delhi riots

दिल्ली दंगाः पुलिस ने थपथपाई अपनी पीठ तो ओवैसी बोले – बलि का बकरा ढूंढना बंद करो, कहां हैं फैजान के हत्यारे?

AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी ने दिल्ली पुलिस को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि पुलिस अपनी पीठ थपथपाना बंद करे और मामले में बेगुनाह लोगों को बलि का बकरा बनाना बंद करे।

दिल्ली दंगा 2020 ‘शांत’ करने को DP ने दाग दी थी हवा में 400 से ज्यादा गोलियां, 4000 आंसू गैस के गोले भी किए थे इस्तेमाल

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों में 53 लोगों की मौत हुई थी और सैकड़ों लोग घायल हुए थे। इसको लेकर दिल्ली पुलिस ने एक रिपोर्ट जारी की है। इसमें कहा गया है कि पुलिसकर्मियों ने हवा में कम से कम 461 गोलियां चलाईं और लगभग 4,000 आंसू गैस के गोले दागे थे।

हिंदू, मुस्लिम जिहादी को मारेगा तो हम उसके साथ, ताली बजा रहे थे कपिल मिश्रा; एंकर ने पूछा तो मुकर गए

बीते साल 23 फ़रवरी से 26 फ़रवरी के बीच दिल्ली के उत्तर पूर्वी इलाके में धार्मिक हिंसा भड़क गयी थी। इस हिंसा में करीब 53 लोगों की मौत हो गयी थी। इन दंगों को भड़काने का आरोप भाजपा नेता कपिल मिश्रा पर लगा था।

जब कवि बन इमाम पर कविता सुनाने लगे थे संबित पात्रा, AAP के संजय सिंह बोले- चल भाग…चल भाग

पिछले साल फरवरी में उत्तर पूर्वी दिल्ली में CAA समर्थक और विरोधियों के बीच झड़प ने दंगे की शक्ल ले ली थी।

दिल्ली दंगों में कितने मुस्लिमों के लिए आपने काम किया? इंटरव्यू में कपिल मिश्रा से सवाल- देखिए क्या मिला जवाब

भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने कहा कि दिल्ली दंगों के बाद दिल्ली सरकार और दिल्ली वक्फ बोर्ड एक ही तरह के लोगों के लिए काम कर रही थी।

तीन महीने पहले ही शुरू हो गए थे दिल्ली दंगे, हिंसा भड़काने के आरोप पर कपिल मिश्रा की सफाई

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने अपने ऊपर हेट स्पीच देने और टूल किट डालने के आरोप को भी गलत बताया। कहा कि हम कोई टूलकिट पोस्ट नहीं करते हैं। हम केवल साधारण मुद्दों पर बात करते हैं।

दिल्ली दंगा: भाजपा के कपिल मिश्रा बोले- अपने भाषण पर कोई पछतावा नहीं, जरूरत पड़ी तो फिर ऐसा करूंगा

भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने सोमवार को कहा कि सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों पर निशाना साधने वाला उन्होंने जो भाषण दिया था, उसका उन्हें कोई पछतावा नहीं है, और जरूरत पड़ी तो वह फिर से ऐसा करेंगे।

दिल्ली दंगा: 1800 से ज्यादा की गिरफ्तारी, FRS तकनीक से पकड़े गए 137; जानिए कैसे काम करता है ये सिस्टम

दिल्ली दंगा में मामले में कुल 1818 लोगों की गिरफ्तारी हुई। इनमें से 231 लोगों को नई तकनीकों के जरिए पकड़ा जा सका।

कृषि कानून की डिबेट पर दिल्ली दंगों का जिक्र करने लगे संबित पात्रा, एंकर ने टोका- बिल में कहां है ऐसा? टॉपिक पर रहिए

आज तक पर डिबेट के दौरान बीजेपी के संबित पात्रा ने कहा कि हमें चंदाजीवी और रक्तजीवी कहा गया। राम मंदिर के निर्माण के लिए चंदा मांग रहे हैं। जो हमें चंदाजीवी कह रहे हैं वे तो गोली मारने वाले हत्यारे हैं।

दिल्ली में राम मंदिर के लिए अभियान लेकिन नहीं हो पाई रथ यात्रा, पुलिस ने चेताया- लोग हमले के फ़िराक़ में

इस अभियान को लेकर सांसद मनोज तिवारी ने काफी तैयारी भी की थी। तिवारी की प्रस्तावित रथयात्रा को तिमारपुर, चांद बाग, यमुना विहार जैसे इलाकों से होकर गुजरना था।

दिल्ली दंगा : चार्जशीट पढ़ने को पर्याप्त वक्त नहीं दिया गया- कोर्ट से बोले आरोपी

उत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगों के मामले में गैर कानूनी गतिविधि (रोकथाम) के तहत मुकदमे का सामना कर रहे कई आरोपियों ने मंगलवार को एक अदालत के सामने दावा किया कि आदेश के बावजूद जेल में उन्हें आरोपपत्र तक पहुंच नहीं दी गयी।

देश में इमरजेंसी लगाने वाले लोकतंत्र का पाठ पढ़ा रहे हैं- कांग्रेस नेता मनीष तिवारी पर भड़के फिल्ममेकर; समर्थक भी पड़ गए पीछे

अमेरिका के हालात पर कमेंट करते हुए संजय सिंह और मनीष तिवारी ने भी ट्वीट किया। संजय सिंह ने कहा था- नफ़रत की सोंच आपको इंसान से जानवर बना देती है। ट्रम्प के इन बंदरों ने अमेरिका की संसद में फ़ायरिंग…

दिल्ली दंगाः कोर्ट ने कहा, ताहिर हुसैन और उमर ख़ालिद ने मिलकर रची थी हिंसा की साजिश, चलेगा केस

दिल्ली की एक अदालत ने मंगलवार को कहा कि यह प्रदर्शित करने के लिए प्रथमदृष्टया उपयुक्त आधार हैं कि पूर्व छात्र नेता उमर खालिद, ताहिर हुसैन और अन्य ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों के दौरान षड्यंत्र रचे थे। अदालत ने मामले में पूरक आरोपपत्र का संज्ञान लेते हुए यह टिप्पणी की।

चौपाल: दुख का साल

साल 2020 सबसे खराब साल कहा जाए तो शायद कुछ गलत नहीं होगा। इस साल में देश ने कोरोना का भयंकर कहर, दिल्ली के दंगे समेत कई घटनाएं देखीं। लगभग पूरा साल कोरोनावायरस और उससे उपजी चुनौतियों का वर्ष रहा।

दिल्ली दंगा: जज बोले धृतराष्ट्र की तरह साज़िश देख नहीं पाए, वकील ने कहा- रामायण की तरह 14 साल नहीं कर सकते न्याय का इंतज़ार

दिल्ली दंगे के मामले में दिल्ली के एक कोर्ट में सुनवाई के दौरान बहस रामायण और महाभारत तक चली गई। जज ने कहा कि धृतराष्ट्र को पहचानना है तो वकील बोले- रामायण की तरह 14 साल इंतजार नहीं कर सकते।

दिल्ली दंगों के पीछे कपिल मिश्रा, यही साबित करना चाहती है कलिटा- कोर्ट में दिल्ली पुलिस की दलील

दंगों में बृहद साजिश के मामले में कलिता की जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अमिताभ रावत के समक्ष पुलिस ने यह दलील दी।

दिल्ली दंगा: विडियो होने के बावजूद पुलिस ने बंद कर दी जांच, कोर्ट ने दिया एफ़आईआर का ऑर्डर

कोर्ट ने पुलिस को दंगे के एक मामले में प्राथमिकी दर्ज करने और स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच करने का आदेश दिया है। शिकायतकर्ता द्वारा सबूत के रूप में आरोपियों के खिलाफ वीडियो रिकॉर्डिंग प्रस्तुत करने के बावजूद पुलिस ने मामले की पूछताछ बंद कर दी थी।

यह पढ़ा क्या?
X