Cinema

संपादकीय: अभिव्यक्ति के सामने

‘तांडव’ के कुछ दृश्यों को लेकर कुछ संगठनों ने यह आपत्ति जताई कि इससे उनकी धार्मिक भावनाओं को चोट पहुंची है। इसके बाद कई अन्य संगठन भी इसमें कूद पड़े।

सबरंग : जान्हवी कपूर को करना पड़ा किसानों का समर्थन

अभिनेता वरुण धवन अपनी दोस्त और फैशन डिजाइनर नताशा दलाल के साथ 24 जनवरी को शादी के बंधन में बंधने वाले हैं। धवन और दलाल स्कूल में साथ पढ़ते थे और लंबे समय से दोस्त हैं।

सबरंग: सिनेमाघर हुए आधे, मालिकों की गुहार ‘राधे राधे’; हजारों करोड़ रुपए का उद्योग एक फिल्म स्टार का मोहताज

भाई के नाम में इतना दम है कि लोगों को घरों से निकाल कर थियेटर ले आएंगे और सिनेमाघर गुलजार हो जाएंगे। कुल मिलाकर कोरोना का प्रभाव फिल्मजगत पर ऐसा पड़ा है कि हजारों करोड़ रुपए का उद्योग एक फिल्म स्टार का मोहताज हो गया है।

सबरंग: रुपहला पर्दा-दिग्गजों की डुगडुगी

यूटीवी, रिलायंस से लेकर फॉक्स स्टार स्टूडियो के साथ गठबंधन करके फिल्में बना रहे साजिद ‘तड़प’ में सुनील शेट्टी के बेटे अहान को परदे पर उतारेंगे और ‘83’ में कपिल देव के रूप में रणवीर सिंह को दिखाएंगे।

सबरंग: बड़े बदलाव के लिए तैयार बॉलीवुड, रिलीज की रणनीतियों में व्यस्त हुए फिल्म निर्माता

अप्रैल में रणवीर सिंह की ‘83’ के साथ प्रभाष की ‘राधे श्याम’ आ सकती है। मई में जॉन अब्राहम ‘सत्यमेव जयते 2’ से और सलमान खान ‘राधे-द मोस्ट वांटेड भाई’ के जरिए सिनेमाघरों तक पहुंचेंगे।

कल आज और कल-रीमेक में रमा बॉलीवुड: अगले साल आएंगी हिंदी की कई रीमेक फिल्में

ज्यादातर देखा गया है कि हिट एक्टर रीमेक फिल्मों में काम करने में ज्यादा दिलचस्पी दिखाते हैं। अजय देवगन, सलमान खान, अक्षय कुमार, आमिर खान सभी रीमेक फिल्मों में धड़ल्ले से काम कर रहे हैं।

मुद्दा: यूपी में फिल्मसिटी,घोषणा पर घमासान

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने प्रदेश में फिल्मसिटी बनाने की घोषणा की, तो राजनीतिक बयानबाजी की बाढ़ आ गई। घोषणा से ही विवाद बढ़ने लगा। कोई इसकी तारीफ कर रहा था, तो कोई इसे बॉलीवुड को उत्‍तर प्रदेश ले जाने का षड्यंत्र बता रहा था।

ओटीटी प्लेटफार्म: चमक गई किस्मत, अनजान कलाकारों को पहचान देने वाला मंच

अभिनय क्षेत्र में सफलता पाने के लिए कलाकारों को कई सालों तक संघर्ष करना पड़ता है। इसके चलते उनको अभिनय के जिस भी क्षेत्र में छोटा बड़ा काम मिला वो करने से मना नहीं करते। मिथुन चक्रवर्ती, जैकी श्राफ, शाहिद कपूर ऐसे ही कई कलाकार हैं जिन्होंने शुरुवाती दौर में बहुत ही छोटे रोल से अभिनय की शुरुआत की।

हमारी याद आएगी: बीआर चोपड़ा-जब कलाकार के जुनून ने निर्माता को झुकाया

फिल्मी दुनिया में कहा जाता है कि हर भूमिका अपना भाग्य लेकर पैदा होती है और उस ‘भाग्यवान’ तक पहुंच जाती है, जिसके लिए वाकई में वह लिखी गई होती है। फिल्मी दुनिया में इतिहास बनी ‘जंजीर’ के नायक इंस्पेक्टर विजय खन्ना की भूमिका धर्मेंद्र, देव आनंद, राजकुमार जैसे कलाकारों से होती हुई आखिर अमिताभ बच्चन को मिली थी। बीआर चोपड़ा, जिनकी आज 12वीं पुण्यतिथि है, को भी 1973 में एक नए कलाकार को वह भूमिका सौंपनी पड़ी थी, जिसके लिए वह एक नहीं दो-दो नामी कलाकारों को साइन कर चुके थे।

वर्तमान और भविष्य: फिल्म वालों की सारी उम्मीदें अब अगले साल से जुड़ीं, 2020 में बेहाल बॉलीवुड 2021 में होगा मालामाल!

सात महीने लंबी पूर्णबंदी के बाद जब केंद्र सरकार ने 15 अक्तूबर से सिनेमाघरों को कुछ प्रतिबंधों के साथ खोलने की घोषणा की, तो फिल्मजगत ने राहत की सांस ली थी कि अब धीरे-धीरे सब कुछ ठीक हो जाएगा। उम्मीद की जा रही थी कि इस साल दीपावली पर सिनेमाघर गुलजार होंगे। मगर महाराष्ट्र में सिनेमाघरों को खोलने की अनुमति दीपावली से ठीक पहले, पांच नवंबर को मिली। फिल्मकारों के पास इतना वक्त ही नहीं बचा कि वे दीपावली पर फिल्म रिलीज की योजना बना सकें।

ताजातरीन खबर कोना: व्यावसायिक फिल्मों में भी महिलाओं को बड़ी भूमिकाएं मिलनी चाहिए : यामी गौतम

श्रीदेवी हाल के वर्षों की शायद एक मात्र ऐसी अभिनेत्री हैं जिन्होंने बड़ी व्यावसायिक फिल्मों, गहरी भूमिका वाली फिल्में और हास्य फिल्मों में एक साथ काम किया।

बदलाव की बयार: अपराध, हिंसा और रोमांच से भरी सीरीज दर्शकों की पसंद बनीं, ‘ओटीटी’ पर गालियां चल रही हैं या गोलियां

अपराध, रोमांच और मारधाड़ से भरपूर फिल्में दर्शक खूब पसंद करते रहे हैं। वजह यह है कि यह रोजमर्रा के जीवन से हटकर एक अलग दुनिया की कहानी कहती है। लिहाजा परदा छोटा हो या बड़ा प्यार और रोमांंस के साथ अपराध और रोमांच हर दौर में दर्शकों की पसंद रहे हैं। इन दिनों ओटीटी प्लेटफॉर्म की वेब सीरीजों में या तो गोलियां चल रही हैं या गालियां।

TV अभिनेत्री ने बहन और पति के सामने किया ब्वॉयफ्रेंड का कत्ल, पहले डंडे से पीटा, फिर हथौड़े से कूच डाला

पुलिस के मुताबिक कोलाथुर में 42 वर्षीय अभिनेत्री एस देवी ने अपनी बहन के घर पर अपने पूर्व बॉयफ्रेंड एम रवि के सिर पर हथौड़े से वार करके उसकी जान ली। घटना के बाद अभिनेत्री एस देवी ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया।

कान फिल्मोत्सवः ईरानी सिनेमा और नई कूटनीति

ईरानी फिल्मकार असगर फरहादी को जब ‘टाइम’ ने संसार के सौ सबसे प्रभावशाली लोगों में शामिल किया था तो किसी को अचरज नहीं हुआ था। अब कान फिल्मोत्सव में उन्हे दो-दो पुरस्कारों से नवाजा गया है।

सिनेमा : नजर और नजरिया

निश्चित रूप से फिल्म की संवेदना और सरोकारों का असर सभी दर्शकों पर स्थायी नहीं रहता। वे मनोरंजन के तराजू से फिल्मों को ज्यादा याद रखते हैं।

साधु-सन्यासिय़ों पर बनी फिल्म ‘ग्लोबल बाबा’ को लेकर मचा बवंडर

साधु-महात्माओं के जीवन चरित्र को लेकर बनी फिल्म ‘ग्लोबल बाबा’ के रिलीज होने के बाद कुछ संगठनों ने इसे हिंदू धर्म को बदनाम करने की अंतरराष्ट्रीय साजिश करार दिया तो कुछ संगठनों ने इसे समाज में जागरूकता फैलाने वाली फिल्म बताया है।

सिनेमा : परदे पर कथा का पुनर्पाठ

प्रेमचंद अपनी कहानी में दिखाते हैं कि लकड़ी बीच से फट गई। कुल्हाड़ी छूट कर गिर पड़ी और दुखी चक्कर खाकर गिर गया। सत्यजित राय इसे दूसरे तरीके से दिखाते हैं।

ये पढ़ा क्या?
X