EPF

5 साल के भीतर नौकरी छोड़ने पर पीएफ़ में जमा राशि पर नहीं लगेगा टैक्स, जानें क्या हैं शर्तें

भविष्य निधि निकासी नियमों के अनुसार, यदि कर्मचारी ने पांच साल की लगातार अवधि के लिए काम नहीं किया है और इस बीच पीएफ़ अकाउंट से पैसे निकालते हैं तो इनकम टैक्स कानून के नियमों के हिसाब से आपको इस पर इनकम टैक्स चुकाना पड़ेगा।

EPFO: अकाउंट होल्डर के डेथ के बाद ऐसे हासिल करें ऑनलाइन क्लेम

अक्सर ऐसा होता है कि लंबी प्रक्रिया से बचने के लिए नॉमिनी पीएफ का क्लेम नहीं करते हैं। आपको बता दें कि यह प्रक्रिया ऑनलाइन भी आसानी से पूरी की जा सकती है।

PF के पैसे निकालते समय रखें इन बातों का ध्यान नहीं तो देना पड़ सकता है TAX

बीते सालों में कर्मचारियों ने अपना पीएफ समय से पहले निकालने की प्रवृत्ति बढ़ी है। यही वजह है कि सरकार ने भी इसे नियंत्रित करने के लिए आयकर नियमों में कुछ बदलाव किए हैं।

EPFO: बेहद आसान है आपके PF खाते का e-transfer, जानें तरीका और बाकी डिटेल्स

यह भी सुनिश्चित करें कि रिकॉर्ड में आपके बैंक डीटेल्स जैसे खाता संख्या, IFSC कोड और आधार नंबर भी सही हों।

PF TRANSFER है फायदे का सौदा, बनाता है आपको PENSION का हकदार, पढ़ें ये काम की खबर

पीएफ ट्रांसफर की रकम पर इन्कम टैक्स की छूट भी मिलती है। यदि कोई कर्मचारी 5 साल की समयसीमा से पहले पीएफ का पैसा खाते से निकाल लेता है तो उस रकम पर उसे टैक्स देना होगा।

EPF के अलावा VPF भी है भविष्य के लिए सुरक्षित निवेश का शानदार जरिया, जानिए हर जरूरी बात

खास बात ये है कि वीपीएफ खाते पर भी ईपीएफ जितना ही ब्याज मिलता है। हालांकि ईपीएफ खाते कि तरह नियोक्ता कंपनी वीपीएफ खाते में अपना हिस्सा डालने के लिए बाध्य नहीं है।

पीएफ में हिस्सेदारी कम करना चाहती है सरकार! यूनियंस का आरोप- निजी क्षेत्र को फायदा पहुंचाने की कोशिश

10 ट्रेड यूनियंस ने इस बैठक का बहिष्कार किया। आरएसएस की मजदूर विंग भारतीय मजदूर संघ इस बैठक में शामिल हुआ, लेकिन उसने भी पीएफ में कटौती के सरकार के प्रस्ताव को खारिज कर दिया।

नरेंद्र मोदी सरकार ने बढ़ाई ब्याज दर, अब EPFO पर मिलेगा 8.65% इंटरेस्ट, नोटिस जारी

मंत्री ने कहा कि “इस फैसले के बाद छह करोड़ अंशधारकों के खातों में 2018-19 के लिए 8.65 प्रतिशत की ब्याज दर के हिसाब से 54,000 करोड़ रुपये डाले जाएंगे।’’

EPFO: अपने पीएफ और NPS खाते से जरूरत पर निकाल सकते हैं पैसा, जानें लें नियम और तरीका

ईपीएफ और एनपीएस के बीच कई अंतर हैं। इन दोनों योजनाओं के अपने लाभ और कमियां हैं। खासकर तब जब इन्हें निकालने की बात आती है।

EPFO: पीएफ खाताधारकों के अकाउंट में जल्द आने वाला है पैसा! जानिए बैलेंस चेक करने का तरीका

EPF, EPFo News: न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक सूत्रों का कहना है कि सरकार ने EPF के लिए साल 2018-2019 के लिए 8.65% की ब्याज दर को मंजूरी दे दी है। यह राशि 6 करोड़ खाताधारकों के खाते में जाएगी।

EPFO: पीएफ खाता धारकों को अब E-nomination की सुविधा, जानें कैसे उठाएं लाभ

EPFO E-nomination facility: कोई भी सदस्य ई-नॉमिनेशन सुविधा का फायदा उठाने के लिए ईपीएफओ मेंबर सेवा पोर्टल पर जाकर लॉग इन कर सकता है।

EPFO: चुटकियों में निकालिए पीएफ का पैसा, बस करना होगा यह काम

EPFO: पहले खाता धारक को भौतिक दस्तावेज के साथ-साथ पीएफ़ क्लेम करने के ढेरों फॉर्म जमा करने पड़ते थे। ये सब अब ईपीएफ पोर्टल पर डिजिटल रूप में उपलब्ध हैं।

EPF: ऑनलाइन PF क्लेम में नहीं आएगी परेशानी, KYC से जुड़ी इन बातों का रखें ध्यान

public provident fund, ppf: बतौर EPF खाताधारक आप KYC की जानकारी में अपडेट या सुधार कर सकते हैं। यह प्रक्रिया ऑनलाइन पूरी की जा सकती है और आपको इसके लिए ज्यादा पेपरवर्क की आवश्यकता नहीं है।

EPFO: बिना UAN नंबर के भी निकाल सकते हैं PF, यह है तरीका

public provident fund, ppf: कई बार ऐसा होता है कि आप के पास UAN नंबर नहीं होता। कई बार कंपनी बदलने पर आप UAN नहीं ले पाते ऐसे समय में, आप अन्य तरीकों का उपयोग करके बिना UAN के अपने पीएफ के पैसे निकाल सकते हैं।

EPFO: मोबाइल ऐप से चेक करें PF खाते की जानकारी, ऑनलाइन क्लेम भी करें हासिल, यह है तरीका

EPFO: कर्मचारी अपने भविष्य निधि के खाते की रकम आसानी से पता कर सकते हैं। इसके लिए उनके पास यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) और कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) से रजिस्टर्ड एक मोबाइल नंबर होना चाहिए।

ऐसे पता लगाएं अपना EPF बैलेंस, ये हैं चार तरीके

एक ग्राहक अपने भविष्य निधि में जमा राशि को ईपीएफओ की वेबसाइट या उमंग एप्प के माध्यम से चेक कर सकते हैं। साथ ही मिस्ड कॉल या एसएमएस सेवा के माध्यम से भी इसकी जानकारी मिल सकती है।

रिटायरमेंट से पहले नहीं निकाल सकेंगे पीएफ की पूरी रकम, सरकार ने तय की लिमिट

ईपीएफओ, संगठित और अर्ध संगठित क्षेत्रों में कर्मचारियों के सोशल सिक्योरिटी फंड्स का प्रबंधन करता है।

एक करोड़ कर्मचारियों के पीएफ खाते में 12 फीसदी अपनी ओर से देगी सरकार

क्वालिटी एजुकेशन पर जोर दिया जा रहा है। स्कूलों में ब्लैकबोर्ड के बजाय डिजिटल बोर्ड होगा। इसके लिए एक समिति बनाई है, जो एक महीने में अपनी रिपोर्ट देगी।

ये पढ़ा क्या?
X