए प्रति हेक्टेयर मुआवजे की घोषणा की है, लेकिन उसे केवल 4,400 रुपए ही मिले

जस्‍ट नाउ
X