anticipatory bail

हाईकोर्ट ने दे रखी थी अग्रिम जमानत, मजिस्ट्रेट ने जारी कर दिया गिरफ़्तारी वारंट, अब झेलना पड़ेगा एक्शन

आरोपी नानूराम सैनी और विनोद कुमार पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज हुआ था। इस मामले में दोनों ने साल 2003 में अग्रिम जमानत ली थी। इसके बाद अदालत ने इस साल सितंबर में इन दोनों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट भी जारी किया।

आज का राशिफल
X