AIIMS

दिल्ली: ठंड का बढ़ता असर, एम्स के बाहर इलाज के इंतजार में मरीज

एक मरीज के परिजन राजीव ने बताया कि वे उत्तर प्रदेश से इलाज के लिए आए कई दिन से एम्स में रोज लाइन लगा रहे हैं, पर कार्ड नहीं बन रहा है। यहां कहा जाता है कि पहले आनलाइन समय लो फिर परचा बनेगा। हम आनलाइन का कोई काम नहीं जानते।

फर्जी रिपोर्ट हाय हाय…सुधीर गुप्ता की रिपोर्ट हाय हाय- Republic टीवी पर नारेबाज़ी करने लगे अर्नब गोस्वामी

रिपब्लिक टीवी के शो पूछता है भारत में अर्नब गोस्वामी ने भड़कते हुए कहा- ‘सुधीर गुप्ता के पास कोई सबूत ही नहीं है ऐसा सुधीर गुप्ता कह रहे हैं..

सुशांत मामले में एम्स ने कहा- जानकारी सीबीआइ से लें, अस्पताल की रिपोर्ट पर विवाद

एम्स की ओर से गठित फोरेंसिक विशेषज्ञों के बोर्ड ने अपनी रिपोर्ट 29 सितंबर को सीबीआइ को सौंप दी है। सूत्रों के मुताबिक, इस रिपोर्ट में एम्स ने हत्या की आशंका से इनकार किया है, जबकि इससे पहले एम्स ने मौका-ए-वारदात से छेड़छाड़ किए जाने की बात कही थी।

कोविड-19 हर्ड इम्यूनिटी सिर्फ मिथ है? एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया बोले-अभी भी कम्युनिटी कोरोना संक्रमण का खतरा मौजूद

सीरो सर्वे में पता चला है कि अभी भी बड़ी आबादी में कोरोना वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी नहीं बनी हैं। जिसके कारण कम्यूनिटी संक्रमण का खतरा बना हुआ है।

एमके स्टालिन ने अमित शाह पर कसा तंज, कहा- हिंदी बचाने के बजाय कोरोना से लोगों की जिंदगी बचाएं

बता दें कि गृह मंत्री दो अगस्त को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, जिसके बाद उनका दूसरा टेस्ट 14 अगस्त को हुआ था। उनकी जांच रिपोर्ट तब निगेटिव आई थी।

Amit Shah Health Update: ‘3 दिन से थकान महसूस कर रहे थे अमित शाह’, AIIMS में भर्ती, वहीं से कर रहे दफ्तर का काम

Amit Shah Health News Live Updates: हाल ही में वह कोरोना को मात देकर अस्पताल से डिस्चार्ज हुए थे।

Corona Virus: AIIMS में COVAXIN का ट्रायल शुरू, 30 साल के शख्स को दी गई पहली डोज

एम्स में परीक्षण के लिए पिछले शनिवार से 3,500 से अधिक लोग अपना पंजीकरण करा चुके हैं जिनमें से कम से कम 22 की स्क्रीनिंग चल रही है। यह जानकारी एम्स में सामुदायिक चिकित्सा केंद्र के प्रोफेसर और मुख्य अध्ययनकर्ता डॉ संजय राय ने दी।

अब AIIMS डायरेक्टर ने माना ‘हुआ है लोकल कम्युनिटी स्प्रेड’, कोरोना वैक्सीन पर बताई ये बातें

डॉ. गुलेरिया ने कहा कि कुछ इलाकों में कोरोना संक्रमण अपने चरम को छू चुका है। दिल्ली में भी ऐसा लगता है क्योंकि अब यहां तेजी से मामले घट रहे हैं।

दिल्ली: Covid-19 संक्रमित पत्रकार की AIIMS में मौत पर उठे सवाल, वायरल व्हाट्सऐप चैट में हत्या की जताई थी आशंका; स्वास्थ्य मंत्री ने दिए जांच के आदेश

Coronavirus Covid-19 Journalist Tarun Sisodia Death Case: दिल्ली के भजनपुरा के रहने वाले तरुण सिसोदिया को लेकर कहा जा रहा है कि उन्होंने अपने इलाज के दौरान अस्पताल की खामियों को लेकर ऊपर तक आवाज उठाई थी।

अगले दो-तीन महीनों में और बढ़ सकता है कोरोना संक्रमण, AIIMS निदेशक ने चेताया

डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने अन्य राज्यों के मरीजों को दिल्ली आने से रोकने के लिए दिल्ली सरकार के बॉर्डर सील करने के फैसले की भी आलोचना की। एम्स निदेशक ने कहा कि यह अनैतिक है और ऐसे किसी मरीज को नहीं रोका जाना चाहिए।

एम्स के सीनियर डॉक्टर ने भारत में बने N95 मास्क की गुणवत्ता पर उठाए सवाल, अस्पताल प्रशासन ने भेजा ‘कारण बताओ नोटिस’

नोटिस में लिखा गया है कि “जब पूरा देश माहमारी से लड़ रहा है, ऐसे में निराधार बयान देना फ्रंटलाइन हेल्थकेयर वर्कर्स के हौंसले को नुकसान पहुंचा सकता है। इससे उनके मन में अपनी सुरक्षा को लेकर शक पैदा होगा।”

कोरोना पर हेल्थ एक्सपर्ट्स ने किया साफ- शुरू हो चुका है कम्युनिटी ट्रांसमिशन, महामारी रोकने में विशेषज्ञों से नहीं लिए गए सुझाव

जिन एक्सपर्ट्स की टीम ने यह दावा किया है उनमें AIIMS और ICMR के हेल्थ एक्सपर्ट्स भी शामिल हैं।

साफ हवा-पानी तक को तरस रहे डॉक्टर, डायपर में पेशाब करने को मजबूर! जानें कितनी मुश्किलें झेल हमें बचा रहे COVID-19 से

Corona virus in India: उन्होंने बताया कि एक बार आईसीयू में जाने के बाद हम पानी नहीं पी सकते और इसके अतिरिक्त हम कोई काम नहीं कर सकते। हमें 6-7 घंटे लगातार आईसीयू में रहना पड़ता है।

‘कोरोना की जंग में हम भूल चुके साफ हवा और पानी पीना, बाथरूम जाने से बचने को पहन रहे डायपर्स’

हमारे फिट हेडगेयर्स में हवा तो लीक नहीं होती, पर इस चक्कर में चंद मिनटों में सांस लेना मुश्किल हो सकता है। किट पहनने के बाद अंदर से काफी गर्म और घुटन सी महसूस होती है। ऊपर से जब गॉगल्स (किट में चश्मा) लगाते हैं, तब दिखाई भी नहीं देता।

कोरोना में खून पतला करने की दवा दे मरीजों की जान बचा रहे डॉक्टर, पर ICMR की गाइडलाइन में नहीं इसका जिक्र

ब्रिटेन, अमेरिका और इटली में कोरोनावायरस से मरने वाले ज्यादातर लोगों के फेफड़ों, किडनी या दिमाग में खून के थक्के पाए गए, इसे रोकने के लिए भारत में डॉक्टरों ने मरीजों को एंटी कॉग्युलेंट ड्रग देना शुरू किया।

Lockdown: 20 अप्रैल से AIIMS में शुरू होगा इलाज, प्रशासन ने रजिस्ट्रेशन के लिए रखी ये शर्त

राजधानी में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए एम्स ने ओपीडी सर्विस बंद कर दी थी। लेकिन अब कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों से इतर अन्य मरीजों के लिए 20 अप्रैल से नई व्यवस्था बनाई जा रही है। एम्स के इस फैसले के बाद मरीजों को राहत मिलेगी।

AIIMS Recruitment 2020: एम्स फैकल्टी के विभिन्न पदों पर नौकरी, Salary 2.20 लाख रुपए

AIIMS Recruitment 2020: प्रोफेसर के पद के लिए चुने जाने वालों को 2.20 लाख रुपये तक का वेतन मिलेगा। एडिशनल प्रोफेसर, सहयोगी प्रोफेसर और सहायक प्रोफेसर के स्तर पर क्रमशः 2.11 लाख रुपये, 2.09 लाख रुपये और 1.67 लाख रुपये तक वेतन मिलेगा।

AIIMS: ऑपरेशन से पहले पता चला फेफड़ा लगाने लायक नहीं

देश में पहला हृदय प्रत्यारोपण करने वाला एम्स अभी तक फेफड़े के प्रत्यारोपण के लिए अधीकृत नहीं था। हाल ही में इसके लिए लाइसेंस मिला है।

यह पढ़ा क्या?
X