bookie

IPL 2020: पुलिस और अमीरात क्रिकेट बोर्ड के कारण सट्टेबाजों के मंसूबों पर फिरा पानी, BCCI ने किया खुलासा

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की एंटी करप्शन यूनिट (भ्रष्टाचार रोधी इकाई) के प्रमुख अजीत सिंह ने खुलासा किया है कि इस बार सटोरिये किसी भी तरह से अब तक अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाए हैं।

हर क्रिकेट मैच फिक्‍स- सटोरिये संजीव चावला ने अंडरवर्ल्ड कनेक्‍शन भी बताया

दिल्ली पुलिस ने मैच फिक्सिंग का खुलासा किया था। अफ्रीकी टीम सीरीज खेलने के लिए फरवरी-मार्च 2000 में भारत दौरे पर आई थी। चावला अंडरवर्ल्ड सरगना दाऊद इब्राहिम का करीबी रहा है।

मैच फिक्सिंग: मुख्य आरोपी संजीव चावला ने निचली अदालत के फैसले को दी चुनौती तो दिल्ली हाई कोर्ट ने भेजा तिहाड़ जेल, गृह मंत्रालय से मांगा जवाब

पुलिस ने हाई कोर्ट को बताया कि इस मामले में शामिल हैंसी क्रोनिए की 2002 में एक विमान दुर्घटना में मौत हो गई थी। संजीव चावला दिल्ली में जन्मा एक कारोबारी है, जो 1996 में बिजनेस वीजा पर ब्रिटेन चला गया था, लेकिन उसका अक्सर भारत आना-जाना लगा रहता था।

BCCI ने की सट्टेबाजी को लीगल बनाने की वकालत, कहा- इससे भ्रष्टाचार पर लगेगी लगाम

एसीयू प्रमुख शेखावत का बयान ऐसे समय आया है, जब पिछले एक साल के दौरान कथित तौर पर सट्टेबाजों के राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों समेत 12 खिलाड़ियों से संपर्क करने की बात सामने आई है। संदिग्ध गतिविधि के कारण तमिलनाडु प्रीमियर लीग (टीएनपीएल) भी संदेह के दायरे में है।

ये पढ़ा क्या?
X