EPFO

नौकरीपेशा लोगों को लग सकता है झटका! PF खाते में जमा रकम के ब्याज पर कैंची चलाने की तैयारी

ईपीएफओ (EPFO-Employees Provident Fund Organisation) की तरफ से ब्याज दरों में कटौती की जा सकती है। वित्त वर्ष 2019-20 के पीएफ दरें 8.65 फीसदी से घटाकर 8.50 फीसदी कर दी गई।

EPFO की मल्टी लोकेशन क्लेम सुविधा है बेहद खास, अंशधारकों को होगा ये फायदा

EPFO withdrawal, pension, transfer claims settlement facility: नई व्यवस्था के लागू होते ही भविष्य निधि, पेंशन और आंशिक निकासी का निपटान आसानी से हो सकेगा। एक आधिकारिक बयान में, श्रम और रोजगार मंत्रालय ने कहा है कि नई सुविधा ईपीएफओ कार्यालयों को देश भर में अपने किसी भी क्षेत्रीय कार्यालय से ऑनलाइन दावों का निपटान करने की अनुमति देगी।

PF अकाउंट से पैसा निकालने पर कब लगता है टैक्स? यहां जानें

EPFO Income Tax rules: अक्सर पीएफ खाताधारकों के मन में यह सवाल होता है कि निकासी कब की जाए औ कब नहीं जिससे वह टैक्स देने से बच सकेंगे। इनकम टैक्स कानून के मुताबिक पांच साल से पहले पीएफ खाते से निकासी पर टैक्स लगता है।

PF खाताधारक मुफ्त बीमा का ऐसे उठा सकते हैं लाभ, जानें पूरा प्रॉसेस

Employees Deposit Linked Insurance Scheme for EPFO Account Holder: इम्‍पलाई डिपॉजिट लिंक्‍ड इन्‍श्‍योरेंस स्‍कीम यानी ईडीएलआई 1976 रूल्स के तहत हर एक कर्मचारी भविष्य निधि संगठन सब्सक्राइबर्स को यह कवर बिल्कुल फ्री में मिलता है।

आपके पास भी है PF Account? इसके जरिए मिलता है लोन और इंश्योरेंस, पेंशन का भी फायदा

EPF Account: कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की प्रमुख योजना है। संगठित क्षेत्र में काम करने वाला कर्मचारी और कंपनी दोनों मिलकर पीएफ खाते में योगदान करती है। कर्मचारी की बेसिक सैलरी का 12 फीसदी तो वहीं कंपनी भी इतना ही योगदान देती है।

EPFO Rules: इन वजहों से बंद हो सकता है आपका PF खाता! अगर कर रहे हैं ये गलती तो सावधान

EPFO Rules: पीएफओ के नियम के मुताबिक वे नौकरीपेशा लोग जो कंपनी के बंद हो जाने के बाद नई कंपनी ज्वॉइन करने के बाद खाते में अगर 36 महीने तक कोई ट्रांजेक्शन न होने पर पीएफ खाता बंद कर दिया जाता है।

PF फंड भुगतान में देरी के बावजूद अब कंपनियों पर नहीं लगेगा जुर्माना, EPFO का फैसला

Employees’ Provident Fund Organisation relief for employers: ईपीएफओ ने यह भी घोषणा की है कि केंद्र सरकार की ओर से पीएफ कंट्रीब्यूशन में करने से मिलने वाला लाभ कंपनियों को मिलेगा। श्रम और रोजगार मंत्रालय द्वारा जारी एक प्रेस नोट में ये जानकारी दी गई है।

EPF खाते में ‘डेट ऑफ एग्जिट’ अपडेट करना चाहते हैं? ये है तरीका, घर बैठे चुटकियों में होगा काम

Employees’ Provident Fund Organisation: अक्सर देखने को मिलता था कि कर्मचारी के नौकरी बदलने पर एम्पलॉयर की तरफ से डेट ऑफ एग्जिट दर्ज करने में लेट-लतीफी की जाती थी जिससे कर्मचारी को पेरशानी का सामना करना पड़ता था।

PF के लिए किया है अप्लाई पर नहीं मिला पैसा? जानें क्या हो सकती है वजह

PF withdrawal claims under covid-19: सरकार के मुताबिक वे कर्मचारी देशभर में कहीं भी संस्थानों और फैक्ट्रियों में काम कर रहे हैं और जो ईपीएफ स्कीम, 1952 के सदस्य हैं इस नॉन-रिफंडेबल एडवांस का फायदा ले सकते हैं।

Atal Pension Yojana: रोजाना 7 रुपये निवेश कर पा सकते हैं 5000 रु की पेंशन, जानें कैसे

Atal Pension Yojana: योजना राष्ट्रीय पेंशन योजना के जरिए पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा संचालित की जा रही है। योजना की ओवरड्राफ्ट सुविधा 10000 रुपये है। खातों का दुर्घटना बीमा 2 लाख है।

ग्रेच्युटी की पात्रता के लिए ये करना है जरूरी, वर्ना नहीं मिलता फायदा, 30 दिन के भीतर करना होता है आवेदन

Payment of Gratuity Act, 1972: पेमेंट ऑफ ग्रेच्युटी एक्ट, 1972 के मुताबिक वे कर्मचारी जिन्होंने एक ही कंपनी में पांच साल की अवधि पूरी कर ली हो वह ग्रेच्युटी के लिए पात्र माने जाते हैं।

क्या है वॉलेंटरी प्रोविडेंट फंड? नौकरीपेशा हैं और PF भरते हैं तो जान लें इसके भी फायदे

Voluntary Provident Fund: वॉलेंटरी प्रोविडेंट फंड स्वेच्छा से किया गया निवेश है। जो कर्मचारी इम्‍प्‍लॉई प्रोविडेंट फंड में स्वेच्छा से जो निवेश करते हैं वह वॉलेंटरी प्रोविडेंट फंड कहलाता है।

PF खाताधारक ऐसे करें ई-नॉमिनेशन, जानें कैसे होगा ये अधूरा काम पूरा

e-Nomination facility for EPF account holders: पीएफ खाताधारकों को अपने पीएफ खाते पर किसी नॉमिनी का नाम दर्ज करना होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि खाताधारक की मृत्यु या किसी अनहोनी पर परिवार के किसी सदस्य द्वारा खाते में पड़ी रकम क्लेम की जा सके।

Corona संकट: PF अकाउंट से एडवांस लेने पर क्या नुकसान होगा? यहां जानें

EPFO Advance Claim: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के नियमों में ढील दी गई है। वे कर्मचारी जो कि ईपीएफ स्कीम, 1952 के सदस्य हैं इस नॉन-रिफंडेबल एडवांस का फायदा ले सकते हैं।

PPF अकाउंट में रोजाना 100 रुपये का निवेश, मिलेंगे 54.47 लाख

Public provident fund: पब्लिक प्रोविडेंट फंड यानी PPF स्कीम में किया निवेश उन्हें कई फायदे देता है। इस स्कीम में अगर कोई व्यक्ति रोजाना 100 रुपये का निवेश करता है तो उसे 54.47 लाख रुपये हासिल होते हैं।

EPFO ऑनलाइन क्लेम के लिए ये हैं कुछ शर्तें, इनके बिना नहीं निकाल पाएंगे एडवांस!

Conditions for EPFO ​​online claim: ईपीएफओ खाताधारकों के लिए ऑनलाइन क्लेम करते वक्त कुछ शर्तें हैं जिनके बिना क्लेम नहीं किया जा सकता है। यदि खाताधारक के दस्तावेज पूरे होते हैं तो फिर महज तीन दिनों के अंदर ही बैंक अकाउंट में रकम ट्रांसफर हो जाएंगी।

नेशनल पेंशन सिस्टम में कर रहे निवेश? किसी तरह की शिकायत दर्ज करनी है तो ये है तरीके

National Pension System: एनपीएस के लिए आप ऑनलाइन भी आवेदन कर सकते हैं। अक्सर एनपीएस में निवेश करने वाले लोगों के मन में कई सवाल होते हैं जिनको लेकर वे असमंजस की स्थिति में होते हैं।

EPF निकासी और खाते के ट्रांसफर को लेकर है कोई परेशानी? EPFO की इस वेबसाइट में दर्ज करें अपनी शिकायत

EPF I Grievance Management System for EPF Accountholders: यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) होने पर आप आसानी से शिकायत दर्ज कर सकते हैं। वहीं अगर ये नंबर नहीं है तो भी आप शिकायत दर्ज कर सकते हैं।