chandrashekhar

बेबाक बोल-राजकाज-कांग्रेस कथा: सत्ता और संत

जयप्रकाश नारायण की अगुआई में जनता के प्रतिरोध की आंधी इंदिरा गांधी महसूस कर रही थीं। उस समय चंद्रशेखर ने उन्हें जेपी की ताकत की चेतावनी देते हुए उनके साथ सुलह-समझौते का रिश्ता बनाने की सलाह दी थी। तत्कालीन प्रधानमंत्री ने चंद्रशेखर की सलाह न मान कर संत को ही साधने की ठान ली। लेकिन संत से टकराने के बाद इंदिरा गांधी की सत्ता का विनाश हुआ। इसी तरह अण्णा हजारे के आंदोलन की ताकत पहचानने की नसीहत को सोनिया गांधी ने परे रखा और कांग्रेस रसातल में चली गई। आज दिल्ली की सीमाओं पर किसान संतन की तरह धुनी रमाए हैं और चंद्रशेखर जैसी भूमिका सुप्रीम कोर्ट निभा चुका है। हम गांधी से लेकर जेपी और अण्णा तक की कथा को एक बार फिर से सुनेंगे तो पाएंगे कि आजादी के पहले से लेकर आज तक के भारत में बड़े सियासी परिवर्तन उन्हीं संत जैसे लोगों के कारण हुए जिन्हें सत्ता का मोह नहीं था। बेबाक बोल में संतन से भिड़ी सत्ता पर बात।

बेबाक बोल- राजकाज- कांग्रेस कथाः एक समय की बात है

अब तक इंदिरा गांधी को निज के परिवार से मिली लोक की सत्ता पर अहंकार होने लगा था। उनका यह अहंकार टूटा 1972 में शिमला में हुए कांग्रेस कार्यसमित के चुनाव में।

नरेंद्र मोदी ने सुनाया किस्सा, ‘चंद्रशेखर को देख भैरो सिंह शेखावत ने मेरी जेब में डाल दिया था अपना सामान’

बुधवार (24 जुलाई, 2019) को पूर्व पीएम चंद्रशेखर के जीवन पर आधारित एक किताब का विमोचन हुआ। कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि पीएम मोदी के अलावा लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद और राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश मौजूद रहे। पीएम ने इस मौके पर चंद्रशेखर से पहली बार मिलने का जिक्र करते हुए मजेदार और रोचक किस्सा सुनाया।

यह है चंद्रशेखर आजाद की पिस्तौल, सेमी ऑटोमेटिक यूएस मेड, लगती थी आठ बुलेट की मैगजीन

पॉइंट 32 एसपी (Auto Colt Pistal) की यह पिस्टल हैमरलेस सेमी ऑटोमेटिक है। इसमें 8 बुलेट की मैगजीन है। सिंगल एक्शन ब्लोबैक सिस्टम से लैस इस पिस्ट की रेंज 25 से 30 यार्ड की है।

सपा में टिकट नहीं मिलने से थे नाराज, पूर्व पीएम चंद्रशेखर के बेटे नीरज शेखर बीजेपी में शामिल

पूर्व प्रधानमंत्री और समाजवादी नेता चंद्रशेखर के बेटे नीरज शेखर मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। उन्होंने सोमवार को ही समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद के तौर पर अपना इस्तीफा दे दिया था।

सपा MP नीरज शेखर का राज्यसभा से इस्तीफा, नरेंद्र मोदी से मिलने के बाद बन सकते हैं भाजपाई

राज्यसभा के सभापति एम.वैंकेया नायडू ने नीरज का इस्तीफा कबूल लिया है, जिससे कुछ देर पहले वह नायडू से मिले थे। उन्होंने कहा कि यह कदम उन्होंने निजी इच्छा से उठाया है।

पूर्व पीएम चंद्रशेखर से वीपी सिंह तक, कैंसर के आगे हार गए ये दिग्गज राजनेता

Cancer patients: पूर्व पीएम चंद्रशेखर से वीपी सिंह तक कैंसर से ग्रसित थे। इनके आलावा और भी कई नेता थें जिनको कैंसर था और इस वजह से वह जिंदगी से हार गए थे।

ये पढ़ा क्या?
X