Data powered by
Fri, 01:20 am
20 C
Sunny
Max: 31c
Min: 20c
Chances of rain: 0%
Humidity: 46%
Ambawadi S.O (Ahmedabad) 380006
Ambli B.O 380058
Amraiwadi S.O 380026
Anandnagar S.O (Ahmedabad) 380007
Asarwa Chakla S.O 380016
Asarwa Ext South S.O 380024
Ashram Road P.O 380009
Aslali S.O 382427
Azad Society S.O 380015
Bakrol B.O 382430
Bakrol B.O 382210
Bapunagar S.O 380024
Bareja S.O (Ahmedabad) 382425
Behrampura S.O 380022
Bhairavnath Road S.O 380028

इस ऐप का इस्तेमाल कोविड-19 रोगियों का डेटा अपलोड करने के लिए किया जा रहा है। ऐप के लिए सॉफ्टवेयर ArguSoft India Ltd ने बनाया है। इसके अध्यक्ष स्वास्थ्य और परिवार कल्याण की प्रमुख सचिव जयंती रवि के पति रवि गोपालन हैं।

Coronavirus, India Lockdown: देश में पहले 14 अप्रैल तक लॉकडाउन किया गया था और फिर बाद में इसे बढ़ाकर 3 मई तक कर दिया गया है।

मोटेरा बस्ती का झुग्गी झोपड़ी वाला यह इलाका शहर के नवनिर्मित मोटेरा स्टेडियम के नजदीक स्थित है। बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और पीएम मोदी मोटेरा स्टेडियम का उद्घाटन करेंगे।

पुलिस के मुताबिक आरोपी का नाम सुरेश है। वह अक्सर हंसा के साथ लड़ता-झगड़ता था और बार-बार उसे छोड़ने की धमकी देता था।

Porsche 911 Car Challan: बताया जा रहा है कि यह अब तक का सबसे बड़ा चालान है। बता दें कि हाल ही में देश में नए ट्रैफिक नियम लागू होने के बाद चालान की रकम को काफी बढ़ा दिया गया है।

अहमदाबाद में प्रदर्शन कर रही कांग्रेस का छात्र संगठन एनएसयूआई और भाजपा के छात्र संगठन एबीवीपी के बीच झड़प होने का मामला सामने आया है। इस दौरान छात्रों ने एक दूसरे लाठी डंडो से प्रहार किया है।

मामले में वाघेला के अलावा जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है उनकी पहचान मोहम्मद फारूक अब्दुल कुरैशी, फकरूद्दीन, दीपक जोशी, लखिवंदर सिंह एवं रामभाई गढ़वी के रूप में की गई है।

मौके पर मौजूद एक अन्य मजदूर नीलाम्बेन ने बताया, “दीवार ढह जाने के बाद आगे बढ़ने के लिए कोई जगह नहीं थी। दीताबेन का शव एक मशीन की मदद से बाहर निकाला गया था ”

मोटा कोठासाना गांव के संजयभाई रांछोदभाई परमार का आरोप है कि दबंगों ने उसको जान से मारने की धमकी दी, उसकी मूंछ उड़वाने के लिए विवश किया, उसकी पिटाई की और माफी मंगवाई।

गुजरात सरकार ने पूर्वी अहमदाबाद कैंपस में दिल्ली पब्लिक स्कूल से चलाए जा रहे नित्यानंद आश्रम की जांच में गंभीर अनियमितता मिलने की बात कही है।

Ahmedabad गुजरात प्रदेश का सबसे बड़ा शहर है। भारतवर्ष में यह नगर का सातवें स्थान पर है। 51 लाख की जनसंख्या वाला ये शहर, साबरमती नदी के किनारे बसा हुआ है। 1970 में गांधीनगर में राजधानी होने से पहले अहमदाबाद ही गुजरात की राजधानी हुआ करता था। अहमदाबाद को कर्णावती के नाम से भी जाना जाता है। प्रारम्भ में अहमदाबाद को अशावल कहा जाता था। इस शहार की बुनियाद सन 1411 में डाली गयी थी। शहर का नाम सुलतान अहमद शाह पर पड़ा था। इसी शहर में महात्मा गांधी ने साबरमती आश्रम की स्थापना की और स्‍वतंत्रता संघर्ष से जुड़ें अनेक आन्‍दोलन की शुरुआत भी यही से हुई थी। इस शहर को भारत का मेनचेस्टर भी कहा जाता है। शहर में दो झीलें हैं – कंकरिया और वस्त्रापुर तालाब. साबरमती नदी के गर्मी के मौसम में सूख जाने के कारण, नदी की जगह सफ़ेद मिट्टी रह जाती है।इस झील का निर्माण कुतुब-उद्-दीन ने 1451 ईसवी में करवाया था।