Aung San Suu Kyi

अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने म्यांमा में बदलावों को उल्लेखनीय बताया

अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने नोबेल पुरस्कार विजेता से कहा कि दशकों के सैन्य शासन के बाद उनके देश के लोकतंत्र की ओर बढ़ने से उम्मीद की एक किरण जगी है।

म्यांमा के राष्ट्रपति ने 83 कैदियों को दी माफी

लोकतंत्र की धुर पैरोकार सू की के पास अब भी प्रशाासन की बागडोर है लेकिन पूर्ववर्ती सैन्य शासन की एक व्यवस्था के कारण वह राष्ट्रपति नहीं बन सकीं।

म्यामां के राष्ट्रपति की प्रवक्ता बनेंगी सू ची

सैन्य शासन के समय अमल में आए संविधान के तहत सू ची राष्ट्रपति नहीं बन सकती हैं क्योंकि उनके रिश्तेदार विदेशी नागरिक हैं।

सू की के करीबी क्याव ने संभाली राष्ट्रपति की कमान

असैन्य शासन के नए युग का स्वागत करते हुए 69 साल के नए राष्ट्रपति हतिन क्याव ने ‘म्यांमा संघ के गणराज्य के अवाम के प्रति निष्ठावान’ रहने का संकल्प किया।

म्यांमा के सेना प्रमुख ने लोकतंत्र की वकालत की

म्यांमा के सेना प्रमुख ने कहा कि देश के लोकतंत्रीकरण में दो मुख्य बाधाएं हैं। पहली बाधा कानून और नियमों का पालन कराने में नाकामी तथा दूसरी बाधा सशस्त्र उग्रवादियों की मौजूदगी है।

मुस्लिम जर्नलिस्ट के इंटरव्यू लिए जाने पर भड़क गईं थीं नोबल शांति पुरस्कार विजेता सू की

एक किताब में दावा किया गया है, ‘उन्हें इंटरव्यू के बाद यह कहते हुए सुना गया किसी ने मुझे पहले क्यों नहीं बताया कि एक मुस्लिम मेरा इंटरव्यू लेगी।’

म्यांमार की राष्ट्रपति बनने पर पाबंदी, पर सू की बनेंगी विदेशमंत्री

एनएलडी प्रवक्ता जाउ एम. माउंग ने बाद में इस बात की पुष्टि की कि आंग सान सू च्यी विदेश मंत्रालय का नेतृत्व करेंगी और संकेत दिया कि वह अन्य भूमिकाएं भी निभाएंगी।

भारी जीत के बाद संसद में पहुंचीं सू की

आंग सान सू की की लोकतंत्र समर्थक पार्टी आम चुनाव में बड़ी जीत दर्ज करने के बाद सोमवार को संसद में लौट आई। जबकि सत्ता के हस्तांतरण को लेकर वह अब..

म्यांमा के राष्ट्रपति सू की को सत्ता सौपेंगे

म्यामां के राष्ट्रपति थेन सीन ने रविवार को कहा कि आम चुनाव में आंग सान सू की की पार्टी की मिली भारी जीत उनके नेतृत्व वाली मौजूदा सरकार के सुधारों का नतीजा है..

ऐतिहासिक बहुमत करेगा सू की की राह आसान

आंग सान सू ची की पार्टी ने सप्ताहांत पर हुए चुनावों में संसदीय बहुमत हासिल कर लिया है। शासन की बागडोर सेना के हाथ से निकलने पर म्यांमा में हो रहे इस ऐतिहासिक..

सू की को शांति से मिलेगी सत्ता, म्यांमा के राष्ट्रपति का वादा

म्यांमा के सेना प्रमुख के बाद अब देश के राष्ट्रपति ने भी आंग सान सू की की पार्टी को राष्ट्रीय चुनाव में भारी जीत हासिल करने पर बधाई दी है। राष्ट्रपति ने सत्ता के निर्बाध..

म्यांमा में नए युग का आगाज

म्यांमा में पच्चीस वर्ष बाद स्वतंत्र रूप से संपन्न हुए चुनाव में लोकतंत्र बहाली आंदोलन की नेता आंग सान सू की की पार्टी नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी (एनएलडी) की बढ़त.

आंग सान सू ची ने म्यामांर चुनाव में अपनी सीट बचाए रखी

म्यामां के चुनाव आयोग ने लोकतंत्र की हिमायती नेता आंग सान सू ची के अपनी ग्रामीण सीट पर कब्जा बरकरार रखने की बुधवार को घोषणा की। इस चुनाव में..

बदलाव की बयार

दशकों से फौजी हुकूमत के अधीन रहे म्यांमा में यह ऐतिहासिक घड़ी है, क्योंकि वहां लोकतंत्र की बहाली हो रही है। पिछले पच्चीस साल में वहां यह पहला आम चुनाव है जिसे दुनिया ने निष्पक्ष माना..

म्यांमा चुनाव: विपक्ष का आरोप, जानबूझकर परिणाम में देरी कर रहा है पैनल

म्यांमा के चुनावों में भारी जीत की ओर बढ़ती दिखाई दे रही विपक्षी पार्टी (एनएलडी) ने सरकारी चुनावी पैनल पर जानबूझकर नतीजों में देरी करने का आरोप लगाया है..

म्यांमार में बरसों बाद हुए आम चुनाव में 80 फीसद मतदान

म्यांमार के ऐतिहासिक आम चुनाव में बड़ी संख्या में लोगों के मतदान करने के बाद वोटों की गिनती शुरू हो गई है जो आंग सान सूची की लोकतंत्र समर्थक पार्टी को सत्ता में..

चुनाव में पार्टी जीती तो सरकार का नेतृत्व करूंगी: सूकी

म्यामां में लोकतंत्र की नायिका आंग सान सूकी ने गुरुवार को कहा कि अगर रविवार को हुए चुनाव में उनकी पार्टी जीतती है तो वह सरकार चलाएंगी..

म्यांमार की नेता सू ची ने मोदी से कहा, ‘भारत मेरा दूसरा घर’

ने पई ताव। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज नोबेल पुरस्कार विजेता और म्यांमार की विपक्ष की नेता आंग सान सू ची से मुलाकात की। इस दौरान सू ची ने भारत में बिताये अपने समय को याद करते हुए कहा कि भारत उनका दूसरा घर है। 69 वर्षीय लोकतंत्र समर्थक नेता सू ची से मोदी की […]

ये पढ़ा क्या?
X