election 2018

दुनिया की सबसे छोटी महिला ने नागपुर में किया मतदान, मेज पर चढ़कर दबाया EVM का बटन

दुनिया की सबसे छोटी महिला ज्योति आम्गे गुरुवार को महाराष्ट्र के नागपुर स्थित एक पोलिंग सेंटर पर वोट डालने पहुंचीं। इस दौरान उन्होंने मेज पर चढ़कर ईवीएम का बटन दबाया।

National Hindi News, 11 April 2019 Updates: दो दिन पहले नक्सली हमले में मारे गए बीजेपी MLA के परिजनों ने डाला वोट

हिंदी न्यूज़ लाइव, Hindi News, National Today News in Hindi Updates: 11 अप्रैल को 20 राज्यों की 91 सीटों पर मतदान होगा। ऐसे में सुबह से ही लोगों में वोटिंग के लिए जोश दिखना शुरू हो गया है।

Jasdan, Kolebira By Election Result 2018 Updates: गुजरात में भाजपा ने लहराया जीत का परचम, झारखंड में कांग्रेस ने बाजी मारी

Jasdan, Kolebira Bypoll By Election Result 2018 Today, Gujarat Jasdan, Kolebira By Election bypoll Election Chunav Result 2018: झारखंड के कोलेबिरा में हुए त्रिकोणीय चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार ने जीत हासिल कर ली।

संघ के मुखपत्र ने कहा- एंटी मोदी माहौल नहीं, चुनावों में हार की वजह भी बताई

लेख में मोदी ब्रांड पर लिखा गया कि मोदी ब्रांड की चमक फीकी नहीं पड़ी। इसके अलावा लिखा गया कि चुनाव बाद कहा जा रहा है कि किसानों का वोट कांग्रेस जुड़ गया। यह भी कहा जा रहा है कि चुनाव में कांग्रेस का हर दांव सफल रहा। जबकि यह कोरा झूठ है।

शरद यादव से गुफ्तगू करते नजर आए पवार, एक बस में सवार हो राहुल ने दिखाई विपक्षी एकता

राजस्थान में शपथ ग्रहण समारोह के दौरान राहुल विपक्षी एकजुटता की धुरी बनते नजर आए। वहीं दूसरे विपक्षी दलों के आला नेताओं की शिरकत ने भाजपा एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ व्यापक गठबन्धन से जुड़ी कांग्रेस की उम्मीदों को पर लगाने का काम किया।

Madhya Pradesh CM Oath Ceremony: मध्य प्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री बनें कमलनाथ, कई दिग्गज रहे मौजूद

Madhya Pradesh CM Oath Ceremony Updates: मध्यप्रदेश विधानसभा के लिए 28 नवंबर को मतदान हुआ था और 11 दिसंबर को आए चुनाव परिणाम में प्रदेश की कुल 230 विधानसभा सीटों में से कांग्रेस को 114 सीटें मिली हैं।

बेबाक बोल: ‘जनपथ’

छविबोध की लड़ाई में पप्पू से प्रधानमंत्री के विकल्प वाले चेहरे तक का सफर। हिंदी पट्टी के तीन हृदयप्रदेशों ने ‘पप्पू’ को श्रद्धांजलि देते हुए राहुल गांधी को 2019 के अहम खिलाड़ी के तौर पर खड़ा कर दिया। हर चुनावों के बाद पिक्चर अभी बाकी है की संवाद अदायगी करने वालों को तस्वीर से ही बाहर कर दिया गया। नब्बे के दशक के बाद से कॉल सेंटर और डोनेशन वाली इंजीनियरिंग, मेडिकल और प्रबंधन की सीटों पर झूम रहे मध्यवर्ग ने अपने शहरी मैदान में किसानों का स्वागत किया और एक-दूसरे की तकलीफों को साझा कर अपनी बेरोजगारी और उनकी आत्महत्या के बीच तार जोड़ा। मध्यवर्ग के अभाव के भाव में खेती-किसानी का प्रवेश हुआ। चुनावी नतीजों में जीते हुए उम्मीदवार उन राजनीतिक विद्वानों और टिप्पणीकारों से भी सवाल पूछ रहे हैं जो छत्तीसगढ़ सरकार के जनसंपर्क विभाग से हार गए। कांग्रेस को भी सबक देते हुए मध्य प्रदेश की जनता ने बहुमत से दो कदम दूर रखा। ताजा चुनाव नतीजों पर बेबाक बोल।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के नाम का एलान आज

ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि बैठक के बाद छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा कर दी जाएगी। इस बैठक में छत्तीसगढ़ के लिए पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खरगे, पार्टी के राज्य प्रभारी पीएल पुनिया और मुख्यमंत्री की दौड़ में शामिल माने जा रहे चार प्रमुख नेता- टीएस सिंह देव, ताम्रध्वज साहू, भूपेश बघेल और चरणदास महंत शामिल हुए।

दिन भर माथापच्ची में जुटा रहा गांधी परिवार

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के घर पर तो कभी सोनिया गांधी के यहां समूचा परिवार मंथन करने के लिए जमा हुआ। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल के निवास पर सुबह-सुबह राजस्थान के पर्यवेक्षक बनाए गए केसी वेणुगोपाल और उनके पीछे मध्य प्रदेश के पर्यवेक्षक बनाए गए वरिष्ठ कांग्रेस नेता एके एंटनी पहुंचे। दोनों नेताओं ने अपनी अपनी रिपोर्ट राहुल को सौंपी।

मध्य प्रदेश की कमान कमलनाथ को, राजस्थान-छत्तीसगढ़ में जारी घमासान

कमलनाथ ने कहा कि वे वादा करते हैं कि चुनाव के दौरान किए गए सभी वादों को पूरा किया जाएगा। एक नई शुरुआत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि वे गुरुवार सुबह साढ़े दस बजे राज्यपाल से मुलाकात करेंगे।

सोन‍िया गांधी से पूछा सीएम का नाम तो बोलीं- राहुल से पूछ‍िए, कांग्रेस अध्‍यक्ष ने करवाई रायशुमारी

तीन राज्यों में नए मुख्यमंत्री के सवाल पर सोनिया गांधी ने कहा कि इसका जवाब राहुल गांधी से पूछिए। वहीं, राहुल गांधी मुख्यमंत्री पद के नाम पर फैसला करने से पहले कार्यकर्ताओं से रायशुमारी कर रहे हैं।

तीन राज्यों में हार पर बीजेपी सांसद ने पत्रकार से पूछा- अमित शाह ने ट्वीट किया कि नहीं

मोदी सरकार के एक पूर्व मंत्री और वर्तमान सांसद ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि यह हार जरूरी था। इस हार से पार्टी के कई नेताओं का अहंकार टूट जाएगा जो यह सोचते हैं कि भाजपा को कोई नहीं हरा सकता।

राजस्थान में टूटे कई मिथक

भाजपा को तगड़ा झटका जयपुर और जोधपुर जिलों से ही लगा। पश्चिमी क्षेत्र में कांग्रेस अपनी खोई जमीन वापस लाने में सफल रही। जोधपुर संभाग में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का प्रभाव रहा। इसी तरह से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट का असर रहा कि जयपुर संभाग के गुर्जर बहुल इलाकों की ज्यादातर सीटों से भाजपा का सफाया हो गया।

कांग्रेस का प्रयोग : तजुर्बा और तरुणाई

विभिन्न मौकों पर राहुल गांधी ने स्पष्ट किया कि वह युवाओं के साथ ही बुजुर्ग-अनुभवी नेताओं को लेकर भी चलेंगे। मामला कांग्रेस कार्यसमिति के गठन का हों अथवा विभिन्न राज्यों में अध्यक्ष व प्रभारी बनाने का रहा हो। उन्होंने कोशिश की कि अनुभव की छांव में तरुणाई को आगे बढ़ने का मौका मिले।

विंध्य में सवर्णों के बीच खाई से कांग्रेस को हुआ नुकसान, मध्य प्रदेश के मालवा-निमाड़ ने की भाजपा से बेवफाई

आदिवासी क्षेत्र की कई सीटें भी खिसक गईं, जिसे संघ ने कई साल की मेहनत से तपाया था। दूसरी ओर, विंध्य क्षेत्र में कांग्रेस के राजपूत उम्मीदवारों को ब्राह्मणों का वोट नहीं मिला। बसपा ने कांग्रेस के काफी वोट काटे। वहां की 30 सीटों में कांग्रेस को छह सीटें मिलीं। पिछली बार 12 सीटें थीं। कुछ में कांग्रेस 200-300 वोटों से हारी।

कांग्रेस विधायक दल ने राहुल को दिया चुनने का हक, तीन सूबों के मुख्यमंत्री पर फैसला आज

राजस्थान में मुख्यमंत्री पद के दो दावेदारों- पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट को लेकर कांग्रेस आलाकमान उलझन में फंस गया है। कांग्रेस विधायक दल की बुधवार को यहां हुई बैठक में मुख्यमंत्री चयन का अधिकार राहुल गांधी को सौंप दिया गया। कांग्रेस के पर्यवेक्षक बन कर आए राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल ने दिन भर यहां कांग्रेस के नए विधायकों से रायशुमारी कर एक आमराय बनाने की कोशिश की गई।

विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की जीत पर बोले राज ठाकरे- अब ‘पप्‍पू’ हो गए ‘परमपूज्‍य’

राज ठाकरे ने कहा कि राहुल गांधी जिन्हें विपक्षी पप्पू कहते थे, अब वे परम पूज्य हो गए हैं। लेकिन क्या उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार किया जाएगा?

‘कांग्रेस में मोदी को रोकने का नहीं है दम’, जानें क्या बोले असदुद्दीन ओवैसी

Telangana Election Result 2018, Telangana Vidhan Sabha Chunav Result 2018: असदुद्दीन ओवैसी ने उम्मीद जतायी कि तेलंगाना की जीत को आगे बढ़ाते हुए टीआरएस प्रमुख के चंद्रशेखर राव सभी ऐसे दलों को एक मंच पर लाएंगे ताकि भाजपा को हराया जा सके।

IPL 2020 LIVE
X