ताज़ा खबर
 

drdo

Chandrayaan 2 Vikram Lander: ‘विक्रम’ से संपर्क साध पाएगा ISRO? देशवासियों को दिया खास संदेश

Chandrayaan 2 Vikram Lander News Update, ISRO Chandrayaan 2 Moon Mission Vikram Lander Latest News Updates: डीआरडीओ द्वारा इसरो को मुहैया कराई जाने वाली कुछ महत्वपूर्ण प्रौद्योगिकियों में अंतरिक्ष में भोजन संबंधी तकनीक, अंतरिक्ष जाने वाले दल की सेहत पर निगरानी, सर्वाइवल किट, विकिरण मापन और संरक्षण, पैराशूट आदि मुहैया कराए जाएंगे।

Video: देखिए, हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइल ‘अस्त्र’ का सफल परीक्षण

अभी तक इसके कई परीक्षण किए जा चुके हैं जिसमें यह सटिक और घातक है। हवा से हवा में मार करने वाली यह भारत की विकसित पहली मिसाइल है।

DRDO ने किया मैन पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का परीक्षण, ढाई किमी के रेंज में चल रहे टैंक को मार गिराएगी

डीआरडीओ ने आंध्र प्रदेश के कुरनूल में ‘मैन पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल’ (एमपीएटीजीएम) का टेस्ट सफल हुआ। यह मिसाइल उच्च विस्फोटक से लैस है।

सेना के लिए उत्पादन से जुड़ी 3 बड़ी कंपनियों में कामकाज ठप, प्रदर्शन कर रहे हजारों कर्मचारी

पुणे स्थित तीन इकाईयां खड़की की एम्यूनिशन फैक्ट्री, खड़की स्थित एक्सप्लोजिव फैक्ट्री और देहू रोड स्थित ऑर्डिनेंस फैक्ट्री है। लेबर यूनियन ने इस हड़ताल का आयोजन किया है।

निधन के एक महीने पहले एपीजे अब्दुल कलाम ने DRDO चीफ सतीश रेड्डी को दिया था नए मिसाइल का आइडिया

डीआरडीओ चीफ ने कहा ‘वैज्ञानिक सलाहकार नियुक्त होने के बाद, उनके निधन से एक महीने पहले मैंने कलाम से उनके आवास पर मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने मुझे दोबारा इस्तेमाल में लाई जाने वाली मिसाइल पर काम करने की सलाह दी।

7th Pay Commission: सातवें वेतन आयोग के मुताबिक मिलेगी सैलरी, डीआरडीओ में निकली हैं नौकरी

7th Pay Commission: 10वीं पास युवाओं के लिए रक्षा मंत्रालय के संस्थान में काम करने का बेहतरीन मौका। डिप्लोमा या ITI सर्टिफिकेट है तो 26 जून तक करें अप्लाई।

और मजबूत होगा स्पेस वारफेयर सिस्टम, नरेंद्र मोदी कैबिनेट ने DSRO को दी नए हथियार, तकनीक बनाने की हरी झंडी

इस एजेंसी में वैज्ञानिकों की एक टीम होगी जो कि तीन सेनाओं (थल, जल और वायु) से जुड़े अधिकारियों के साथ तालमेल कर काम करेगी।

भारत को अंतरिक्ष महाशक्ति बनाने वाले मिशन का प्रेजेंटेशन वीडियो आया सामने, चिदंबरम को DRDO ने यूं दिया जवाब

Mission Shakti: डीआरडीओ प्रमुख जी सतीश रेड्डी ने कहा कि ‘मिशन शक्ति’ की प्रकृति ऐसी थी कि इसे किसी भी हाल में गोपनीय नहीं रखा जा सकता है। इस दौरान DRDO ने मिशन शक्ति का प्रेजेंटेशन वीडियो भी सार्वजनिक किया।

भारतीय सेना की ताकत में इजाफा, जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल का सफल परीक्षण

इस मिसाइल के सफल परीक्षण के बाद भारतीय सेना जमीन से ही किसी भी संदिग्ध एअरक्राफ्ट, हेलीकॉप्टर, एंटी-शिप मिसाइल, यूएवी, बैलेस्टिक मिसाइल, क्रूज मिसाइल और कॉम्बैट जेट को हवा में ही नेस्तानाबूत कर सकती है।

इजरायल से 500 मिलियन डॉलर का रक्षा सौदा रद्द, DRDO से मिसाइल बनवाना चाहती है मोदी सरकार

जिस डील को रक्षा मंत्रालय द्वारा रद्द करने का फैसला किया गया है उसे भारत और इजरायल के बीच मजबूत होते रिश्तों के तौर पर देखा जा रहा था।

भारत ने किया सुपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण, दुश्मन के मिसाइल को हवा में कर सकेगी ध्वस्त

भारत ने रविवार को पूरी तरह भारत में निर्मित सुपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण किया।

K-4 मिसाइल: न्‍यूक्‍ल‍ियर क्षमता, 3500 किमी रेंज, जानें क्‍यों बेहद खतरनाक है यह भारतीय मिसाइल सिस्‍टम

K-4 मिसाइल को डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) ने विकसित किया है। दावा किया जा रहा है कि यह सिस्‍टम बेहद खतरनाक है और दुनिया में अपने किस्‍म का पहला है।

स्वदेशी विमानों और मिसाइलों की मारक क्षमता का पहला सार्वजनिक प्रदर्शन

‘आयरन फिस्ट 2016’ नामक इस अभ्यास में देश के हल्के लड़ाकू विमान यानी तेजस की मारक क्षमता का भी प्रदर्शन किया गया।

संसद में तैनात किया गया Anti Terrorist Vehicle, ग्रेनेड व गोलियों के हमले से भी रहेगा बेअसर

अधिकारियों का कहना है कि, वर्तमान में इसे आतंकी व आत्‍मघाती हमलों से बचाव को ट्रायल के लिए संसद भवन में रखा गया है।

भारत ने किया आकाश मिसाइल का सफल परीक्षण

भारत ने आज जमीन से हवा में वार करने वाली स्वदेशी मिसाइल आकाश का सफल परीक्षण किया है। यह मिसाइल करीब 25 किलोमीटर दूर दुश्मनों के लड़ाकू विमानों को भेद सकती है।

स्वदेशी पनडुब्बी रोधी पोत ‘आइएनएस कदमत्त’ नौसेना में शामिल

आइएनएस कदमत्त पर 13 अधिकारी और 180 नाविक तैनात होंगे। कमांडर महेश चंद्र मुद्गिल इसके पहले कमांडिंग अधिकारी होंगे। पूर्वी नौसैनिक कमान के तहत पूर्वी बेड़े का यह एक अभिन्न हिस्सा होगा।

ओआरओपी और मेक इन इंडिया के नाम रहा साल

रक्षा मंत्रालय के लिए बेहद गहमागहमी भरे रहे इस साल में जहां एक तरफ करीब दो लाख करोड़ रुपए के कई महत्त्वपूर्ण रक्षा खरीद प्रस्तावों को मंजूरी मिली वहीं वन रैंक-वन पेंशन योजना, यमन और नेपाल में चलाए गए अभियान, डीआरडीओ में शीर्ष स्तर पर बदलाव के साथ ही नई रक्षा खरीद प्रक्रिया और रफाल गतिरोध को तोड़ने में सफलता जैसे कई मामले मंत्रालय के गलियारे में छाए रहे..

पर्रिकर ने डीआरडीओ से कहा: मिसाइल तो बना ली, असॉल्ट राइफल क्यों नहीं?

डीआरडीओ ने अपने बजट को बढ़ाने की मांग करते हुए कहा कि चीन अपने रक्षा व्यय का करीब 20 प्रतिशत अनुसंधान एवं विकास पर खर्च कर रहा है..