ताज़ा खबर
 

Babri Masjid

सुन्नी वक्फ बोर्ड पर भड़के कांग्रेस नेता राशिद अल्वी, बोले- सुप्रीम कोर्ट लगाए 5 करोड़ का जुर्माना

पूर्व सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राशिद अल्वी ने बोर्ड को निशाने पर लेते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट को उस पर पांच करोड़ रुपए का जुर्माना लगाना चाहिए।

अयोध्या में भू अधिग्रहण करे सरकार, ASI के मस्जिदों में भी नमाज शुरू हो, श्रीराम जन्मभूमि विवाद में मध्यस्थों का सुप्रीम कोर्ट में नया प्रस्ताव

इंडियन एक्सप्रेस को मिली जानकारी के अनुसार इस प्रस्तावित समझौते पर पहुंचने में करीब एक महीने का समय लगा है। संबंधित पक्षों ने इसके लिए दिल्ली और चेन्नई में दो या तीन बैठकें की।

Ayodhya Case: डिबेट में हिंदू धर्मगुरू ने इस्लामिक स्कॉलर को लताड़ा- बाबरी पर जाकर मत्था फोड़ लो, सुन्नी बोर्ड ने आपको नग्न कर दिया

लाइव डिबेट शो में हिंदू धर्मगुरु एच एस रावत ने पैनल में शामिल इस्लामिक स्कॉलर इलियास शराफद्दीन को जमकर खरी-खरी सुनाई। इस दौरान उन्होंने इस्लामिक स्कॉलर से यहां तक कह दिया कि जाइए और किसी पत्थर से अपना सिर फोड़ लीजिए आपको शर्म आनी चाहिए।

”एक विदेशी शासक आया और बोला मैं बाबर हूं, कानून मेरे नीचे”, अयोध्या केस में हिंदू पक्ष की SC से ‘गलती’ सुधारने की गुहार

Ayodhya Babri Masjid Case: परासरण ने आगे कहा कि ‘हिंदू सालों से राम जन्मभूमि के लिए संघर्ष कर रहे हैं। हिंदूओं के लिए यह राम का जन्मस्थान है। वहीं मुस्लिमों के लिए यह एक एतिहासिक मस्जिद है। मुस्लिमों के लिए सभी मस्जिद एकसमान होती हैं। लेकिन हम जन्मस्थान को नहीं बदल सकते।’

अयोध्या केस: वक्फ बोर्ड ने SC में माना- राम चबूतरा वाले स्थल पर हुआ था भगवान राम का जन्म

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली बेंच ने जानना चाहा कि 16 वीं शताब्दी में लिखे गए आइना-ए-अकबरी पुस्तक में मस्जिद का जिक्र क्यों नहीं है। इसी समयावधि में बाबरी मस्जिद का कथित तौर पर निर्माण किया गया था।

अयोध्या केस: मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी पर हमला, दी जान से मारने की धमकी!

अंसारी ने बताया कि मंगलवार दोपहर एक व्यक्ति और महिला उनके घर पर आए। उन्होंने कहा, ‘‘महिला ने वर्तिका के तौर पर खुद का परिचय दिया और दावा किया कि वह अंतरराष्ट्रीय शूटर है। उन्होंने मुझसे कहा कि मैं विवाद में से अपना दावा वापस ले लूं और ऐसा नहीं करने पर उसने धमकी दी कि वह मुझे गोली मार देगी।’

Babri Masjid Ayodhya Case: राजस्थान में नए राज्यपाल, कार्यपाल खत्म होने के बाद अब कल्याण सिंह कर सकते हैं आपराधिक मुकदमे का सामना

Babri Masjid Ayodhya Case in Supreme Court: संविधान के अनुच्छेद 361 के तहत राष्ट्रपति और राज्यपालों को उनके कार्यकाल के दौरान आपराधिक तथा दीवानी मामलों से छूट प्रदान की गई है।

Babri Masjid demolition case: दो हफ्ते में आदेश जारी करे उत्तर प्रदेश सरकार

विशेष न्यायाधीश से शीर्ष अदालत ने कहा है कि वे नौ माह के अंदर इस मुकदमे का फैसला सुनाएं। अदालत ने स्पष्ट किया था कि 30 सितंबर को सेवानिवृत्त हो रहे विशेष न्यायाधीश का कार्यकाल केवल इसी मामले की सुनवाई करने और फैसला सुनाने के लिए है। सेवा विस्तार के बाद भी वे इलाहाबाद हाई कोर्ट के प्रशासनिक नियत्रंण में बने रहेंगे।

‘जन्मस्थल दैवीय स्थल है और वहां पूजा नागरिक अधिकार’

वैद्यनाथन ने पीठ से कहा कि न तो निर्मोही अखाड़ा और न ही मुसलिम पक्ष प्रतिकूल कब्जा के कानूनी सिद्धांत के तहत अयोध्या में 2.77 एकड़ विवादित भूमि पर स्वामित्व अधिकार का दावा कर सकते हैं। विशारद ने विवादित स्थल पर पूजा-अर्चना के अपने अधिकार को लागू करने की मांग करते हुए 1950 में मुकदमा दायर किया था।

अयोध्या केस: SC में बोले रामलला के वकील- बाबरी से पहले हिंदू निर्माण के हैं सबूत

वरिष्ठ अधिवक्ता सी.एस वैद्यनाथन ने अदालत में कहा कि ‘एएसआई’ की रिपोर्ट में मगरमच्छ और कछुए की आकृतियों का जिक्र है, जिसका मुस्लिम संस्कृति से कोई लेना-देना नहीं है।

‘अयोध्या में राम मंदिर के लिए दूंगा सोने की ईंट’, मुगलों के वंशज की पेशकश

मुगल वंशल का कहना है कि साल 1529 में पहले मुगल बादशाह बाबर ने अपने सैनिकों को नमाज पढ़ने की जगह देने के लिए बाबरी मस्जिद का निर्माण कराया था। इसका निर्माण सिर्फ सैनिकों के लिए किया गया था।

अयोध्या विवाद: क्या विवादित स्थल पर मंदिर था? सुप्रीम कोर्ट में पांचवें दिन हुई सुनवाई

उच्च न्यायालय के न्यायाधीश एस यू खान ने अपने फैसले में कहा था कि मंदिर के अवशेषों पर मस्जिद का निर्माण किया गया। उच्च न्यायालय के सितंबर, 2010 फैसले के खिलाफ दायर अपीलों पर सुनवाई कर रही संविधान पीठ के अन्य सदस्यों में न्यायमूर्ति एस ए बोबडे, न्यायमूर्ति धनन्जय वाई चन्द्रचूड़, न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति एस अब्दुल नजीर शामिल हैं।

बाबरी केस के पक्षकार इकबाल अंसारी के घर पहुंचे महंत परमहंस दास, पढ़ी हनुमान चालीसा

हुनमान चालीसा पाठ के बाद उन्होंने कहा कि इस्लाम एक ऐसा मजहब है जो सभी धर्मों का सम्मान करता है। समाज सभी धर्मों से मिलकर चल रहा है चाहे वह कुरान हो या रामायण।

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, 2 अगस्त को होगी कोर्ट में सुनवाई

दो अगस्त को तय होगा कि रामजन्म भूमि और बाबरी मस्जिद विवाद के निपटारे के लिए नियमित सुनवाई कब से शुरू होगी।

Ayodhya Case: बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी बोले- पूजा करके जाएं प्रियंका, कांग्रेस के कारण नहीं हल हो पाया विवाद

Ayodhya Case: अंसारी आगे बोले, “60 साल हुकुमत थी कांग्रेस की, पर कोई विकास न हुआ। प्रियंका जी का दर्शन (मंदिर) चुनावी है। आज सरकार मोदी जी और योगी जी की है, तो विकास दिख रहा है।”

पूर्व सहयोगी का दावा- बाबरी मस्जिद का विध्वंस नहीं चाहते थे कल्याण सिंह

सिंह पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से नाखुश थे, जिसे लेकर उन्होंने राजस्थान के तत्कालीन सीएम भैरो सिंह शेखावत से फोन पर बात भी की थी। सिंह ने उनसे इस मसले पर अपनी पीड़ा और पार्टी के खिलाफ नाराजगी जाहिर की थी।

Ayodhya Ram Mandir-Babri Masjid Case: साधु ने कहा- कलाम के नाम पर मस्‍जिद बनाओ तो देंगे अयोध्‍या में जमीन

Ayodhya Ram Mandir-Babri Masjid Case Supreme Court: संत ने कहा कि वो कलाम को देशभक्त मानते हैं। वहीं उन्होंने मुगल बादशाह बाबर का जिक्र करते हुए कहा कि वह विदेशी था और ‘आतंकवादी’ था।

जिस मुस्लिम पुरातत्ववेत्ता ने बताया था बाबरी मस्जिद के नीचे था मंदिर, उसे भी मिला पद्म सम्मान

मुहम्मद का विचार है कि अयोध्या मुद्दे को उन लोगों से “बचाना” चाहिए, जो सोचते हैं कि ताजमहल शिव मंदिर है। उनका मानना है कि मुसलमानों को अयोध्या हिंदुओं को सौंप देना चाहिए क्योंकि उनके पास मक्का और मदीना है।