bhim army

गांव के बाहर ‘द ग्रेट चमार्स’ बोर्ड से चर्चा में आए थे भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद

साल 2011 में चंद्रशेखर हायर एजुकेशन के लिए अमेरिका जाना चाहते थे। लेकिन जब वे सहारनपुर के अस्पताल में अपने पिता का इलाज करा रहे थे तब उन्होंने दलितों पर अत्याचार की एक खबर पढ़ी। इसके बाद उन्होंने विदेश जाने का विचार छोड़ दलित एक्टिविस्ट बनने का फैसला किया।

कांशीराम के जन्मदिवस पर भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ने बनाई नई पार्टी, इस तरह बन गए सीएए विरोधी आंदोलन का चेहरा

खास बात है कि चंद्रशेखर आजाद ने अपनी पार्टी का गठन बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के संस्थापक कांशीराम के जन्मदिन के अवसर पर किया है।

कांशीराम की जयंती पर भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर लॉन्च करेंगे नई पार्टी, मायावती को नुकसान के आसार

भीम आर्मी अपने राजनीतिक संगठन के लिए तीन नामों पर विचार कर रहा है, यह हैं- आजाद बहुजन पार्टी, बहुजन आवाम पार्टी और आजाद समाज पार्टी।

RSS हेडक्वार्टर के सामने चंद्रशेखर आजाद ने मोहन भागवत को ललकारा- ‘आइए मनुवाद के एजेंडे पर चुनाव लड़कर दिखाइए’

संघ मुख्यालय के निकट यहां रेशीमबाग मैदान में भीम आर्मी कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए आजाद ने ‘‘मनुवाद’’ को खत्म करने के लिये संघ पर प्रतिबंध की मांग की।

RSS के स्मृति मंदिर के सामने रैली करेंगे भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर, पुलिस ने किया मना तो हाईकोर्ट से ले आए ऑर्डर

पुलिस ने बृहस्पतिवार अदालत में दाखिल शपथपत्र में कहा था कि जिस मैदान में संगठन ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (एनआरसी) का विरोध करने के लिए अनुमति मांगी है, वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के मुख्यालय के करीब है।

अगले दस दिन में देश में 5,000 और शाहीन बाग होंगे, जलियांवाला बाग के बाद सुना ऐसा नाम; भीम आर्मी चीफ बोले

Bhim Army Chief Chandrashekhar Azad: उपस्थित भारी भीड़ को संबोधित करते हुए दलित नेता ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) ‘‘काला कानून’’ है जो लोगों को धार्मिक आधार पर बांट रहा है ।

अदालत ने हमारी आजादी छीन ली’, दिल्ली छोड़ने से पहले बोले चंद्रशेखर- पहले काले कानून के खिलाफ लड़ना है

भीम आर्मी प्रमुख ने कहा कि, ‘‘सरकार काला कानून लाई हैं। मैं बताना चाहता हूं कि कोई कहीं नहीं जाएगा। सब यहीं रहने वाले हैं।’’ यह पूछे जाने पर कि वह राजनीतिक पार्टी का गठन कब करेंगे तो उन्होंने कहा, ‘‘यह बाद में होगा।

तिहाड़ में बंद Chandrashekhar Azad का AIIMS में करवाएं इलाज, कोर्ट ने कहा- जान बचाना राज्य का कर्तव्य

Bhim Army, Chandrashekhar Azad, AIIMS: मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट भीम आर्मी चीफ के वकीलों की याचिका पर सुनवाई कर रहे थे। जिन्होंने दावा किया था कि आजाद को दिल का दौरा पड़ने का खतरा है।

दरियागंज हिंसाः भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद भेजे गए तिहाड़ जेल, रहेंगे 14 दिन की रिमांड पर

इससे पहले, CAA के खिलाफ जामा मस्जिद से जंतर मंतर तक मार्च निकालने की घोषणा करने वाले आजाद पुलिसकर्मियों को झांसा देकर मस्जिद के अंदर दाखिल हुए थे, जबकि पुलिस उन्हें हिरासत में लेने के लिए उनकी घंटों तलाश करती रही थी।

‘एक लाख बार भी पैरों में गिर सकता हूं, हम मिल जाएं अगर तो नहीं चल पाएगी मोदी सरकार’, बोले- भीम आर्मी चीफ

हाल ही में भीम आर्मी के प्रमुख ने बसपा प्रमुख मायावती को पत्र लिखकर समर्थन मांगा था और साथ मिलकर लड़ने को कहा था। चंद्रशेखर ने मायावती को चिठ्ठी लिख सत्तारूढ़ बीजेपी से लड़ने के लिए एक साथ आने का प्रस्ताव भेजा था।

Bhim Army ने दिया अल्टीमेटम, कहा- 10 दिनों में रविदास मंदिर का मुद्दा नहीं सुलझा तो करेंगे भारत बंद का आह्वान

भीम आर्मी ने आजाद और अन्य प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी पर अपना पक्ष रखने के लिए शुक्रवार को महिला प्रेस क्लब (आईडब्ल्यूपीसी) में एक संवाददाता सम्मेलन आयोजित किया था लेकिन आईडब्ल्यूपीसी ने इसे रद्द कर दिया।

Bhim Army प्रमुख चंद्रशेखर को UP पुलिस ने हिरासत में लिया, रायफल बरामद

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को उनके समर्थकों के साथ हिरासत में लेकर जिले से बाहर कर दिया गया। इस दौरान आर्मी प्रमुख के पास से एक राइफल भी जब्त की गई।

Loksabha Elections 2019: प्रज्ञा ठाकुर के मुंह पर कालिख पोतने के लिए रखा था 5 लाख रुपये का ईनाम, भीम आर्मी का महाराष्ट्र चीफ गिरफ्तार

Loksabha Elections 2019: 49 वर्षीय ठाकुर को बीजेपी ने आम चुनाव के लिए मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से टिकट दिया है। चुनावी मैदान में उनकी टक्कर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह से है, जबकि भोपाल में 12 मई को वोटिंग है।

Lok Sabha Election 2019: मोदी की ‘बोटी-बोटी’ करने की धमकी दे चुके प्रत्याशी को समर्थन देगी भीम आर्मी

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): भीम आर्मी ने सहारनपुर में कांग्रेस प्रत्याशी इमरान मसूद को समर्थन देने का ऐलान किया। मसूद 2014 में सुर्खियों में रहे थे जब उन्होंने नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादास्पद बयान दिया था।

फिर जेल जाना पसंद करूंगा लेकिन बीजेपी को 2019 में सत्ता से उखाड़ फेकूंगा, रिहाई के बाद बोले चंद्रशेखर

चंद्रशेखर ने कहा कि बीजेपी सरकार डरी हुई थी क्योंकि सुप्रीम कोर्ट में कल सुनवाई होनेवाली है और वहां उसे मुंह की खानी पड़ती। यही वजह है कि अपने आप को बचाने के लिए सरकार ने जल्दी रिहाई का आदेश दे दिया।

भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर रावण होंगे रिहा- योगी सरकार का बड़ा फैसला

चंद्रशेखर रावण को रिहा करने की मांग को लेकर उनकी मांग राज्य सरकार से कई बार गुहार लगा चुकी है। इसके बाद राज्य सरकार ने ये फैसला लिय़ा है।